कैटरिंग का बिजनेस कैसे शुरू करें – Catering Business Plan in Hindi

कैटरिंग बिजनेस शुरू करें और कमाएं लाखो पूरी जानकारी

हिन्दुस्तान को खाने खिलाने के शौकीन लोगों का देश माना जाता है। यहां अलग अलग प्रांत के अपने विशिष्ट ऐसे स्वादिष्ट व्यंजन हैं जिसे बनने के तरीके भी अलग अलग होते हैं। कुछ लोग तो इस खाने खिलाने को है अपना व्यवसाय बना लेते हैं, जिसे केटरिंग बिजनेस कहते हैं। तो अगर आप भी ऐसे ही खाने खिलाने के शौकीन है और इसी क्षेत्र में अपनी अलग पहचान बनाना चाहते हैं, तो आज का आर्टिकल आपके लिए है। आज हम आपको बताएंगे की केटरिंग बिजनेस शुरू करने के लिए किं बातों कि आवश्यकता होती है। तो चलिए शुरू करते हैं।

केटरिंग का मतलब सिर्फ यह नहीं कि आपने 100-200 लोगों के लिए खाना बना लिया और पैसे कमा लिए। किसिभी बड़ी चीज की शुरुवात छोटी चीज से कि जानी चाहिए। ठीक उसी प्रकार, केटरिंग का बड़ा ऑर्डर लेने से पहले छोटी छोटी पार्टियों पर अपना हाथ आजमाकर देख लेना अच्छा होता है। इससे आपको अनुभव भी मिलता है, और आमदनी के साथ साथ सीखने को भी मिल जाता है। आत्मविश्वास बढ़ता है वह अलग। एक बार आपने छोटे छोटे ऑर्डर से अपना नाम कमा लिया तो आगे आपका निर्णय है कि उसे वैसे ही चलने देना है या बड़ी छलांग लगाने है। अगर बड़ी छलांग लगाने का इरादा है तो उसके लिए निम्न महत्वपूर्ण बातों का ख्याल रखिए।

कैटरिंग का बिजनेस शुरू करने के लिए क्या-क्या चाहिए

दोस्तों कैटरिंग का बिजनेस शुरू करने के लिए आपको सबसे पहले खाना बनाना आना चाहिए वो भी स्वादिष्ट खाना। अगर आपको खाना बनाना नहीं आता तो आप इसके लिए खाना बनाने वाला काम पे रख सकते हैं। आप ये काम घर से भी शुरू कर सकते हैं या ऐसी जगह की व्यवस्था कर लें जहां आप अपने पात्र सुरक्षित रख सके और खाना सुरक्षित तरीके से बनाकर दे सके।

इसके बाद आपको कुछ व्यवस्थाएं करनी होती है। जिनमें चम्मच, कटोरी, ग्लास, कडाई, भगोना, ढक्कन, पानी के ड्रम, भट्टी, गैस, बड़े चम्मच, बड़ा तवा, बेलन, चकला आदि खाना बनाने और परोसने के लिए जरूरी पात्र की आवश्यकता होती है। इतना ही नहीं आपको जो भी खाने में बनाकर देना है वो सभी मेटेरियल जैसे-सब्जी, मिर्च और कुछ जरूरी मसाले आदि। 

इसके अलावा आपको कुछ महिलाएं या पुरूष को काम पर रखना होगा। उनमें जैसे रोटी आदि बेलने और बनाने के लिए महिलाएं और कुछ अन्य काम के लिए पुरूष हो सकते हैं। इसके अलावा आप खाने की डिलिवरी करने के लिए वाहन और ड्राइवर भी रख सकते हैं। इन सभी व्यवस्थाओं के बाद आप केटरिंग का बिजनेस शुरू कर सकते हैं। 

लाइसेंस और अनुज्ञा पत्र (Permit) बनवाना –

कैटरिंग बिजनेस में स्वच्छता एक महत्वपूर्ण अंग है। अगर आप अपने kitchen की स्वच्छता की और ध्यान देंगे तो आपका खाना भी उतना है सुरक्षित बनेगा। इस बात को ध्यान में रखते हुए, राज्य सरकार के आरोग्य विभाग द्वारा सभी केटरिंग बिजनेस वालों को लाइसेंस और परमिट जारी किया जाता है, बशर्ते वह सब उनके दिए गए मुद्दों पर खरे उतरे। आरोग्य (Arogya) विभाग वाले अधिकारी आकर आपकी kitchen और इस्तेमाल होनेवाली सामग्री की पूरी तरीके से जांच करेंगे, और तय करेंगे की आप केटरिंग बिजनेस करने में लायक हैं कि नहीं। लाइसेंस और परमिट होने से आप कानूनी तौर पर सुरक्षित हो जाते हैं। इसलिए अगर आप अपने केटरिंग बिजनेस को बढ़ाना चाहते हैं तो स्वच्छता कि ओर ध्यान देना बेहद जरूरी है।

व्यापारियों से और ग्राहकों से अच्छे सम्बन्ध बनाना –

अपने कैटरिंग के व्यापार को बढ़ाने कि दृष्टि से यह एक बहुत ही महत्वपूर्ण बात है जो आपको याद रखनी चाहिए। जब तक आपके सम्बन्ध अच्छे रहेंगे तब तक वह आपको सस्ती कीमत पर अच्छा सामान देते रहेंगे। और तो और कुछ और ऑर्डर मिलने भी अच्छे संबंध कारगर साबित होते हैं। जैसे गुजराती व्यापारियों में एक कहावत मशहूर है कि व्यापार करते समय सिर पे बर्फ और जुबान पीएं शक्कर होनी चाहिए। इसका अर्थ है कि दिमाग शांत और मृदु भाशिता रखने से व्यापार दिन ब दिन बढ़ता है।

जो दिखता है वहीं बिकता है –

आप अपने कैटरिंग व्यवसाय के लिए इस्तेमाल होने वाले साहित्य जैसे थाली कटोरी चम्मच वगैरा जितने आकर्षक रखेंगे उतना ही वह लोगोंके में को भाएंगे। चीनी मिट्टी से बनी थलिया और कटोरियां दावत को एक Classy look देने में कारगर साबित होती हैं। और साथ ही साथ अगर आप टेबल कुर्सी कि व्यवस्था कर सकें तो सोने पे सुहागा। याद रखिए कि लोग भोजन से पहले आपके साधनों से रूबरू होंगे। और अगर वो उन्हे भा गए तो आधी लड़ाई आप उधर हिंजीत जाते हैं। और अगर अच्छे बर्तनों में अच्छा खाना मिले तो ग्राहक खुश हुए ही समझो।

आकर्षकता का ध्यान –

जब भी आप किसी ऐसे इंसान से मिलें को आपका ग्राहक हो सकता है, तब ध्यान रखें कि दाग धब्बों से सने कपड़ों को बजाय साफ सुथरे कपड़े ग्राहक को हमेशा आकर्षित करते हैं। इसको अंग्रेजी में presentable रहना कहते हैं। इससे आप उसकी नजर में प्रोफ़ेशनल कहलाएंगे। और व्यवसाय में प्रोफेशनल रहना बहुत जरूरी होता है। यह आपके व्यवसाय को बढ़ाने में बेहद असरदार साबित होता है। और लोगों में आपकी ख्याति फैलाने में सहायक साबित होता है, जो कि और ग्राहकों को आकर्षित करती है।

चुनिंदा व्यंजन बनाने पर ध्यान दें –

बहुत से व्यंजन बनाने का दावा करने से अच्छा है कि कुछ चुनिंदा व्यंजनों पर ध्यान दे कर उन्हें अपनी खासियत बनाएं। लेकिन अगर कोई ग्राहक उनके पसंदीदा व्यंजन बनाने की मांग करे तो उनका सम्मान करते हुए उसे भी बनाना चाहिए। जब तक लोगों को आपकी विशेषता का ज्ञान नहीं होगा तब तक उन्हें आप पर विश्वास नहीं होगा। तो पहले अपनी खासियत को पहचानें और उसमें महारथ हासिल कीजिए। याद रखिए, व्यवसाय में लोग आपको आपके नाम से नहीं आपके विशेषता से, व्यवसाय से पहचाने यही आपके व्यवसाय को सफलता है।

कीमतों पर ध्यान देना –

आप अगर शुरुवाती दौर से ही अगर ग्राहकों से ज्यादा पैसों कि मांग करेंगे तो शायद वह निराश होकर किसी और के पास जा सकते हैं। और यह आपके व्यवसाय के लिए अत्यंत हानिकारक साबित हो सकता है। इसलिए नई शुरुवात होने पार अपनी सुविधाओं के लिए कम कीमत मांगें। फिर जैसे जैसे आप का व्यवसाय बढ़ेगा, आपकी सफलता खुद आपका परिचय होगी। तो आप उस हिसाब से अपनी सुविधाओं के दाम बढ़ा सकते हैं। और आपकी reputation को देखते हुए लोग उससे इनकार भी नहीं करेंगे।

कैटरिंग का बिजनेस के लिए मार्केटिंग है जरूरी

ज्यादा से ज्यादा लोगों तक कम से कम समय में पहुंचने का बेहतरीन तरीका होता है मार्केटिंग। आप जब ज्यादातर लोगों तक पहुंचेंगे तब लोग आपको जानेंगे। आप अपनी पहचान बनाने के लिए visiting card, brochure, pamphlet जैसे साधनों का इस्तेमाल करके अपनी मार्केटिंग कर सकते हैं। व्यापार में तरक्की करने के लिए एक बात को हमेशा याद रखें कि को दिखता है वहीं बिकता है।

रिस्क है तो इश्क है –

कोई भी व्यवसाय हो, आप उसमें शुरू से ही सफलता हासिल नहीं कर सकते। आपको कई बार नुकसान भी उठाना पड़ सकता है। ऐसेमें जरूरी है कि आप नुकसान उठाने के लिए भी तैयार रहें। और नुकसान से आहत हो जाने की बजाय आप फिर से नई शुरुवात करें और दिल ओ जाना से व्यवसाय में लग जाएं।

कर्मचारियों का सम्मान –

कोई भी व्यवसाय किसी एक इंसान से नहीं तो उसके साथ काम करनेवालों के कारण बड़ा होता है। तो केटरिंग व्यवसाय करते वक्त याद रखें की आपके कर्मचारी आपके नौकर नहीं आपके सहकर्मी हैं। जब तक वह आपके साथ है तब तक आपका व्यवसाय टिका हुआ है। जिस दिन उन्होंने आपका साथ छोड़ा आप एक दिन भी व्यवसाय नहीं चला पाएंगे। इसलिए उनके साथ आपको सम्मानपूर्वक व्यवहार करना चाहिए। उनकी तनख्वाह वक्त पर और सम्मान सहित देना, उनके अच्छे बुरे का ख्याल रखना, वगैरा जैसे काम आपको उनका मालिक नहीं दोस्त बनाएंगे और ऐसे में वह पूरी निष्ठा से आपके साथ काम करेंगे।

कैटरिंग बिजनेस शुरू करने के लिए इंवेस्टमेंट 

कैटरिंग के बिजनेस के लिए आपको पांच लाख रुपये तक के इंवेस्टमेंट की जरूरत पड़ती है जिसमें आपके पात्र आदि सभी संसाधन खरीदे जा सकते हैं। आप चाहे तो अपने केटरिंग बिजनेस को शुरू करने के लिए बैंक से लोन भी ले सकते हैं।  

कैटरिंग के बिजनेस में किन बातों का ध्यान रखना होगा 

कैटरिंग के बिजनेस में आपको कई सारी बातों का ध्यान रखना होगा। सबसे पहले तो आपको उचित समय पर उचित स्थान पर खाना बनाकर पहुंचाना होगा। क्योंकि शादी आदि के काम में लोग आपको ओर्डर देते हैं और ऐसे काम में आप बिल्कुल लापरवाही नहीं कर सकते। इसमें आपकी एक लापरवाही भी बहुत भारी पड़ सकती है। इसके साथ ही आप पात्र को हमेशा साफ सुथरा रखें। जब भी आप खाना बनाने के लिए सब्जी आदि लेकर आएं तो हमेशा ताजा और अच्छी ही लेकर आएं। जब भी आप खाना बनाएं आप लिमिट ध्यान रखें कि कितने लोगों का खाना बनाकर देना है। आप जिस भी तरह का खाना बनाएं उसमें मसाले का सही प्रयोग करें और सही मसाले ही खरीदके लाएं।

आप अपनी सेवा में कोई कमी नहीं रखें। क्योंकि आप कैटरिंग का बिजनेस इसी आधार पर चलता है। इसके साथ-साथ आप वर्कर्स को समय≤ पर पेमेंट करते रहें। इसके अलावा आप वर्कर्स को सही तरह से चूने। अगर उनकी बनाने की स्पीड कम रही तो हो सकता है आपका काम धीरे चले और आप कम समय में बहुत ही कम मुनाफा कामा पाएं। इसके साथ-साथ आप कई तरह के काम कर सकते हैं। जैसे- आप अपनी कोई होटल लगा सकते हैं या फिर आप अपनी मिठाइयों और नाश्ता की दुकान भी चला सकते हैं। ऐसा करने से आप अधिक मुनाफा कामा सकते हैं।

कैटरिंग के बिजनेस से लाभ – Profit From Catering Business

कैटरिंग के बिजनेस में आप लागत और वर्कर्स को पेमेंट करने के बाद प्रति माह चालिस से पचास हजार रुपये तक कमा सकते हैं। जब शादी का सीजन रहता है तो आप इस वक्त ज्यादा मुनाफा कमाएंगे। क्योंकि आपको ज्यादा ओर्डर मिलने लगेंगे। तो दोस्तों आज हमने जाना कि आप किस तरह कैटरिंग का बिजनेस शुरू करके अच्छा खासा पैसा कमा सकते हैं।

एक व्यावसायिक के रूप में, और खास कर एक कैटरिंग व्यावसायिक के रूप में आपको इस बात का हमेशा ख्याल रखना चाहिए कि आप माॅ अन्नपूर्णा का कार्य कर रहे हैं। किसी भूखे का पर भरना सबसे बड़ा पुण्य होता है। इसलिए जब आप किसी के लिए भोजन बनाएं, चाहे वह व्यवसाय के लिए क्यों ना हो, उसे प्रेम से बनाएं, लोगों को आपके खाने में स्वाद जरूर आएगा। और आखिर में यह भी जरूरी है कि उपरोक्त बातों का ख्याल रख कर आप अपने केटरिंग व्यवसाय को बढ़ाएं। क्योंकि अन्नदान की श्रेष्ठ दान है।

अन्य पढ़े :

टेंट हाउस का बिजनेस कैसे शुरू करें

फास्ट फूड रेस्टोरेंट कैसे खोले

घर बैठे पैकिंग का काम कैसे शुरू करें

One Comment

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: