Vegetable Business Ideas | सब्जी का बिजनेस कैसे शुरू करें

Vegetable Business Sabji ka Business – कहा जाता है कि जीवित रहने के लिए खाना और पानी दोनों को जरूरत पड़ती है और अगर खाने की बात करें तो चावल , दाल के साथ सब्जियों की भी जरूरत पड़ती है जिसमें सब्जियों का इस्तेमाल हमलोग रोजाना करते है। ज्यादातर लोग ताजी सब्जियां खाना पसंद करते है । अगर बिजनेस के नज़रिए से देखा जाय तो सब्जी का बिजनेस सबसे ज्यादा चलने वाला बिजनेस है जिसकी आवश्यकता लोगों को रोजाना पड़ती ही है अतः इस बिजनेस में कभी भी मंदी नही आती है इसलिए आज हम आपको सब्जियों के बिजनेस की पूरी जानकारी विस्तार से देने वाले है।

सब्जियों के व्यापार की रूप रेखा

अगर आप भी Sabji ka Business करना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको यह तय करना होगा कि आपके बिजनेस की रूप रेखा क्या होगी मतलब आप सब्जियों के बिजनेस को दो तरीकों से शुरू कर सकते हैं। सब्जी का थोक व्यापार और सब्जी का रिटेल व्यापार । हालांकि इन दोनों तरीकों से  सब्जियों का व्यापार किया जा सकता है।  थोक में सब्जी का व्यापार करने से आपको पूंजी की ज्यादा आवश्यकता होती है परन्तु रिटेल में सब्जी बेचने के लिए आप अपने बजट के हिसाब से पूंजी लगा सकते हैं ।

अगर आप सब्जियों का थोक में व्यापार करना चाहते है तो इसके लिए आप डायरेक्ट किसानों से सस्ते दामों में सब्जियां लेकर मंडियों में बेच सकते है या यदि आपके पास पर्याप्त जगह है तो आप खुद भी खेती करके सब्जियों का थोक व्यापार भी कर सकते हैं। सब्जियों के व्यापार के लिए कुछ जरूरी बातों का आपको ध्यान देना पड़ता है।

  • बिजनेस के लिए इन्वेस्टमेंट

अगर आप खुद की खेती कर सब्जियां उगाना चाहते है और फिर उन सब्जियों का थोक व्यापार करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको जमीन की आवश्यकता पड़ेगी और इसके साथ ही साथ  बीज, रासायनिक खादों , कीटनाशक दवाओं और मजदूरों पर भी खर्च करना पड़ता है। इसके अलावा यदि आप चाहे तो किसानों से संपर्क कर डायरेक्ट उन्हीं से सब्जियां लेकर दूसरे मंडी में भी बेच सकते हैं। 

आपको किसानों से सस्ते दामों पर सब्जियां मिल जाती है। शुरूआत में आप अपनी जरूरतनुसार 5000 से 7000  तक का इन्वेस्टमेंट करके आसानी से सब्जियों के थोक व्यापार को शुरू कर सकते हैं और अगर आपका बजट ज्यादा है तो आप 20 से 30 हजार तक का इन्वेस्टमेंट कर सकते हैं। सब्जियों के थोक व्यापार के लिए आपको ज्यादा पूंजी की आवश्यकता पड़ती है।

यदि आप सब्जियों का रिटेल व्यापार करना चाहते है तो इसके लिए आपको ज्यादा पूंजी की जरूरत नही पड़ती है।  आप 4 से 5 हजार तक का इन्वेस्टमेंट कर आसानी से सब्जियों का रिटेल बिजनेस शुरू कर सकते है।  आप अपने बजट के अनुसार भी मंडी से सब्जियां खरीद सकते हैं।

  • व्यापार के लिए जगह  

थोक में Sabji का व्यापार करने के लिए आपको मंडी में जाकर सब्जियां बेचनी पड़ती है। इसके लिए आपको अपने आस पास की मंडी का पता लगाना होता है जहां आप सब्जियों को बिक्री करेंगे। अगर आप सब्जियों का रिटेल व्यापार करना चाहते है तो आपको इसके लिए एक दुकान की जरूरत पड़ती है जहां से आप सब्जियों की बिक्री करेंगे

अतः आपको ऐसी जगह दुकान शुरू करनी होगी जहां लोगों का जाना आना ज्यादा हो जैसे बाजार , रेसिडेंशियल एरिया या सड़क किनारे। इन इलाकों में लोग ज्यादातर सब्जियों के ख़रीद के लिए आते है। इसके अलावा आप किसी ठेले में भी सब्जियां रखकर डोर टू डोर सब्जियों को बिक्री कर सकते हैं। इसमें बिक्री होने की संभावना ज्यादा होती है ।

  • दुकान की सजावट

सब्जियों के थोक व्यापार में आप डायरेक्ट मंडी में जाकर सब्जियों की बिक्री करते है अतः यहां दुकान की सजावट जैसी चीजें नही लगती है परंतु  यदि आप रिटेल सब्जियों का व्यापार करना चाहते है तो आपको एक दुकान लेने की आवश्यकता तो पड़ती ही है साथ ही साथ दुकान की सजावट पर भी ध्यान देने की बहुत जरूरत पड़ती है। आप अपने दुकान को साफ रखें तथा सब्जियों को साफ सुथरे तरीके से रखें । सब्जियों को छोटी छोटी टोकरियों में डालकर रखें और समय समय पर उनमें पानी की छीटें डालते रहे इससे सब्जियां ताजी और साफ रहेंगी।

  • सब्जियां कहाँ से खरीदें

अगर आप सब्जियों का थोक व्यापार करना चाहते हैं तो डायरेक्ट किसानों से आप ताजी और सस्ती दामों पर सब्जी खरीद सकते है इससे आपका एक फायदा यह होता है कि मंडियों से सब्जी खरीदने पर आपको कुछ कमीशन मंडियों के आढ़तियों को देना पड़ता है। इसके अलावा मंडी में आपको बंद बोरियां मिलती है जिसके अंदर सब्जियों की सड़ी गली होने की संभावनाएं ज्यादा होती है। अतः प्रयास करें कि आप सब्जियां किसानों से ही लें  अथवा आप गांव की मंडी से सस्ते दामों पर सब्जियां लेकर शहरों की मंडी में बेच सकते हैं ।

यदि आप सब्जियों का रिटेल व्यापार करना चाहते हैं आपको पता करना होगा कि मार्केट में सब्जियों का क्या भाव चल रहा है। इस तरह आप कई मंडियों में जाकर पता कर सकते है और जहां आपको सब्जियां सस्ती मिलें वहां से सब्जियां लेकर अपने दुकान पा बिक्री कर सकते हैं। मंडियों में आपको सब्जी सस्ती और थोक दामों पर मिलती है अतः आप अपने बजट के अनुसार माल उठा कर सब्जियों का रिटेल व्यापार कर सकते हैं।

  • सब्जी बेचने के लिए लाइसेंस

किसी भी क्षेत्र में व्यापार करने के लिए आपको उस क्षेत्र से जुड़ी लाइसेंस लेने की आवश्यकता जरूर पड़ती है ठीक वैसे भी अगर आप सब्जियों का व्यापार बड़े पैमाने पर करना चाहते हैं तो आपको FSSAI एवं उद्योग आधार का लाइसेंस लेने की आवश्यकता पड़ती है ताकि आप अपने व्यापार को सुचारू रूप से चला सकें।

  • बची हुई सब्जियों की स्टोरेज की व्यवस्था

सब्जियों के थोक व्यापार में लाई गई सब्जियां तुरंत ही मंडी में बिक जाती है अतः इस व्यापार में स्टोरेज की जरूरत नही पड़ती है परंतु अगर आप सब्जियों का रिटेल व्यापार करना चाहते है तो आपको बची हुई सब्जियों के रख रखाव की व्यवस्था करनी पड़ेगी ताकि सब्जियां खराब न हो और कुछ दिनों तक ताजी बानी रहे। सब्जियों को ताजा बनाये रखने के लिए आप फ्रीज या कोल्ड स्टोरेज रूम का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके अलावा जितनी डिमांड हो उतनी ही सब्जियां खरीदें ताकि सब्जियों के बचने की आशंका बेहद ही कम रहे।

  • ग्राहकों को आकर्षित रखें

यदि आप सब्जियों का व्यापार करना चाहते है तो यह बहुत जरूरी होता है कि ज्यादा से ज्यादा ग्राहक आपकी दूकान पर आए इसके लिए आप कई तरह के तरीके आजमा सकते है। सबसे पहले आप मार्केट का सर्वे कर लें कि आपके आस पास की दुकानों पर सब्जियों का क्या रेट चल रहा है और कोशिश करें कि उससे कम ही रेट रखें परन्तु रेट कम करने के चक्कर में कभी भी सब्जियों की क्वालिटी खराब न रखे। जो सब्जियां सड़ गई है या थोड़ी सी खराब हो गई है उसे आप कम दामों पर बेचकर जल्दी हटा लें।

इसके साथ ही साथ हमेशा ताजी सब्जियां ही रखें क्योंकि लोग ताजी सब्जियां खाना ही पसंद करते है। आप अपने दुकान में तरह तरह की सब्जियां भी रखें ताकि ग्राहकों को वैरायटी के लिए कहीं और न जाना पड़े। अगर ग्राहकों को आपकी दुकान पर सारी किस्मों की सब्जियां मिल जाएंगी तो आपके ग्राहक बंध जाएंगे और नियमित रूप से आपके दुकान पर ही आया करेंगे। 

  • ऑनलाइन डिलीवरी की सुविधा

इस कोरोना काल में लोग बहुत कम ही घर से बाहर निकलना चाहते है अतः हर किसी को सारी चीजें ऑनलाइन ही चाहिए होती है इसलिए अगर आप अपने सब्जियों के व्यापार को बढ़ाना चाहते हैं तो ऑनलाइन डिलीवरी की सुविधा अपने आस पास के लोगों को दें । ऐसा करने से आपके ग्राहक बढ़ने के अवसर बढ़ जाते हैं।

सब्जियों के व्यापार से होने वाले लाभ (Vegetable Business Benefits)

सब्जियों का व्यापार काफी चलने वाला बिजनेस माना जाता है क्योंकि सब्जियां लोगों की पहली जरूरत है जिसके बिना खाना पकाने के बारे में सोचा भी नही जा सकता है । इस बिजनेस में आपको बहुत फायदा मिलता है।

  • कम पूंजी में भी सब्जियों का व्यापार कर सकते हैं।
  • इसके लिए किसी विशेष दुकान की भी जरूरत नही पड़ती है यदि आप चाहें तो ठेले में या किसी गाड़ी से भी सब्जी का व्यापार कर सकते है।
  • इस बिजनेस में कभी भी मंदी नही आती है बल्कि शादी व्याह और त्योहारों के मौके पर सब्जियों के दाम आसमान छूते हैं।
  • जिन सब्जियों की डिमांड ज्यादा होती है और पूर्ति कम रहती है वैसी सब्जियों को आप आसानी से ऊंचे दामों पर बेच सकते हैं जैसे कभी कभी बाजारों में प्याज की किल्लत हो जाने से प्याज के दाम बहुत ही ज्यादा बढ़ जाते है परन्तु लोग उसे खरीदना बंद नही करते हैं क्योकि प्याज खाना पकाने के लिए बहुत जरूरी होता है।
  • छोटी मोटी सब्जी दुकान के लिए किसी लाइसेंस की आवश्यकता भी नही पड़ती है।
  • इस बिजनेस में आपको अपने दुकान में ज्यादा व्यक्ति नियुक्त करने की भी आवश्यकता नही पड़ती है।

सब्जियों के बिजनेस में मुनाफा 

अगर मुनाफे की बात करें तो सब्जियों के बिजनेस में आप मनचाहा मुनाफा कमा सकते है। इसके लिए आपको ताजी सब्जियां रखनी होंगी और साथ ही साथ डिमांड वाली सब्जियां ज्यादा रखनी होंगी ताकि ज्यादा से ज्यादा आपके बिजनेस में लाभ हो। आपकी कमाई पूरी तरह से सब्जियों के बिक्री पर निर्भर करती है।

अन्य पढ़े :

फलो और सब्जियों के निर्यात (export) कैसे करें

फल की दुकान कैसे खोले

गांव में शुरू किये जाने वाला बिजनेस

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *