भारत में एक नया मेडिकल स्टोर कैसे खोलें? Medical Store Business Plan in Hindi

Medical Store Kaise Khole, medical kholne ke liye kya kare? भारत में मेडिकल की दुकान कैसे खोलें | दवाई की दुकान कैसे खोलें | बिना डिग्री के मेडिकल स्टोर कैसे खोले? Medicine Store Kaise Shuru Kare | How To Open Medical Store in Hindi | Medical store business in hindi, How To Open Medical Store In Hindi.

Medical Store Business Plan in Hindi – अगर आप बिजनेस करना चाहते हैं और किसी अच्छे बिजनेस आईडिया के बारे में सोच रहे हैं तो दवाइयों का बिजनेस एक बेहतरीन बिजनेस आईडिया है। चाहे सर्दी हो या गर्मी दवाइयों की दुकान कभी भी बंद नही होती है। अगर देखा जाए तो दवाइयां हमारे जीवन का एक महत्त्वपूर्ण हिस्सा है। हल्की सी खांसी हो या कोई बड़ी बीमारी दवाइयों की जरूरत सबसे पहले पड़ती है इसलिए यह काफी चलने वाला बिजनेस माना जाता है। अतः आप भी एक मेडिकल स्टोर खोल कर अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं

आजकल ज्यादातर लोगों के मन में यह सवाल आता है की Medical Store Kaise Khole? Medical store kholne ke liye kya karna hoga? परंतु लोगों को इस चीज के बारे में सही जानकारी नहीं होती जिसके कारण वह अपने सपने को साकार नहीं कर पाते हम आपको बता दें, कि मेडिकल स्टोर दूसरी अन्य दुकानों की तरह नहीं होती मेडिकल की दुकान खोलने के लिए विशेष रूप से एक पढ़ाई करनी होती है जैसे की जिसके पश्चात ही आप मेडिकल की दुकान खोल सकते हैं।

Medical Store Kaise Khole? इससे पहले कुछ बातों का आपको ध्यान रखना बहुत जरूरी होता है जिसके बारे में आगे हम आपको विस्तार से बताने वाले हैं।

Table of Contents

Medical Store या फार्मेसी बिजनेस क्या है?

मेडिकल स्टोर फार्मेसी बिजनेस उसे कहते है जहां आपको डॉक्टर द्वारा लिखी हुई दवाइयाँ मिलती है। यहां हर प्रकार के दवा ड्रग्स, या स्वास्थ से संबंधित समान मिलते हैं। इसके अलावा आप मेडिकल स्टोर से बिना पर्ची की कुछ सामान्य दवाईयां भी खरीद सकते हैं। यहाँ आपको मेडिकल से जुड़ी अन्य चीजें भी मिल जाती है।

यह भी पढ़े : दवाइयों का होलसेल बिजनेस कैसे शुरू करें

भारत में अपना मेडिकल स्टोर कैसे खोलें? (How to open Medical Store in India)

यदि आप अपना खुद का मेडिकल स्टोर खोलना चाहते हैं तो मेडिकल स्टोर खोलने के 2 तरीके होते हैं। सबसे पहला तरीका तो यह है कि यदि आप बहुत बड़े स्तर पर मेडिकल स्टोर खोलना चाहते हैं, तो उसके लिए आप एक फार्मेसिस्ट (Pharmacist) को भी नियुक्त कर सकते हैं, जो कि आपका मेडिकल स्टोर चला सके

परंतु ज्यादातर लोग तो यदि अपना मेडिकल स्टोर खोलना चाहते हैं तो वह इसके लिए विशेष रूप से एक पढ़ाई करते हैं, बहुत सी पढ़ाई ऐसी है जिन्हें करने के पश्चात आप आसानी से मेडिकल स्टोर खोल सकते हैं जैसे की D.Pharma, B.Pharma, M.Pharma यह तीनों कोर्स हैं, यदि इनमें से कोई भी कोर्स आप करते हैं तो उसके पश्चात आप मेडिकल स्टोर को खोल सकते हैं, 

मेडिकल स्टोर खोलने के कुछ प्रोसेस होते है जिसके द्वारा एक मेडिकल स्टोर खोला जाता है।

मेडिकल स्टोर खोलने के लिए आपको एक प्रोसेस को सही तरह से फॉलो करना होता है जिसके बारे में हम जानकारी निम्नलिखित दे रहे हैं

1) मेडिकल स्टोर के लिए योग्य डिग्री व डिप्लोमा करना

यदि आप अपना मेडिकल स्टोर खोलना चाहते हैं तो इसके लिए आपके पास जरूरी डिग्री होनी चाहिए। ड्रग लाइसेंस हासिल करने के लिए जरूरी है कि आपने फार्मा में ग्रेजुएशन किया हो। लेकिन अगर आपके किसी दोस्त या जाने वाले के पास बी फार्मा की डिग्री है तो आप तब भी उसके द्वारा मेडिकल स्टोर खोलने के लिए ड्रग लाइसेंस हासिल कर सकते हैं। 

2) Medical store खोलने के लिए जगह का चयन 

एक मेडिकल स्टोर खोलने के लिए आपको अच्छी जगह का चुनाव करना पड़ता है। ऐसी जगह का चयन करें जहां पर बूढ़े और छोटे बच्चों की संख्या ज्यादा हो। ‌ऐसा इसलिए है क्योंकि इस उम्र के लोग आमतौर पर ज्यादा बीमार पड़ते हैं। इसके अलावा मेडिकल स्टोर खोलने के लिए सबसे बेहतरीन जगह हॉस्पिटल या किसी डॉक्टर के क्लिनिक के पास की जगह होती है क्योंकि वहां लोगों को ज्यादा दवाइयों की जरूरत होती है ऐसे में आपके मेडिकल स्टोर चलने के अवसर ज्यादा होते है।

इसके अलावा आप रोड साइड या मार्केट जैसी जगहों पर जहाँ लोगो की भीड़ भाड़ ज्यादा हो वहा पर भी मेडिकल स्टोर खोल सकते हैं।आप यह भी देखें कि जिस लोकेशन में आप मेडिकल स्टोर खोलने के इच्छुक हैं वहां पर कितने मेडिकल स्टोर पहले से खुले हुए हैं। अगर वहां पर बहुत ज्यादा मेडिकल शॉप है तो तब आप किसी दूसरी जगह का चयन करें।

3) मेडिकल स्टोर से जुड़े रजिस्ट्रेशन व लाइसेंस बनवाना

आप बिना रजिस्ट्रेशन और लाइसेंस के मेडिकल स्टोर नहीं खोल सकते। ‌इसके लिए आपको VAT (Value Added Tax) रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। जानकारी के लिए बता दें कि अपने रजिस्ट्रेशन के लिए आपको दिल्ली वैट रजिस्ट्रेशन की आधिकारिक वेबसाइट के ऊपर जाकर अपना रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। साथ ही आपको जीएसटी के लिए भी रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। इसके अलावा अपने फार्मेसी को शुरू करने के लिए आपको ड्रग लाइसेंस भी लेना होगा। आपको जानकारी के लिए बता दें कि Drug And Cosmetic Act 1940 के अंतर्गत इस नियम को आप पूरे इंडिया में लागू कर दिया गया है। तो आपको ड्रग लाइसेंस लेने के लिए अपने राज्य के State Drug Standard Control Organisation (SDSCO) से करना होगा।

4) मेडिकल स्टोर का सेटअप करना

अब अपने मेडिकल स्टोर का अच्छी तरह से सेटअप करें। फार्मेसी में जिस भी सामान की जरूरत हो उस सबकी लिस्ट बनाएं जो जरूरी है। इस बात का विशेषतौर पर ध्यान रखें कि आपके मेडिकल स्टोर में सभी दवाइयां सही तरीके से व्यवस्थित हो। सभी दवाइयों को कैटेगरी वाइज रखें जिससे कि आपको उन्हें ढूंढने में कोई समस्या ना हो। 

5) मेडिकल किट व दवाइयों का खरीद करना

अब उन सभी मेडिकल दवाइयों की सूची बनाएं जिनको आप अपनी फार्मेसी में रखनें के इच्छुक हैं। इस बात का विशेष ध्यान रखें कि कोई भी दवाई छूटने ना पाए। आपके मेडिकल स्टोर पर अगर कोई व्यक्ति मेडिसिन खरीदने आए तो वह वापस नहीं जाना चाहिए। 

6) दवाइयों को आवश्यकतानुसार बेचना

अब अपनी दवाइयों को आप आवश्यकता के अनुसार दे सकते हैं यानी कि जो भी लोग आपसे मेडिसिन खरीदने आए आप उन्हें सेल कर दें।

7) मुनाफा कमाना

आपका मेडिकल स्टोर सेट हो गया है इसलिए अब आप इससे मुनाफा कमा सकते हैं। लेकिन एक बात का ध्यान रखें कि अपनी फार्मेसी में कोई भी दवाई एक्सपायर ना रखें। इसलिए हमेशा जब भी किसी को दवाई दे उसे अच्छे से चेक करने के बाद ही दें।

यह भी पढ़े : जेनेरिक मेडिकल स्टोर कैसे खोले?

अगर आप भी मेडिकल व्यवसाय से जुड़ना चाहते हैं तो आपको यह जानना बेहद जरूरी हैं की मेडिकल स्टोर खोलने के लिए क्या करना पड़ता है? आपको कोनसी कोर्स करनी जरुरी है इस कोर्स के बिना आप मेडिकल स्टोर नहीं खोल सकते व लाइसेंस भी आपको नहीं मिल सकती है

Medical Store Kaise Khole?

अगर आप मेडिकल स्टोर बिजनेस को बड़े पैमाने पर शुरू करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको आवश्यक डिग्री लेनी पड़ती है और Medical store ke liye course करने पड़ते है । चूंकि आप दवाईयों से जुड़ा बिजनेस कर रहे है जो मनुष्य के स्वास्थ्य से जुड़ा होता है अतः आपको इसके बारे में पूरी जानकारी जरूर होनी चाहिए तभी आप खुद का मेडिकल स्टोर खोल सकते हैं। मेडिकल स्टोर खोलने के लिए कौन सी डिग्री चाहिए इसके लिए आपको कौन से कॉर्स करने पड़ेंगे उसके बारे में आगे हम आपको बताने वाले हैं।

Medical Store Kholne Ke Liye Qualification 

1) D Pharma (Diploma in pharmacy)

Diploma in pharmacy कोर्स को करने के लिए आपको 12th की परीक्षा किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से मेडिकल ( फिजिक्स , केमिस्ट्री, मैथमेटिक्स या बॉयोलॉजी) लेकर पास करना होगा और उसमें आपके नंबर 50% होने चाहिए । यह डिप्लोमा कोर्स 3 साल का होता है। यदि आप खुद का मेडिकल स्टोर खोलना चाहते हैं तो यह सबसे बेहतरीन तरीका है। इसमें आपको 3 महीने के लिए किसी सरकारी हॉस्पिटल में अच्छे experience  के लिए रखा जाता है।

2) B Pharma (Bachelor of pharmacy)

आप मेडिकल स्टोर खोलने के लिए बी फार्मा कोर्स भी कर सकते हैं Bachelor of pharmacy  करने के लिए आपको 12th की परीक्षा किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से मेडिकल ( फिजिक्स , केमिस्ट्री, मैथमेटिक्स या बॉयोलॉजी) लेकर पास करना होगा और इसके लिए भी आपके नंबर 50% होने चाहिए। यह 3 साल का कोर्स होता है । इस कोर्स को आप किसी भी मान्यता प्राप्त संस्थान से कर सकते हैं। इस कोर्स को करने के बाद आपको किसी भी प्राइवेट या सरकारी कंपनी या अस्पताल से 6 माह का प्रक्षिक्षण लेना अनिवार्य होता हैं।

3) M Pharma (Master of pharmacy)

एम फार्मा कोर्स एक मास्टर कोर्स होता है जिसे करने के पश्चात आपको दवाइयों की इतनी ज्यादा नॉलेज हो जाती है, कि आप मेडिकल स्टोर तो खोल ही सकते हैं इसके अतिरिक्त भी आपके पास बहुत से ऐसे ऑप्शन होते हैं जिनसे आप 1 महीने के लाखों रुपए कमा सकते है Master of pharmacy  कोर्स आप B pharma  कोर्स के बाद ही कर सकते है और इसके लिए आपको B pharma  कोर्स में 50 % से ज्यादा नंबर लाने होते हैं। यह 2 साल का कोर्स होता है। 

4) Pharma D (Doctor of pharmacy)

Pharma Dकरने के लिए आपको 12th की परीक्षा किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से मेडिकल ( फिजिक्स , केमिस्ट्री, मैथमेटिक्स या बॉयोलॉजी) लेकर पास करना होगा। यह पूरे 6 साल का कोर्स होता है। इस कोर्स को करने के बाद आप बड़े लेवल पर मेडिकल स्टोर चला सकते हैं।

भारत में आप किन किन तरीकों से मेडिकल स्टोर खोल सकते हैं (Types of Pharmacy Business)

अगर आप मेडिकल स्टोर खोलना चाहते है तो आप कई तरीके से इस बिजनेस को शुरू कर सकते हैं जिसके बारे में आगे हम आपको बताने वाले हैं।

  • हॉस्पिटल फार्मेसी (Hospital pharmacy) 

इस प्रकार की फार्मेसी किसी हॉस्पिटल के अंदर खोली जाती है। जहां उस हॉस्पिटल के डॉक्टर द्वारा लिखी गई दवाईयां मरीजों को दी जाती है।

  • टाउनशिप फार्मेसी (Township Pharmacy)

टाउनशिप फार्मेसी के अंतर्गत आप किसी बस्ती में अपना मेडिकल स्टोर खोल सकते हैं और वहां के लोगो को दवा प्रदान कर सकते हैं।

  •  चेन फार्मेसी (Chain pharmacy)

इस प्रकार की फार्मेसी में एक ही कंपनी के अलग अलग शहरों में कई मेडिकल खुले हुए रहते हैं। जैसे अपोलो फार्मेसी (Apollo pharmacy) , हरबोटेक इंडिया ( herbotech India) , संजीवनी फार्मा (Sanjivani pharma ) आदि।

  • स्टैंड अलोन फार्मेसी (Stand alone pharmacy)

इस प्रकार की फार्मेसी में लोक रेसिडेंशियल एरिया या मुहल्ले में अपना खुद का मेडिकल स्टोर चलाते है जो आपको ज्यादा देखने को भी  मिलता है।

यह भी पढ़े : भारत में आयुर्वेदिक मेडिकल स्टोर कैसे खोलें?

मेडिकल स्टोर के लिए कुछ लाइसेंस व रजिस्ट्रेशन अनिवार्य होते है

मेडिकल स्टोर खोलने के लिए आपको लाइसेंस की आवश्यकता पड़ती है । जब आप अपना मेडिकल कोर्स पूरा कर लेते हैं तो आपको अपने राज्य की फार्मेसी कॉउन्सिल में अपना रजिस्ट्रेशन करवाना पड़ता है और फिर state drugs standard control organization से संपर्क कर मेडिकल स्टोर लाइसेंस बनवाना पड़ता है। अगर खर्चे की बात करें तो मेडिकल स्टोर लाइसेंस फीस के लिए आपको 3000 लगते हैं।

मेडिकल शॉप खोलने के लिए दो तरह के ड्रग लाइसेंस होते है अगर आप रिटेल लेवल पर मेडिकल शॉप खोलना चाहते है तो रिटेल ड्रग लाइसेंस (Retail drug license) लेना पड़ता है और अगर बड़े स्तर पर मेडिकल स्टोर चलाना चाहते है तो होलेसेल ड्रग लाइसेंस (wholesale drug license) की जरूरत पड़ती है।

ड्रग लाइसेंस के लिए जरूरी दस्तावेज

ड्रग लाइसेंस के लिए आपको जिन दस्तावेजों की जरूरत पड़ेगी उनके बारे में जानकारी निम्नलिखित इस तरह से है

  • आवेदन पत्र
  • आवेदक का नाम , पता और साइन किया हुआ कवर लेटर
  • ड्रग लाइसेंस के लिए दी गई फीस की कॉपी 
  • बिजनेस प्लान की कॉपी
  • पहचान पत्र
  • 10th और 12th का certificate
  • अगर स्टोर की जगह आपकी खुद की है तो उसका प्रूफ और यदि भाड़े पर ली गई है तो रेंट एग्रीमेंट की कॉपी
  • रजिस्टर्ड फार्मासिस्ट का शपथ पत्र यदि आपने कोई फार्मासिस्ट नौकरी कर रखा हुआ है तो उसका नियुक्ति पत्र।

मेडिकल स्टोर खोलने के नियम

अगर आप मेडिकल स्टोर खोलने की सोच रहे हैं तो आपको सबसे पहले मेडिकल स्टोर के नियम का पता होना चाहिए आपको किसी मान्यता प्राप्त कॉलेज से D.pharma, B.pharma, या M.Pharma का certificate होना चाहिए ये सर्टिफिकेट के आधार पे ही state Drugs standard control organization और  Central Drugs standard control organization द्वारा मेडिकल स्टोर खोलने की लाइसेंस दी जाती है।

मेडिकल स्टोर की लाइसेंस लेने की प्रक्रिया

इन सब डॉक्यूमेंटेशन प्रक्रिया को पूरा करने के बाद सब डॉक्यूमेंट के साथ अपने राज्य के state Drugs standard control organization के पास अप्लाई करें वहां आपको 3000 तक रजिस्ट्रेशन फीस लगेगा। सारी प्रक्रिया सफलतापूर्वक होने पर आपको 3 महीने के अंदर आपके दिए हुए पते पर आपका लाइसेंस पहुंच जाएगा।

यह भी पढ़े : होम्योपैथिक मेडिकल स्टोर कैसे खोले?

मेडिकल स्टोर खोलने में कितना पैसा लगता है? (Investment for a medical shop)

एक मेडिकल स्टोर खोलने के लिए आपको अच्छे पैसे इन्वेस्ट करने पड़ते हैं। आपको दवाईयों का अच्छा स्टॉक रखना पड़ता है। मेडिकल स्टोर के लाइसेंस के लिए भी आपको खर्च करना पड़ता है। अगर पूर्ण रूप से देखा जाए तो एक मेडिकल स्टोर खोलने में कम से कम 5 से 6 लाख तक लगाने पड़ सकते हैं।

आप सिर्फ 2 लाख रुपए में भी शुरू कर सकते है अपना मेडिकल स्टोर, सरकार करेगी आपकी मदद अगर आपको इसकी जानकारी नहीं है तो आपकी जानकारी के लिए बता दूँ की केंद्र सरकार ने जन औषधि योजना (Jan Aushadhi Yojna) के तहत पुरे भारत में जेनरिक दवाओं के हज़ारो से ज्‍यादा स्‍टोर खोलने की योजना बनाई है। जिनके जरिए आपको कई गुना सस्‍ती नॉन ब्रांडेड दवाओं उपलब्ध कराइ जाएगी

मेडिकल स्टोर कितना मुनाफा कमाता है? (Medical Store Profit Margin)

अगर आप मेडिकल स्टोर खोलना चाहते है तो भले ही इसके लिए लागत ज्यादा लगती हैं परंतु लाभ भी उतना ही ज्यादा होता है। जेनरिक दवाईयों के सेल पर लगभग 40%  से 50 % तक का लाभ मार्जिन होता हैं। आपके स्टोर का मुनाफा दवाईयों के स्टॉक और उनके बिक्री पर भी निर्भर करता है। मेडिकल स्टोर में कितनी कमाई होती है अगर उसकी बात करें तो आप कम से कम 15 % से 30% तक का मुनाफा कमा सकते हैं। मेडिकल स्टोर काफी चलने वाले बिजनेस में से एक है। यह बारहों मास चलता है।

मेडिकल स्टोर खोलने के लिए जरूरी है मार्केट सर्वे

मेडिकल स्टोर खोलने के लिए आपको सबसे पहले मार्केट का सर्वे करना चाहिए ताकि आपको पता चल सके कि दवा कहाँ कहाँ से उचित दाम पर लेनी है। इसके लिए आप अपने एरिया के दवाईयों के सप्लायर से संपर्क कर सकते हैं। जहां से आप उचित दाम पर दवा खरीद सकते है।  अगर आप डायरेक्ट कंपनी से दवा खरीदना चाहते हैं तो आपको कंपनी से संपर्क करना होगा। जहां से आप दवा लेकर अपने स्टोर पर बेचेंगे।

इसके अलावा आप अपने आस पास के डॉक्टरों से संपर्क कर सकते है ताकि वे अपने मरीजों को दवा के लिए आपके मेडिकल स्टोर पर ही भेजें। इसके लिए डॉक्टर्स कुछ कमीशन भी लेते है। आप चाहे तो हर कंपनी के अलग अलग MR से भी संपर्क कर दवा ले सकते हैं।

यह भी पढ़े : भारत में हॉस्पिटल कैसे खोलें

मेडिकल स्टोर खोलने के लिए लोन कैसे ले?

यदि आपका खुद का मेडिकल स्टोर है यह आप खोलना चाहते है और अपने मेडिकल स्टोर का विस्तार करने के लिए सोच रहे हैं लेकिन आपके पास पैसों की कमी है मेडिकल स्टोर खोलने के लिए लोन चाहिए? आपको बता दे की एक मेडिकल स्टोर खोलने में काफी खर्च आता है जैसे की दुकान का रेंट, फर्नीचर, मेडिसिन में खर्च और भी अन्य खर्च शामिल होते है जिसके कारण बहुत से लोग मेडिकल स्टोर खोल नहीं पते है

अगर मेडिकल स्टोर खोलने के लिए लोन की बात करे तो यह आपको आसानी के साथ कम बयाज में बैंक दुवारा लोन मिल सकती है इसके लिए आपको कुछ ज़रूरी दस्तावेज बैंक को देने होते और उसी के आधार पर बैंक आपको लोन देती है मगर यह बात ध्यान रखें कि Medical खोलने के लिए आपके पास फार्मेसी की डिग्री होनी चाहिए इसी आधार पर ही बैंक आपको लोन देता है

मेडिकल स्टोर कैसे चलाएं?

अगर आप भी medical store खोलते है ओर आपको इस चीज का नही पता की आप मेडिकल स्टोर कैसे चलाएं तो हम आपको कुछ आसान से टिप्स बता रहे है जिससे आप आसानी से अपने मेडिकल स्टोर व मेडिकल के व्यवसाय को बढा सकते है।

एरिया : मेडिकल स्टोर किसी ऐसे क्षेत्र मे खाले जहा आसपास अस्पताल या कोई क्लिनिक हो क्योंकि ज्यादातर मरीज अस्पताल ही जाते है तो आपके लिए यह बेहतर होगा की आप किसी अच्छे व सुरक्षित क्षेत्र मे अपनी दुकान खोले।

डाक्टर से टाई अप : अगर आपकी Medical Store किसी अस्पताल के पास है तो आपके लिए यह जरूरी होगा की आप अस्पताल के डॉक्टर से टाई अप कर ले क्योंकि वह डॉक्टर आपके लिए रोगियो को आपकी दुकान के लिए रैफर करते है।

लोकल क्लिनिकल से टाई अप : जिस तरह आप किसी डॉक्टर से टाई अप करते है उसी प्रकार आपको सलाह दी जाती है कि आप अपने नज़दीकी क्लिनिकल से टाई अप करे क्योंकि वो भी आपके लिए कस्टमर रैफर करते है।

लोकल विज्ञापन : अगर आप अपने Medical Store व्यवसाय को बढाना चाहते है तो आपको यह भी सलाह दी जाती है कि आप अपने लोकल एरिया मे विज्ञापन व प्रसार प्रचार कर सकते है, इससे आपके दुकान की विजेब्लिटी बढेगी वही लोकल कस्टमर भी आयेंगे।

Medical store खोलने के लिए अन्य जरूरी बातें

मेडिकल स्टोर खोलने के लिए आपको बहुत सी बातों का ध्यान रखना जरूरी होता है जैसे कि – 

1) मेडिकल स्टोर के लिए उचित जगह चुने जैसे किसी हॉस्पिटल , क्लिनिक या रेसिडेंशियल एरिया।

2) मेडिकल स्टोर के लिए आपको कम से कम 10 से 15 Sq. मीटर जगह लेनी पड़ती है।

3) अपने स्टोर पर एक फ्रिज रखे और AC अवश्य लगाएं ताकि दवाईयों को ठंडा रखा जा सके।

4) चूंकि दवाईयां मनुष्य के स्वास्थ्य से जुड़ी हुई होती है इसलिए स्टोर को साफ सुथरा रखें ।

5) दवाईयों की एक्सपाइरी डेट चेक करके अपने स्टोर पर रखें। 

6) अपने मेडिकल स्टोर के लाइसेंस को हमेशा अपने शॉप पर रखें।

7) आपको टैक्स रेजिस्ट्रेशन भी करवाना पड़ता है। इसके लिए आप अपने राज्य के VAT या TAX department से संपर्क कर TAX रेजिस्ट्रेशन करा सकते है।

FAQ: मेडिकल स्टोर खोलने से जुड़े लोगों द्वारा पूछे जाने वाले सवाल

बिना डिग्री के मेडिकल स्टोर कैसे खोले?

मेडिकल स्टोर को खोलने के लिए वही व्यक्ति योग्य है जो B.pharma , M.pharma , D.Pharma , Pharma D का कोर्स किया हो। अगर आपके पास मेडिकल की कोई डिग्री नही है और आप मेडिकल स्टोर खोलना चाहते हैं तो इसके लिए आपको किसी ऐसे व्यक्ति को अपने स्टोर पर नियुक्त करना होगा जिसने मेडिकल का कोर्स किया हो इसके बाद आप आसानी से मेडिकल स्टोर खोल सकते हैं।

क्या दूसरे के मेडिकल लाइसेंस से मेडिकल स्टोर खोल सकते है?

अगर आप भी जानना चाहते है की क्या दूसरों के मेडिकल लाइसेंस से आप अपनी मेडिकल की दुकान खोल सकते है तो आपको बता दे की यह पूरी तरह अनलिगल है या वैध नहीं है। अगर आपके पास खुद का मेडिकल का सर्टिफिकेट नहीं है तो आप अपना खुद का मेडिकल स्टोर नही खोल सकते है।

ऐसा अगर आप करते है तो यह पूरी तरह गलत है ओर खास कर मेडिकल लाइन मे जहा आप लोगो के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ करते है। तो ऐसा बिलकुल न करे ओर क्योंकि ऐसा करने से हो सकता है की आपके खिलाफ कानूनी कार्यवाही भी हो।

मेडिकल कौन खोल सकता है ओर कौन नही?

अगर आप यह जानना चाहते है की कौन मेडिकल खोल सकता है ओर कौन नही तो आपको बता दे की मेडिकल खोलने के लिए फार्मासिस्ट का सर्टिफिकेट होना चाहिए जो की आवश्यक है। इस लेख मे पूर्व मे बताया गया है की आप मेडिकल का सर्टिफिकेट कैसे ले सकते है ओर आपको क्या करना पडता है वो आप उपर वाले टाॅपिक्स मे पढ सकते है।

मेडिकल स्टोर खोलने के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए?

अगर कोई भी व्यक्ति मेडिकल स्टोर या केमिस्ट की दुकान खोलना चाह रहा हो वो अपनी 12वीं साइंस स्ट्रीम से पास हुवा होना चाहिए और ग्रेजुएशन में उसकी फार्मा की डिग्री होनी चाहिए तभी वो मेडिकल स्टोर खोलने के योग होता है

Medical store खोलने के लिए कितने एरिया की आवश्यकता होती है

अगर आप भी मेडिकल स्टोर खोलने की सोच रहे है आपको कुछ बातो का ध्यान रखना चाहिए। वैसे तो ऐसा कोई फिक्स नियम नही है की मेडिकल स्टोर के लिए आपको कितनी जगह की आवश्यकता होती है परन्तु कुछ टिप्स जो हम आपको बता रहे है वो जरूर ध्यान रखें

अगर आप एक होलसेल दुकान खोल रहे तो उसके आपको कम से कम 130 Sq. Feet बडी दुकान की आवश्यकता होती है अगर आप एक रिटेल की दुकान खोल रहे है तो उसके लिए आपको कम से कम 110 Sq. Feet दुकान की आवश्यकता होती है। दुकान के आसपास प्रोपर पार्किंग की सुविधा भी होनी चाहिए।

ड्रग लाइसेंस के लिए क्या डॉक्यूमेंट चाहिए?

ड्रग लाइसेंस के लिए आपको इन सब डॉक्यूमेंट की अवसक्ता होगी, आवेदन पत्र, ड्रग लाइसेंस के लिए दी गई फीस की कॉपी , पहचान पत्र, 12वीं पास सर्टिफिकेट, जगह की प्रूफ और यदि भाड़े पर ली गई है तो रेंट एग्रीमेंट की कॉपी

मेडिकल स्टोर का सेल कैसे बढ़ाएं?

1) अपने सेल को बढ़ाने के लिए ज़्यादा से ज़्यादा अपने आस पास के डॉक्टर से संपर्क करें और उन्हें अपने शॉप का दवाई लिखने को बोलें। जिससे वो पेशेंट को आपके शॉप पे रेफर करेंगे दवा लेने के लिए जिसके लिए वो आप से कुछ कमीशन लेंगे।

2) मेडिकल लाइन ऐसा लाइन है जिसमें आपको छोटे मोटे गांव से लेकर हर चौक चौराहा पे छोटे मोटे डॉक्टर रहते ही हैं और उनका गांव मोहल्ले में ज़्यादा पकड़ रहता है। तो वैसे डॉक्टर से संपर्क कर अपने यहां से दवा लेने के लिए ऑफर करें।

3) दवा स्टोरेज में ज़्यादा से ज़्यादा प्रकार के दवा को मेन्टेन रखना एक चैलेंजिंग काम होता है। हर डॉक्टर का लिखा हुआ हर प्रकार का दवा होता है। इसलिए ज़्यादा से ज़्यादा प्रकार के दवा अपने शॉप में रखें और मार्केट में ऐसा इमेज बनाए के आपके पास हर प्रकार के दवा मिलते हो।

निष्कर्ष:

आज कल कई लोग भारत में एक नया मेडिकल स्टोर कैसे खोलें इसके बारे में सही जानकारी की तलाश में रहते हैं और पता करना चाहते हैं कि आखिर ‘Medical Store Kaise Khole’ (How to start a Medical Store in India) और यही कारण है की हमने यह लेख लिखा है जिसमे हमने इस बिजनेस के बारे में पूरी जानकारी आसान भाषा में देने की कोशिश की है।

इस प्रकार भारत में एक मेडिकल स्टोर इन सभी पदों के आधार पर सही तरीके से खोले जाते है, ये एक अच्छा बिज़नेस है जिसमे लोगो की मदद के साथ साथ मुनाफा भी कमाया जा सकता है। इस तरह से आप अपना मेडिकल स्टोर खोल सकते हैं। हमने आपको इस आर्टिकल में वो सारी बातें बता दी हैं जो मेडिकल स्टोर बिजनेस के लिए जरूरी है। हमें पूरी उम्मीद है कि आपके लिए हमारा यह लेख काफी हेल्पफुल रहा होगा। यदि आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे ऐसे लोगों के साथ भी शेयर करें जो अपना मेडिकल स्टोर खोलने के इच्छुक हैं। 

इसे भी पढ़े :

MBBS Doctor Kaise Bane?

Jan Seva Kendra Kaise Khole?

सरकारी राशन की दुकान कैसे खोलें?

134 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *