भारत में एक नया मेडिकल स्टोर कैसे खोलें | Medical Store Business Plan in Hindi

मेडिकल स्टोर कैसे खोलें | How To Open a Medical Store In Hindi 

आजकल ज्यादातर लोगों के मन में यह सवाल भी आता है कि हम मेडिकल स्टोर खोल लेते हैं, परंतु ज्यादातर लोगों को इस चीज के बारे में सही जानकारी नहीं होती जिसके कारण वह अपने सपने को साकार नहीं कर पाते हम आपको बता दें, कि मेडिकल की दुकान दूसरी दुकानों की तरह नहीं होती मेडिकल की दुकान खोलने के लिए आपको खासतौर पर पढ़ाई करनी होती है जिसके पश्चात ही आप मेडिकल की दुकान खोल सकते हैं। क्योंकि मेडिकल की दुकान पर अक्सर वह लोग भी आते हैं जिन्हें किसी विशेष रोग की दवाइयां चाहिए होती हैं। इसीलिए पहले आपको पढ़ाई करके सभी दवाइयों के बारे में अच्छे से जानकारी कथित करनी होती है उसके पश्चात ही आप मेडिकल स्टोर खोल पाते हैं 

भारत में दवा का इतना बड़ा इंडस्ट्री होने पर और इसकी मांग को देखते हुए आप मान सकते हैं के इसमें रोज़गार के भी ज़्यादा अवसर है। तो इस कड़ी में हम दवा से ही जुड़े बिजनेस के बारे में बताएंगे। आज हमारी इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको यही बताने वाले हैं, कि Medical Store Kaise Khole तथा Medical Store Kya Hai और Medical Store Kholne Ke Liye Kya Kare 

क्या होते हैं मेडिकल स्टोर

मेडिकल स्टोर भी आम दुकान की तरह है बस यहां डॉक्टर द्वारा लिखी हुई या दूसरे प्रकार से दवा मिलती है। यहां हर प्रकार के दवा ड्रग्स, या स्वास्थ से संबंधित हर प्रकार के समान मिलते हैं।

मेडिकल स्टोर कैसे खोले

यदि आप अपना खुद का मेडिकल स्टोर खोलना चाहते हैं तो मेडिकल स्टोर खोलने के 2 तरीके होते हैं। सबसे पहला तरीका तो यह है कि यदि आप बहुत बड़े स्तर पर मेडिकल स्टोर खोलना चाहते हैं, तो उसके लिए आप एक फार्मेसिस्ट ( Pharmacist ) को भी नियुक्त कर सकते हैं, जो कि आपका मेडिकल स्टोर चला सके परंतु ज्यादातर लोग तो यदि अपना मेडिकल स्टोर खोलना चाहते हैं तो वह इसके लिए विशेष रूप से एक पढ़ाई करते हैं, बहुत सी पढ़ाई ऐसी है जिन्हें करने के पश्चात आप आसानी से मेडिकल स्टोर खोल सकते हैं जैसे की D.Pharma, B.Pharma, M.Pharma यह तीनों कोर्स हैं, यदि इनमें से कोई भी कोर्स आप करते हैं तो उसके पश्चात आप मेडिकल स्टोर को खोल सकते हैं, अब हम आपको इन सभी कोर्स के बारे में विस्तार से बता देते हैं।

मेडिकल स्टोर खोलने के लिए किए जाने वाले जरूरी कोर्स

अगर आप भी मेडिकल व्यवसाय से जुड़ना चाहते हैं तो आपको यह जानना बेहद जरूरी हैं की मेडिकल की दूकान खोलने के लिए आपको कोनसी कोर्स करनी जरुरी है इस कोर्स के बिना आप मेडिकल स्टोर नहीं खोल सकते व लाइसेंस भी आपको नहीं मिल सकती है

B.pharma –

आप मेडिकल स्टोर खोलने के लिए बी फार्मा कोर्स भी कर सकते हैं, बी फार्मा कोर्स की फुल फॉर्म Bachelor Of Pharmacy होती है यह एक फार्मेसी का ग्रैजुएट कोर्स होता है, बी फार्मा कोर्स आप डी फार्मा कोर्स को करने के पश्चात कर सकते है, इस कोर्स को करने के लिए आपको पहले प्रतियोगी परीक्षा को पास करना होता है, क्योंकि बी फार्मा में एडमिशन लेने के लिए आपको सरकार के द्वारा निर्धारित की गई एक परीक्षा को पास करना होता है, उसके पश्चात ही आपको इसमें एडमिशन मिलता है, अगर कोई स्टूडेंट या कोई अन्य व्यक्ति जो भी मेडिकल खोलना चाहते हैं उनके लिए यह जरूरी कोर्स है। यह bachelor of pharmacy का कोर्स 3 साल का होता हैं। इस कोर्स को आप किसी भी मान्यता प्राप्त संस्थान से कर सकते हैं। इस कोर्स को करने के बाद आपको किसी भी प्राइवेट या सरकारी कंपनी या अस्पताल से 6 माह का प्रक्षिक्षण लेना अनिवार्य होता हैं।

D.Pharma –

डी फार्मा एक ऐसा कोर्स है जिसमें आपको दवाइयों के बारे में जान लिया जाता है यह Diploma In Pharmacy होता है, जिसको आप 12वी कक्षा के पश्चात कर सकते हैं परंतु 12वीं कक्षा आपको बायोलॉजी ( Biology ) सब्जेक्ट से पास करनी होती है, और 12वीं कक्षा में आपके कम से कम 50% अंक आने बहुत जरूरी होते हैं, और डी फार्मा कोर्स को आप प्राइवेट कॉलेज तथा सरकारी कॉलेज दोनों से ही कर सकते हैं।

M.Pharma –

एम फार्मा कोर्स एक मास्टर कोर्स होता है जिसे करने के पश्चात आपको दवाइयों की इतनी ज्यादा नॉलेज हो जाती है, कि आप मेडिकल स्टोर तो खोल ही सकते हैं इसके अतिरिक्त भी आपके पास बहुत से ऐसे ऑप्शन होते हैं जिनसे आप 1 महीने के लाखों रुपए कमा सकते है, इस कोर्स की फुल फॉर्म Master In Pharmacy होती है, परंतु इस कोर्स को करने से पहले आपको बी फार्मा कोर्स ( B.Pharma Course ) कोर्स करना होता है, उसके पश्चात या आप एम फार्मा कोर्स कर सकते हैं, या एक ऐसा कोर्स है जो हर कोई व्यक्ति नहीं कर सकता यहां तक पहुंचने के लिए आपको बहुत ज्यादा मेहनत करनी होती है, और एम फार्मा कोर्स करने के लिए आपको सरकारी प्रतियोगी परीक्षा पास करनी होती है उसके पश्चात ही आप यह कोर्स कर पाते हैं।

Pharma D –

इस कोर्स का पूरा नाम Doctor of pharmacy कहते हैं यह कोर्स 6 साल तक लंबा चलने वाला है।

उक्त में से किसी भी एक कोर्स को करने के बाद आपको एक मेडिकल का सर्टिफ़िकेट मिलता हैं जिसके साथ आप मेडिकल की स्टोर आसानी से खोल सकते हैं।

यह कोर्स करने के बाद राज्य की फार्मेसी काउंसलिंग में रजिस्टर करवाएं –

जब आप यह कोर्स कर लेते हैं, इसके पश्चात आप रजिस्टर्ड फार्मासिस्ट ( Registered Pharmacist ) बन जाते हैं, परंतु फिर इसके पश्चात आपको अपना मेडिकल स्टोर खोलने के लिए राज्य की फार्मेसी काउंसिल में रजिस्टर कराना होता है जो कि आप ऑनलाइन माध्यम से कर सकते हैं, इसकी अधिक जानकारी यूट्यूब से प्राप्त करके आप खुद भी रजिस्टर कर सकते हैं, जब आप यहां पर रजिस्टर कर देते हैं तो आपको अपने सभी डॉक्यूमेंट जमा कराने होते हैं, फिर उसके पश्चात आपके सभी डॉक्यूमेंट सरकार के द्वारा वेरीफाई किए जाते हैं।

मेडिकल स्टोर खोलने के नियम

अगर आप मेडिकल स्टोर खोलने की सोच रहे हैं तो आपको सबसे पहले किसी मान्यता प्राप्त कॉलेज से D.pharma, B.pharma, या M.Pharma का certificate होना चाहिए ये सर्टिफिकेट के आधार पे ही state Drugs standard control organization और  Central Drugs standard control organization द्वारा मेडिकल स्टोर खोलने की लाइसेंस दी जाती है।

बिजनेस entities का चुनाव

अगर आपके पास सर्टिफिकेट है और आप मेडिकल स्टोर खोलने जा रहे हैं तो आपको सबसे पहले अपने बिजनेस entities का चुनाव करना होगा यानी के आप किस प्रकार का बिजनेस स्टार्ट करना चाहते हैं जैसे LLP या pvt.ltd.

Pharmacy के प्रकार के चुनाव

Pharmacy के बहुत सारे प्रकार है जिसमें से आपको सेलेक्ट करना होता है के आप किस प्रकार के pharmacy चलाना चाहते हैं। फार्मेसी के कुछ प्रकार।

  1. community pharmacy
  2. chain pharmacy
  3. hospital pharmacy
  4. clinical pharmacy
  5. industrial pharmacy
  6. compounding pharmacy
  7. consulting pharmacy
  8. stand alone pharmacy
  9. ambulatory care pharmacy
  10. regulatory pharmacy
  11. Township pharmacy
  12. home care pharmacy

इन pharmacy के प्रकार में से 4 मुख्य हैं जो भारत में ज़्यादा प्रचलित है जिसे आप कर सकते हैं।

  • Hospital pharmacy

हॉस्पिटल फार्मेसी में आप किसी हॉस्पिटल में या हॉस्पिटल के आस पास मेडिकल स्टोर खोल कर वहां के डॉक्टर द्वारा लिखे दवा को हॉस्पिटल के पेसेंट को दिया जाता है।

  • Township pharmacy

टाउनशिप फार्मेसी के अंतर्गत आप किसी बस्ती में अपना मेफिकेल स्टोर खोल सकते हैं और वहां के लोगो को दवा प्रदान कर सकते हैं।

  • Stand alone pharmacy

स्टैंड अलोन फार्मेसी के अंतर्गत आप किसी रेजिडेंशियल एरिया या किसी गली मोहल्ले में अपना मेडिकल स्टोर खोल सकते हैं और वहां के लोगों को मेडिसिन मुहैय्या कर सकते हैं।

  • Chain pharmacy

चैन फार्मेसी में एक एक कंपनी का मेडिकल स्टोर कई शहरों में होता है। चैन फार्मेसी किसी भी बड़े कंपनी का फ्रेंचाइज़ी लेकर खोला जा सकता है।

लाइसेंस लेने के लिए आवश्यक डॉक्यूमेंट

  • Application form
  • Pharmacist Living certificate
  • 10th passing certificate
  • Id Proof
  • Pharmacist Marksheet
  • Experience certificate or college training certificate
  • Proof of ownership
  • Site Plan
  • Challan of the fee deposited for registration (3000)
  • And documents of registered pharmacists etc.

लाइसेंस लेने की प्रक्रिया

इन सब डॉक्यूमेंटेशन प्रक्रिया को पूरा करने के बाद सब डॉक्यूमेंट के साथ अपने राज्य के state Drugs standard control organization के पास अप्लाई करें वहां आपको 3000 तक रजिस्ट्रेशन फीस लगेगा। सारी प्रक्रिया सफलतापूर्वक होने पर आपको 3 महीने के अंदर आपके दिए हुए पते पर आपका लाइसेंस पहुंच जाएगा।

मेडिकल स्टोर खोलने के लिए और किन चीजों की आवश्यकता होगी

  • मेडिकल स्टोर खोलने के लिए अच्छा सा स्थान का चुनाव करे
  • मेडिकल store के लिए काम से कम 10 square meter का जगह होना चाहिए
  • शॉप अच्छी तरह से फर्निशिंग वर्क होना चाहिए
  • शॉप में एक Ac लगवाए क्यों के दवा वाले स्थान पे ज़्यादा गर्मी नही होने चाहिए
  • दवा रखने के लिए फ्रिज लें क्यों के दवा को क्लाइमेट के अनुसार स्टोरेज करना बहुत ज़रूरी होता है।

मेडिकल स्टोर के लिए कहां से ले माल

इन सब प्रक्रिया को पूरा करने के बाद बात आती है के अपने शॉप में दवा का स्टोरेज रखें अब इसके लिए माल कहां से लें तो इसके लिए आप होलसेल मार्केट से ले सकते हैं क्यों के हर शहर में दवा का होलसेल मार्केट होता ही है तो आप वहां से दवा ले सकते हैं। इसके अलावा हर मार्केट में अलग अलग कंपनी के MR होते हैं जिनसे आप संपर्क कर आप अपने शॉप पे उनसे माल ले सकते हैं। या आप चाहे तो ऑनलाइन भी दवा मंगवा सकते है। BAHUT सारी कंपनियां ऐसी है जो ऑनलाइन आर्डर लेकर दिए हुए पते पर दवा भेज देती है।

कैसे बढ़ाएं सेल को

  • अपने सेल को बढ़ाने के लिए ज़्यादा से ज़्यादा अपने आस पास के डॉक्टर से संपर्क करें और उन्हें अपने शॉप का दवाई लिखने को बोलें। जिससे वो पेशेंट को आपके शॉप पे रेफर करेंगे दवा लेने के लिए जिसके लिए वो आप से कुछ कमीशन लेंगे।
  • मेडिकल लाइन ऐसा लाइन है जिसमें आपको छोटे मोटे गांव से लेकर हर चौक चौराहा पे छोटे मोटे डॉक्टर रहते ही हैं और उनका गांव मोहल्ले में ज़्यादा पकड़ रहता है। तो वैसे डॉक्टर से संपर्क कर अपने यहां से दवा लेने के लिए ऑफर करें।
  • दवा स्टोरेज में ज़्यादा से ज़्यादा प्रकार के दवा को मेन्टेन रखना एक चैलेंजिंग काम होता है। हर डॉक्टर का लिखा हुआ हर प्रकार का दवा होता है। इसलिए ज़्यादा से ज़्यादा प्रकार के दवा अपने शॉप में रखें और मार्केट ऐसा इमेज बनाए के आपके पास हर प्रकार के दवा मिलते हो।

मेडिकल स्टोर खोलने में कितनी आएगी लागत

मेडिकल स्टोर ऐसा बिजनेस है जो खुद पर  निर्भर करता है के आपका बज़ट क्या है क्योंके मेडिकल स्टोर कम लागत से लेकर ज़्यादा लागत लगा कर भी स्टार्ट कर सकते है जिसकी कोई सीमा नही है। वैसे इस धंधे से जुड़े एक्सपर्ट के अनुसार आप 5 लाख तक लगा कर एक अच्छा सा मेडिकल स्टोर खोल सकते हैं।

मेडिकल स्टोर से प्रॉफिट मार्जिन 

मेडिकल खोलने के बाद अगर इससे कमाई की बात करते है तो इनको हम 2 भागों मे बाँट सकते है जिसमे पहला है जेनेरिक दवाइयों मे प्रॉफिट मार्जिन ओर इथिकल दवाइयां जैसे मैनकाइंड कंपनी के प्रोडक्ट इत्यादि। जेनेरिक दवाइयाँ अगर आप बेचते है तो आपको करीब 30-45 प्रतिशत तक का मार्जिन होता है वही इथिकल दवाइयां की बात करे तो इसमे आपको मार्जिन कम्पनी के हिसाब से तय होता है जो 10-20 प्रतिशत के मध्य रहता है। सलाह यह है की आप जेनेरिक ओर इथीकल दोनो प्रकार की दवाइयाँ बेचे।

मेडिकल स्टोर से महीने की इनकम

अगर आप भी मेडिकल स्टोर खोलने के बारे में सोच रहे है तो आपको यह भी जानना जरूरी होती है की मेडिकल से आपको महीने की कितनी इनकम होती है। मेडिकल स्टोर के महीने की इनकम की बात करे तो आपको इससे लगभग 30-45 हजार रूपये तक की होती है। मेडिकल स्टोर से कमाई इस पर निर्भर करती है आप कितनी दवाइयाँ बेचते है व कैसे बेचते है।

मेडिकल स्टोर कैसे चलाएँ

अगर आप भी मेडिकल का स्टोर खोलते है ओर आपको इस चीज का नही पता की आप मेडिकल स्टोर कैसे चलाये तो हम आपको कुछ आसान से टिप्स बता रहे है जिससे आप आसानी से अपने मेडिकल स्टोर व मेडिकल के व्यवसाय को बढा सकते है।

एरिया : मेडिकल स्टोर किसी ऐसे क्षेत्र मे खाले जहा आसपास अस्पताल या कोई क्लिनिक हो क्योंकि ज्यादातर मरीज अस्पताल ही जाते है तो आपके लिए यह बेहतर होगा की आप किसी अच्छे व सुरक्षित क्षेत्र मे अपनी दुकान खोले।

डाक्टर से टाई अप : अगर आपकी दुकान किसी अस्पताल के पास है तो आपके लिए यह जरूरी होगा की आप अस्पताल के डॉक्टर से टाई अप कर ले क्योंकि वह डॉक्टर आपके लिए रोगियो को आपकी दुकान के लिए रैफर करते है।

लोकल क्लिनिकल से टाई अप : जिस तरह आप किसी डॉक्टर से टाई अप करते है उसी प्रकार आपको सलाह दी जाती है कि आप अपने नज़दीकी क्लिनिकल से टाई अप करे क्योंकि वो भी आपके लिए कस्टमर रैफर करते है।

लोकल विज्ञापन : अगर आप अपने व्यवसाय को बढाना चाहते है तो आपको यह भी सलाह दी जाती है कि आप अपने लोकल एरिया मे विज्ञापन व प्रसार प्रचार कर सकते है, इससे आपके दुकान की विजेब्लिटी बढेगी वही लोकल कस्टमर भी आयेंगे।

मेडिकल स्टोर खोलने के लिए कितने एरिया की आवश्यकता होती है

अगर आप भी मेडिकल स्टोर खोलने की सोच रहे है आपको कुछ बातो का ध्यान रखना चाहिए। वैसे तो ऐसा कोई फिक्स नियम नही है की मेडिकल स्टोर के लिए आपको कितनी जगह की आवश्यकता होती है परन्तु कुछ टिप्स जो हम आपको बता रहे है वो जरूर ध्यान रखें

अगर आप एक होलसेल दुकान खोल रहे तो उसके आपको कम से कम 130 Sq. Feet बडी दुकान की आवश्यकता होती है अगर आप एक रिटेल की दुकान खोल रहे है तो उसके लिए आपको कम से कम 110 Sq. Feet दुकान की आवश्यकता होती है। दुकान के आसपास प्रोपर पार्किंग की सुविधा भी होनी चाहिए।

क्या दूसरे के मेडिकल लाइसेंस से मेडिकल स्टोर खोल सकते है?

अगर आप भी जानना चाहते है की क्या दूसरों के मेडिकल लाइसेंस से आप अपनी मेडिकल की दुकान खोल सकते है तो आपको बता दे की यह पूरी तरह अनलिगल है या वैध नहीं है। अगर आपके पास खुद का मेडिकल का सर्टिफिकेट नहीं है तो आप अपना खुद का मेडिकल स्टोर नही खोल सकते है। ऐसा अगर आप करते है तो यह पूरी तरह गलत है ओर खास कर मेडिकल लाइन मे जहा आप लोगो के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ करते है। तो ऐसा बिलकुल न करे ओर क्योंकि ऐसा करने से हो सकता है की आपके खिलाफ कानूनी कार्यवाही भी हो।

मेडिकल कौन खोल सकता है ओर कौन नही

अगर आप यह जानना चाहते है की कौन मेडिकल खोल सकता है ओर कौन नही तो आपको बता दे की मेडिकल खोलने के लिए फार्मासिस्ट का सर्टिफिकेट होना चाहिए जो की आवश्यक है। इस लेख मे पूर्व मे बताया गया है की आप मेडिकल का सर्टिफिकेट कैसे ले सकते है ओर आपको क्या करना पडता है वो आप उपर वाले टाॅपिक्स मे पढ सकते है।

निष्कर्ष

हम उम्मीद करते हैं कि Medical Shop Kaise Khole यह आपको पता लग गया होगा इसके साथ-साथ हमने आपको यह भी बताया है, कि  Medical Shop Kholne Ke Liye Kya Kare और इसी के साथ-साथ हमने आपको Medical Shop Kholne Ka Process In Hindi यह भी बताया यदि अभी भी आपको इस आर्टिकल से संबंधित कोई प्रश्न पूछना हो, तो आप कमेंट सेक्शन में कमेंट कर सकते हैं। धन्यवाद

अन्य पढ़े :

घर बैठे ऑनलाइन बिज़नेस कैसे करें

जानिए रेलवे स्टेशन पर दुकान कैसे खोले

मोबाइल की दुकान कैसे खोले

75 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: