Manufacturing Business Ideas in Hindi | लाभकारी मैन्युफैक्चरिंग बिजनेस आइडिया

Manufacturing Business Ideas in 2022 with Low Investment – आज आपको बताएंगे कि मैन्युफैक्चरिंग बिजनेस यह विनिर्माण बिजनेस आखिर है क्या,जैसा कि आपको पता है हर बड़ा बिजनेस किसी-न-किसी छोटे व्यापार का बढ़ा हुआ रूप है,हर व्यापार छोटे स्तर से शुरू किया जाता है और अच्छी रणनीतियाँ और मेहनत के बाद में सफलता प्राप्त होती है

Table of Contents

मैन्युफैक्चरिंग बिजनेस क्या होता है? (What is Manufacturing Business in Hindi)

Manufacturing Business ideas in Hindi –  मैन्युफैक्चरिंग बिजनेस क्या है अगर उदाहरण के साथ समझाया जाए तो कोई ऐसा विनिर्माण व्यवसाय जहां कच्चे माल से मशीनों या हाथों के द्वारा कोई नई बस्तु कम से कम लागत में बनाई जा सके और बनाने के बाद उसे सीधे मार्केट में बेचने की प्रक्रिया मैन्युफैक्चरिंग बिजनेस कहलाता है और समय के साथ ये आपको उचाईयों पर ले जाता है।

साथ ही मैन्युफैक्चरिंग उद्योग देश की अर्थव्यवस्था में अहम भूमिका निभाते हैं और जिस कारण कई बेरोजगार लोगो को काम भी मिल जाता है। भारत मे कईं तरह के मैन्युफैक्चरिंग उद्योग प्रचलित और सफल रहे हैं लेकिन हम यहां आज आपको कुछ Best Manufacturing Business के बारे में बताएंगे-

20 Manufacturing Business Ideas In Hindi

1) Handmade Organic and Exotic Soap Manufacturing Business 

बढ़ती आधुनिकता ने हमें यह तो समझा ही दिया है कि अपने पाँव जमीन से उठाने की कोशिश बहुत महंगी पड़ सकती है। ढेरों केमिकल से बने साबुन बाजार में उपलब्ध हैं और शायद आपके घर पर भी कई ऐसे साबुन पड़े होंगे। इन केमिकल का दुष्प्रभाव तुरंत पता नहीं चलता है लेकिन लंबे समय तक प्रयोग करने से कई परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

केमिकल से बने साबुनों के इन्हीं गलत परिणामों नें लोगों का ध्यान प्राकृतिक विकल्पों की ओर खींच दिया है। ऑर्गेनिक सामानों की मांग भारतीय बाजारों में बढ़ती जा रही है और भविष्य में इसका बहुत बड़ा बाजार खुलता हुआ दिखाई पड़ रहा है। कई ऑर्गेनिक कंपनियां हैं जो हैंडमेड सॉप्स को ऑनलाइन बेचकर अपना एक बहुत बड़ा बाज़ार बना चुके हैं।

हांलांकि इन साबुनों की कीमत साधारण साबुनों से थोड़ी ज़्यादा होती हैं लेकिन फिर भी लोगों के द्वारा इन्हें खूब पसंद किया जा रहा है। आप इस प्रकार के साबुनों का उत्पादन छोटे स्तर से कर सकते हैं और धीरे धीरे अपने इस Manufacturing Business को आगे बढ़ा सकते हैं। 

यह भी पढ़े : साबुन बनाने का बिजनेस कैसे शुरू करें

2) Cement Brick Manufacturing Business ideas in Hindi 

सीमेंट की ईंट बनाने का व्यवसाय – कच्चे मकानों की संख्या अब गांवों में भी कम ही देखने को मिलती है। पक्के मकानों की चकाचौंध ने मिट्टी के घरों की पहचान ही खत्म कर दी है। हर व्यक्ति अपने सपनों का आशियाना बनाना चाहता है और अब तो फ्लैट और अपार्टमेंट की बिक्री भी दिनों दिन बढ़ती ही जा रही है। ऐसी स्थिति में ईंट की खपत का बढ़ना भी स्वाभाविक ही है। कम लागत में बढ़िया मुनाफा कमाना चाहते हैं तो इस बिजनेस को शुरू कर सकते हैं।

ईंट का इस्तेमाल लगभग सभी प्रकार के कंस्ट्रक्शन के कामों में किया जाता है। यह केवल घर बनाने तक ही सीमित नहीं है। इस बिजनेस को शुरू करने के लिए आपको सीमेंट पाउडर, रेता, पानी, बजरी और सांचों की ज़रूरत पड़ेगी। इन सभी चीजों को मिलाकर लोई तैयार करने के बाद सांचों में डालकर जमीन पर सूखने के लिए छोड़ दिया जाता है।

इस प्रक्रिया को करते हुए इस बात पर विशेष ध्यान देना होता है कि ईंट ज़मीन से चिपक ना जाए। इस पूरे काम को करने के लिए आपको कुछ मजदूरों की आवश्यकता भी पड़ेगी। अगर इस Manufacturing Business में आपने अपना पैर टिका लिए, तो ये आपकी कमाई का एक बहुत ही अच्छा स्रोत बन सकता है। 

यह भी पढ़े : सीमेंट की ईंट बनाने का व्यवसाय कैसे शुरू करें

3) Candles Manufacturing Business 

Small manufacturing business ideas in hindi – पुराने समय में मोमबत्ती का काम केवल अंधेरे में रोशनी के दर्शन कराना होता था। लेकिन आज गांव- गांव तक बिजली की सुविधा पहुंच रही है इसलिए अब मोमबत्ती का मुख्य काम केवल उजाला करने का नहीं रह गया है बल्कि अब इसे सजावट के तौर पर अधिक इस्तेमाल किया जा रहा है। सुगंधित मोमबत्तियां (एरोमेटिक कैंडल्स) का प्रचलन भी बीते कुछ सालों में बहुत बढ़ गया है। 

घर में कोई त्यौहार हो या किसी की बर्थडे पार्टी, तरह-तरह की डिजाइनर मोमबत्तियों का उपयोग हो रहा है। समय के साथ-साथ लोगों की ज़रूरतों और पसंद नें भी बदलाव का रास्ता चुन लिया है। इस बदलते पसंद को पूरा करने के लिए आप मोमबत्ती का उत्पादन करने का सोच सकते हैं।

मोमबत्ती बनाना एक ऐसा कार्य है जिसमें काफी कम लागत से अच्छा लाभ कमाया जा सकता है। मोमबत्ती बनाने के लिए आपको मशीन, कच्चा माल; जैसे- पैराफिन वैक्स, फ्रेगरेंस, धागा और डिज़ाइनर मोल्ड लेने की ज़रूरत पड़ेगी। इन सभी सामानों को खरीदने में ₹50,000 से ₹60,000 की लागत आएगी। वहीं एक मोमबत्ती बनाने में करीब ₹2 से ₹10 का खर्चा आता है जिसे आप ₹40 या उससे अधिक में आसानी से बेच सकते हैं।

4) Plastic Products Manufacturing Business 

ऐसी कई सारी चीजें होती है जो प्लास्टिक की बनी होती है तथा हर व्यक्ति उसका इस्तेमाल करता है आप प्लास्टिक के प्रोडक्ट बनाकर भी अपना खुद का अच्छा खासा प्रॉफिटेबल बिजनेस स्टार्ट कर सकते हैं प्लास्टिक के प्रोडक्ट आप बहुत कम कीमत पर बना सकते हैं

प्लास्टिक के प्रोडक्ट बनाने के लिए आपको प्लास्टिक मॉडलिंग मशीन की आवश्यकता पड़ेगी जिसकी लागत ₹10 लाख तक आती है अगर आप यह मशीन खरीदते हैं तो आप इस मशीन से किसी भी प्रकार के प्लास्टिक प्रोडक्ट बना सकते हैं वह प्लास्टिक के खिलौने हो प्लास्टिक का मग प्लास्टिक की बाल्टी या प्लास्टिक की कंघी इत्यादि

प्लास्टिक के प्रोडक्ट कम दामों में आप तैयार कर सकते हैं तथा इन्हें मार्केट में अच्छा मार्जिन प्राप्त करके बेच सकते हैं आप की प्रोडक्ट की क्वालिटी अच्छी है तो आपका brand चल जाएगा तथा आप अच्छे खासे पैसे कमा सकते हैं इस बिजनेस को स्टार्ट करने के लिए आप 10 से 15 लाख तक का निवेश कर सकते हैं

यह एक प्रॉफिटेबल बिजनेस है तथा यूनिक बिजनेस भी है इस बिजनेस को करके आप हर महीने कम से कम 50,000 से 60,000 के बीच में रुपए कमा सकते हैं अगर आपने बहुत ज्यादा Area को cover कर लिया है तो आप इस बिजनेस के द्वारा बहुत अच्छी खासी धनराशि कमा सकते हैं और आप अपना खुद का एक big brand बना सकते हैं डिसटीब्यूटर तथा प्रचार-प्रसार के जरिए से आप अपने brand को बहुत अधिक फैला सकते हैं

5) Pharmaceutical, Botanical Products And Medicine Manufacturing Business 

आजकल रोजमर्रा की जिंदगी में खाई जाने वाली दवाइयों का मेकिंग कॉस्ट बहुत कम होता है तथा उन्हें बहुत अधिक दामों में बेचा जाता है पेरासिटामोल, कैल्पोल इत्यादि बहुत ही सस्ते दामों में बनकर तैयार हो जाती है लेकिन मार्केट तक आते आते यह अधिक दाम की हो जाती है

आप खुद का मेडिसिन मेकिंग बिजनेस स्टार्ट करके अच्छा खासा पैसा कमा सकते हैं इस बिजनेस में आप बोटैनिकल प्रोडक्ट्स , मेडिकल केमिकल्स तथा मेडिसिंस भी बना सकते हैं अगर आप यह बिजनेस में उन्नति करना चाहते हैं तो आपको पहले कई सारे डिस्ट्रीब्यूटर बनाने पड़ेंगे जो आपके प्रोडक्ट का प्रचार प्रसार करेंगे तथा उसे दुकानदारों तक पहुंचाएंगे

यह बिजनेस करने के लिए आपको 10 लाख से 12 लाख रुपए की आवश्यकता पड़ेगी तथा आपको गवर्नमेंट ऑफ इंडिया द्वारा approval भी लेना पड़ेगा लेकिन इस बिजनेस में आपको hygiene पर बहुत अधिक ध्यान देना पड़ेगा क्योंकि अगर दवाइयां बेकार निकली तो आप का बिजनेस बंद भी हो सकता है

यह बिजनेस स्टार्ट कर के आप महीने में लाखों रुपए कमा सकते हैं लेकिन आपको अपने प्रोडक्ट की क्वालिटी के ऊपर ध्यान देना पड़ेगा क्योंकि अगर क्वालिटी बेकार निकली अगर दवाइयां बेकार निकली और उसकी वजह से किसी व्यक्ति को नुकसान हुआ तो आपकी कंपनी पर केस करके आपकी कंपनी को बंद भी कराया जा सकता है इसलिए यह थोड़ा risky बिजनेस है लेकिन इसमें पैसे बहुत ज्यादा है

यह भी पढ़े : भारत में मेडिकल स्टोर कैसे खोलें?

6) Sanitary Pads Manufacturing Business ideas in Hindi 

सेनेटरी पैड्स का व्यवसाय –सेनेटरी पैड को लेकर आज समाज की मानसिकता को बदल गई है। पहले जिस चीज़ को दुकान से लाने में लोग शर्मिंदगी महसूस करते थे, वहीं आज इसे महिलाओं के स्वास्थ्य और गरिमा से जोड़कर देखा जाने लगा है। बाज़ार में कई कंपनियां सैनिटरी पैड्स बेचते हैं और करोड़ों में पैसे कमाते हैं। इनकी कीमतें अधिक होने के कारण आज भी कई महिलाएं इसका प्रयोग न करना ही बेहतर समझती हैं।

बाज़ार में जितने भी प्रोडक्ट्स उपलब्ध हैं, उनमें से अधिकतर की कीमत बहुत अधिक है, फिर भी उनकी क्वालिटी के साथ आपको समझौता ही करना पड़ेगा। अगर आप कम दाम में बेहतर क्वालिटी महिलाओं को दे सकते हैं तो इस बिजनेस में आप का सिक्का चमकते देरी नहीं लगेगी।

आप इस व्यवसाय में बहुत सफलता प्राप्त कर सकते हैं। इन्हें बनाने में बहुत ही कम लागत आती है। आपको केवल कुछ मशीन और कॉटन की जरूरत पड़ेगी और हर एक पैड बहुत ही कम कीमत में बनकर तैयार हो जाएगा। अपने प्रोडक्ट को लोगों तक पहुंचाने के लिए आप सोशल मीडिया का प्रयोग भी कर सकते हैं।

यह भी पढ़े : Sanitary Pads Manufacturing Business कैसे शुरू करें

7) Fertiliser And Farming Products Manufacturing Business 

हर किसान खेती को बढ़ाने के लिए फ़र्टिलाइज़र का उपयोग करता है अगर आप ग्रामीण लोगों को अच्छे से जानते हैं तथा आपके कई दोस्त ग्रामीण हैं तो आप यह बिजनेस स्टार्ट कर सकते हैं फ़र्टिलाइज़र making का बिजनेस बहुत जल्दी growth करता है तथा इसकी क्वालिटी भी आपके ऊपर निर्भर करती है

आप खाद बनाकर बहुत अच्छा पैसा कमा सकते हैं तथा इस बिजनेस को करने से आपका भी फायदा होगा एवं किसानों का भी फायदा होगा अगर आप की खाद की क्वालिटी अच्छी है तो आपसे बहुत सारे किसान खाद खरीदेंगे तथा आपका बिजनेस बहुत ही ज्यादा उन्नति करेगा यह बिजनेस स्टार्ट करने के लिए आपको बहुत ही कम लागत की जरूरत है तथा अगर आपने आसपास के सभी गांव cover कर लिए तो आपको इस बिजनेस से अच्छा खासा मुनाफा होगा

8) Thermal Products Manufacturing Business 

आजकल हर रोज शादी पार्टी या कोई ना कोई फंक्शन होता रहता है इन फंक्शंस में इस्तेमाल किए जाने वाले थर्मल प्रोडक्ट्स जैसे कि थर्मल ग्लास , थर्मल कप , थर्मल प्लेट को बना कर भी आप अच्छा खासा पैसा कमा सकते हैं इस बिजनेस को थर्मल प्रोडक्शन बिजनेस कहा जाता है आप इसमें थर्मल प्रोडक्ट्स बनाकर पैसे कमा सकते हैं

यह Manufacturing Business स्टार्ट करने के लिए आपको थर्मल प्रोडक्ट मेकिंग मशीन की आवश्यकता पड़ेगी मशीन की लागत 4 lakh से 5 lakh के बीच में है मशीन लगाकर आप इस मशीन के जरिए किसी भी प्रकार के थर्मल प्रोडक्ट्स जैसे की प्लेट कप ग्लास इत्यादि बना सकते हैं क्योंकि इन सब प्रोडक्ट में अच्छा खासा मार्जिन होता है

9) Namkeen Manufacturing Business ideas in Hindi 

नमकीन बनाने का उद्योग कई सालों से हमारे राष्ट्र का एक बहुत महत्वपूर्ण हिस्सा रहा है। यह एक सदाबहार (Evergreen) व्यवसाय है जिसकी मांग बाज़ार में लगभग पूरे साल रहती है। भारतीयों के लिए नमकीन एक आम स्नैक (Snack)  है जो आमतौर पर सभी उम्र के लोगों को पसंद आती है। कई लोगों को कम मसाले वाली नमकीन पसंद होती है तो कइयों को अधिक मसाले वाली। अलग-अलग दालों से बनी नमकीन भी लोगों के बीच बहुत बिकती है।

यदि आप कोई नया व्यापार करने का सोच रहे हैं तो नमकीन का उत्पादन करना आपके लिए एक अच्छा विकल्प हो सकता है। चूंकि इस व्यवसाय को कम लागत पर शुरू किया जा सकता है और बाज़ार बड़ा होने के कारण बिक्री होने की संभावना भी अधिक है इसलिए अगर आपको लगता है कि आपके हाथों में इसे बनाने का हुनर है और आप स्वादिष्ट नमकीन बना सकते हैं तो आपका इस व्यवसाय में हार्दिक स्वागत है।

यह एक खाद्य पदार्थ है इसलिए सरकारी परमिशन लेने के बाद आप इसे बाज़ार में बेच सकते हैं। दाम कम होने के कारण बाजार में लोकल नमकीनों का कब्ज़ा भी अधिक है। इस मैन्युफैक्चरिंग उद्योग को शुरू करने के लिए आपको मशीन और कच्चे माल, जैसे- मैदा, बेसन, दाल, नमक, रंग, मसाले इत्यादि की जरूरत होगी। इसके साथ ही नमकीन बनाने की कला से भी आपका अच्छा खासा परिचय होना चाहिए। अपने प्रोडक्ट को बनाकर उसकी पैकिंग कर के आप बाजार में इसे बेच सकते हैं। काम बढ़ने के बाद आप अपनी बड़ी फैक्ट्री खोल कर, और भी अधिक लोगों की सहायता से बड़े स्तर पर नमकीन का उत्पादन कर सकते हैं।

यह भी पढ़े : नमकीन मैन्युफैक्चरिंग बिजनेस कैसे शुरू करें

10) Mustard Oil Manufacturing Business ideas in Hindi 

अगर आपको किसी ऐसे बिजनेस की तलाश है जो कि एक से डेढ़ लाख रुपए के बीच में हो आस-पास में कोई कंपटीशन भी ना हो तो आप यह बिजनेस स्टार्ट कर सकते हैं मस्टर्ड ऑयल बनाने का बिजनेस स्टार्ट करके अच्छा खासा पैसा कमा सकते हैं मस्टर्ड ऑयल बिजनेस बहुत ही कम लोग करते हैं तथा इसमें फायदा बहुत ज्यादा होता है

यह बिजनेस को करने के लिए आपको मस्टर्ड ऑयल मेकिंग मशीन लानी पड़ेगी यह मशीन की लागत 2 से ₹3 लाख तक है यह मशीन लाकर आप एक तरफ से मास्टर डालकर दूसरी तरफ से मस्टर्ड ऑयल निकाल सकते हैं यह बिजनेस बहुत कम लोग करते हैं लेकिन इस बिजनेस में फायदा बहुत ज्यादा है

अगर आप अपने शहर को पूरी तरह से cover कर लेंगे तो आप हर महीने 30,000 से ₹40,000 तक कमा सकते हैं अगर आप ने बहुत बड़ा area cover कर रखा है तो आप इस Manufacturing Business से लाखों रुपए कमा सकते हैं आप इस मशीन के द्वारा शुरुआत में एक मशीन उसके बाद दो मशीन ऐसे कर करके अपनी खुद की मस्टर्ड ऑयल फैक्ट्री भी खोल सकते हैं 

यह भी पढ़े : Mustard Oil Mill Manufacturing Business कैसे शुरू करें

11) Shampoo And detergent Manufacturing Business 

प्रत्येक व्यक्ति अपनी रोजमर्रा की जिंदगी में shampoo और डिटर्जेंट का प्रयोग तो जरूर करता है आप शैम्पू एंड डिटर्जेंट मेकिंग मशीन लगवा के इसका बिजनेस कर सकते हैं शैम्पू एंड डिटर्जेंट मेकिंग बिजनेस करके अच्छा खासा प्रॉफिट कमा सकते हैं यह बिजनेस आप बहुत कम लागत में स्टार्ट कर सकते हैं

इस बिजनेस को स्टार्ट करने के लिए आपको पहले शॉप तथा डिटर्जेंट बनाने की अच्छी खासी जानकारी होनी चाहिए अगर आप अपने शहर तथा अपने जिला को cover कर लेते हैं तो आप इस बिजनेस के द्वारा महीने में हजारों लाखों रुपए कमा सकते हैं आप की साबुन की तथा डिटर्जेंट की क्वालिटी अच्छी होनी चाहिए तभी आपसे लोग डिटर्जेंट साबुन खरीदेंगे आप अपने बिजनेस का अलग-अलग रूप में एडवर्टाइजमेंट करवाकर अपने बिजनेस को growth दे सकते हैं यह एक unique बिजनेस है

यह भी पढ़े :

घर बैठे ऑनलाइन बिजनेस कैसे शुरू करें?

Agriculture Business Ideas in Hindi

12) Led Bulb Manufacturing Business ideas in Hindi 

आज के समय मे पुराने बिजली बल्ब और CFL का दौर जा चुका है ,इस समय लोग सस्ती ,टिकाऊ ,और छोटी लाइट ढूढ़ते हैं जो LED है।

LED में माइक्रो डायोड के द्वारा छोटे आकार में अधिक प्रकाश और अधिक उम्र दी जाती है जिससे एक समान प्रकाश मिलता रहता है।LED का निर्माण भी एक अच्छा व्यापार दे सकता है आपको ,इसके लिए अच्छे प्रशिक्षण और कच्चे माल की आवश्यकता होगी जो आप बड़े इलेक्ट्रॉनिक बाजारों से भी खरीद सकते हैं और मशीनों और कर्मचारियों की मदद से अच्छा पैसा भी कमा सकते हैं।बाजार में 1 LED का मूल्य लगभग 100+ है बाकी आप समझ सकते हैं।

यह भी पढ़े : LED Bulb मैन्युफैक्चरिंग बिजनेस कैसे शुरू करें

13) Paper Bag Manufacturing Business 

आज जहां पर हर जगह प्लास्टिक बैग का बिरोध हो रहा है और कई राज्य सरकारों के द्वारा प्लास्टिक बैग पर पूर्णता पावंदी भी लगा दी गई है,उस लिहाज से कागज के कैरी बैग की मांग काफी बढ़ गई है और कैरी बैग के बिना कोई भी समान ले जाना नामुमकिन है अर्थात कागज के कैरी बैग के मैन्युफैक्चरिंग का आइडिया बहुत अच्छा है जहां आप व्यापार के साथ-साथ समाज की भलाई का कार्य भी कर रहे हैं ,इसके लिए सरकार भी सहयोग कर रही है जिससे जल्द ही भारत को प्लास्टिक मुक्त बनाया जा सके।

इसके लिए आपको मशीनें ,गोंद ,डाई ,प्रेस और कागज की आवश्यकता होगी ,जिसके बाद आप आसानी से कुछ प्रशिक्षण के बाद कैरी बैग बना सकते हैं और बड़े-बड़े मार्केट ,शॉपिंग मॉल ,सब्जी बाजारों में थोक में सप्लाई कर सकते हैं।

यह भी पढ़े : पेपर बैग मैन्युफैक्चरिंग बिजनेस कैसे शुरू करें

14) Notebook/Copy Manufacturing Business 

पढ़ेगा इंडिया तभी तो बढ़ेगा इंडिया, ये बात बिल्कुल सही है। शिक्षा को लेकर समाज में जो बदलाव आया है, वह सराहनीय है। आज के समय में केवल शहरों के ही नहीं, बल्कि गांवों के बच्चे भी अच्छी शिक्षा ले रहे हैं। समाज ने शिक्षा को बच्चों का जन्मसिद्ध अधिकार के रूप में अपनाना शुरू कर दिया है। शिक्षा बच्चों का अधिकार है और उन्हें शिक्षा से वंचित रखना सबसे बड़ा अपराध। 

शिक्षा के प्रति इतनी तेज गति से जागरूकता बढ़ने का सबसे बड़ा प्रभाव स्टेशनरी के व्यवसाय पर पड़ा है। नोटबुक की खपत भी बहुत बढ़ गई है और आगे भी यह कम नहीं होने वाली है। इस समय में यदि कॉपी के उत्पादन से जुड़ जाया जाए तो काफी बढ़िया मुनाफा कमाया जा सकता है। इस उद्योग को शुरू करने से पहले आपको इसकी अच्छी जानकारी और अनुभव होनी चाहिए ताकि आगे चलकर कोई समस्या ना आए। 

इस व्यवसाय को शुरू करने के लिए आपको कुछ मशीनें जैसे एस स्क्वायर मशीन, पिन अप मशीन, कटिंग मशीन इत्यादि की आवश्यकता होगी। कच्चे माल के रूप में आपको कॉपी के पन्नों और उसके ऊपरी कवर को बनाने वाले कागजों की जरूरत पड़ेगी। नोटबुक के तैयार होने के बाद आप उस पर अपनी कंपनी का लोगो लगाकर आसानी से बाज़ार में बेच सकते हैं। इस उद्योग की मांग कम नहीं होने वाली है इसलिए आप इससे अच्छी कमाई कर सकते हैं।

यह भी पढ़े : नोटबुक कॉपी मैन्युफैक्चरिंग बिजनेस कैसे शुरू करें

15) Papad Manufacturing Business 

पापड़ बनाने का उद्योग- पापड़ बनाने का काम महिलाओं के लिए अक्सर सुझाया जाता है। महिलाओं के लिए इस उद्योग को सर्वोत्तम इसलिए भी कहा जाता है क्योंकि इस व्यवसाय को बेहद ही कम निवेश के साथ घर से ही शुरू किया जा सकता है। जो भी महिलाएं घर से ही अपना व्यवसाय शुरू करना चाहती हैं, वे पापड़ बनाने का कार्य कर सकती है।

यह छोटा- सा दिखने वाला व्यवसाय भी आपकी अच्छी खासी आमदनी करा सकता है। बहुत ही छोटे स्तर पर शुरू किया गया लिज्जत पापड़ का उद्योग आज पूरे भारत में अपनी एक अलग पहचान बना चुका है और पापड़ के सबसे प्रसिद्ध ब्रांड्स की सूची में दाखिल हो चुका है। 

पापड़ हमारे भारतीय थाली का एक ऐसा हिस्सा है जिसके बिना भोजन मानो अधूरा ही रह जाता है। एक पाचक खाद्य पदार्थ होने के कारण बाज़ार में इसकी मांग भी बहुत अधिक है। अलग-अलग प्रकार की दालों से बनने के कारण इसके कच्चे माल की उपलब्धता किसी भी क्षेत्र में आसानी से हो जाती है।

यह भी पढ़े : घर बैठे पापड़ मैन्युफैक्चरिंग बिजनेस कैसे शुरू करें

16) Agarbatti Manufacturing Business ideas in Hindi 

अगरबत्ती बनाने का उद्योग – अगरबत्ती की खुशबू से महकेगा आपका कारोबार। भारतवर्ष की संस्कृति में ईश्वरीय आस्था का अपना ही स्थान है। अनेको धर्मों की इस पवित्र भूमि पर कदम कदम पर आपको विभिन्न धर्मों के पूजा स्थल देखने को मिल ही जाएंगे। इसके साथ ही लोगों की सुबह की शुरुआत अगरबत्ती जलाकर ही होती है और शाम की प्रार्थना का विराम भी इन्हीं अगरबत्ती से होता है।इससे आप स्वयं अनुमान लगा सकते हैं कि इस बिज़नेस में कमाई और कामयाबी का कितना बेहतर स्कोप है।इसीलिए अगर आप अगरबत्ती का मैन्युफैक्चरिंग यूनिट लगाते हैं तो यह एक सफल कारोबार साबित हो सकता है।

अगरबत्ती बनाने के राॅ मटेरियल (Raw Material) भारत के लगभग सभी राज्यों में आसानी से उपलब्ध हो जाते हैं इसलिए यातायात (Transportation) में अधिक खर्चा नहीं लगता है और ना ही इसके लिए किसी बड़े सेटअप की ज़रूरत होती है। आप एक छोटे से कमरे से भी इस व्यवसाय को शुरू कर सकते हैं।

भारतीय बाजार में अगरबत्तियों की मांग कम नहीं होने वाली है तो यदि आपकी अगरबत्ती की क्वालिटी बढ़िया होगी तो आपको इसकी बिक्री के लिए अधिक चिंतित होने की जरूरत नहीं है क्योंकि यह एक ऐसी चीज़ है जिसके लिए किसी बड़ी कंपनी के टैग की विशेष आवश्यकता नहीं है। 

कच्चे माल को इकट्ठा करके कुछ लेबरों के साथ मिलकर आप इस उद्योग को बहुत ही कम निवेश के साथ आसानी से शुरू कर सकते हैं। बाजार में अपने काम की पहचान बनाने के लिए शुरुआत में आप इन्हें सस्ते दामों पर बेचें।

यह भी पढ़े : अगरबत्ती मैन्युफैक्चरिंग बिजनेस कैसे शुरू करें

17) Furniture Manufacturing Business 

लकड़ी के फर्नीचर घर की खूबसूरती तो बढ़ाते ही हैं, साथ ही हमारी जीवन शैली में एक महत्वपूर्ण स्थान भी रखते हैं। बिना लकड़ी के फर्नीचर के घर कुछ खाली- खाली सा जरूर लगता है। लगभग सभी व्यक्तियों को अपने घर को व्यवस्थित करने के लिए फर्नीचर की जरूरत पड़ती ही है, जैसे- कुर्सी, टेबल, अलमीरा इत्यादि।

हालांकि प्लास्टिक के सामानों के बाजार पकड़ने के कारण कुछ समय के लिए लोगों का ध्यान लकड़ी के सामानों से जरूर हट गया था लेकिन अब जैसे-जैसे प्लास्टिक के दुष्प्रभावों से लोगों का सामना हो रहा है, उससे लोगों का मन इससे हटता हुआ दिखाई पड़ रहा है। आज सभी प्राकृतिक चीजों की ओर अधिक आकर्षित हो रहे हैं और यही कारण है कि लकड़ी के फर्नीचर का भविष्य चमकता हुआ नजर आ रहा है।

यदि आपको बढ़ई का काम आता है तो आप यह कार्य भी शुरू कर सकते हैं या अगर इस कार्य का ज्ञान नहीं है तो भी आप कुछ ऐसे लोगों को जिन्हें ये कार्य आता है, उनके साथ मिलकर अपना फर्नीचर का बिजनेस शुरू कर सकते हैं।

इस व्यवसाय को शुरू करने के लिए आपको निवेश करने की जरूरत पड़ेगी। यह कार्य मशीन से या हाथ वाले औजारों का प्रयोग करके किया जा सकता है। इस बिजनेस में आपको कुछ मजदूरों की जरूरत भी पड़ सकती है।

यह भी पढ़े : फर्नीचर मैन्युफैक्चरिंग बिजनेस कैसे शुरू करें

18) Artificial Handmade Jewellery Manufacturing Business 

आजकल सोने की ज्वेलरी पहनना जायद सुरक्षित नही माना जाता है क्योंकि महिलाओ से महंगी ज्वेलरी के कारण ज्यादा चोरी और लूट के केस अक्सर आते रहते हैं और आज के समय में महिलाएं बिना ज्वेलरी के भी रहना पसन्द नही अर्थात इसके बिकल्प के रूप में आर्टिफिशियल हैंडमेड ज्वेलरी का चलन है अर्थात सस्ती धातुओ की ज्वेलरी का जो देखने मे सोने की ज्वेलरी की तरह बेहद खूबसूरत लगती है।

जो अलग-अलग सस्ती धातुओं के द्वारा बनाई जाती है,इसके लिए कच्चे माल में धातुएं और कई प्रकार की ज्वेलरी की डाई ,साँचे आदि की आवश्यकता होती है,नकली ज्वेलरी की मांग मार्केट में बहुत अधिक है जिससे प्रॉफिट होना ही है ,आप अच्छी डिजाइन के साथ मार्केट में अच्छी पहचान बना सकते हैं और मांग भी बढ़ा सकते हैं।

यह भी पढ़े : घर से आर्टिफिशियल ज्वेलरी मैन्युफैक्चरिंग बिजनेस कैसे शुरू करें

19) Toys Manufacturing Business ideas in Hindi 

बच्चे अक्सर खिलौनों की जिद करते रहते हैं ,हर बच्चे के लिए खिलौने के मायने बहुत अधिक होते हैं जिससे खिलौने का व्यापार आसानी से किया जा सकता है जिसे किसी भी मार्केट में आसानी से बेंचा जा सकता है लेकिन इसके लिए बड़ी मशीनों और नए खिलौनों के आईडिया की जरूरत होती है जिससे आपकी कमाई और आपका व्यापार खूब तरक्की कर सकता है ,आप मजबूत और नए आईडिया के इलेक्ट्रॉनिक अथवा यांत्रिक खिलौने बना सकते हैं जो बच्चो को आसानी से आकर्षित कर सके।

खिलौनों की मैन्यूफैक्चरिंग के लिए कच्चे माल के रूप में प्लास्टिक द्रव ,मशीने ,डाई ,रंग औऱ खिलौनों के डिजाइनर की आवश्यकता होती है,जिसके बाद आप डायरेक्ट या इनडाइरेक्ट खिलौनो को बाजार में बेंच सकते हैं।

20) Bread Manufacturing Business 

हमारे दैनिक जीवन में ब्रेड कोई नया नाम नहीं है। इस खाद्य पदार्थ की उपयोगिता हम सभी बेहतर समझते हैं। सुबह के नाश्ते में देर हो जाए तो ब्रेड जैम खाकर ही ऑफिस की ओर निकल जाओ, कितनों के साथ ऐसा हुआ है। सुबह की सैंडविच से लेकर शाम के मजेदार ब्रेड पकौड़े तक, ब्रेड का उपयोग अधिकांश भारतीय रसोई में किया ही जाता है। बेकरी प्रोडक्ट्स की रेस में ब्रेड सबसे ज्यादा इस्तेमाल किए जाने वाला नाम है। आपको अलग- अलग तरीके के ब्रेड देखने को मिलेंगे, जैसे- वाइट ब्रेड, ब्राउन ब्रेड, मक्खन ब्रेड, सैंडविच ब्रेड, फ्रूट ब्रेड इत्यादि। ब्रेड की बिक्री लगभग पूरे साल ही होती है।

अगर आप भी Manufacturing Business ideas in Hindi करना चाहते हैं तो आपको जानकर खुशी होगी कि इस व्यवसाय को शुरू करने के लिए बहुत ही कम निवेश की आवश्यकता पड़ती है। यदि आप कार्य को जल्दी करना चाहते हैं तो कुछ मशीन, जैसे- अवन माइक्रोवेव व ब्रेड मोल्ड को भी खरीद सकते हैं। सबसे अच्छी बात यह है कि अगर आपके ब्रेड की क्वालिटी अच्छी होगी तो आपका बाजार बड़ा होने में कोई समस्या नहीं आएगी क्योंकि ज़्यादातर शहरों में लोकल कंपनियों की बिक्री ही अधिक होती है।

मैन्युफैक्चरिंग बिजनेस से जुड़े लोगों द्वारा पूछे जाने वाले सवाल

मैन्युफैक्चरिंग में कौन कौन से काम आते हैं?

Ans: मैन्युफैक्चरिंग में ऐसे बहुत सारे काम आते है जिसका निर्माण कर के एक नई बस्तु कम से कम लागत में बनाई जाती है जैसे मोमबत्ती बनाना, नमकीन बनाना, साबुन बनाना, अगरबत्ती बनाना इत्यादि।

 मैन्युफैक्चरिंग का बिजनेस शुरू करने के लिए कितनी लागत लग सकती है?

Ans: मैन्युफैक्चरिंग का बिजनेस शुरू करने में लागत की बात करे तो इनमे अन्य बिज़नेस से थोड़ी ज्यादा लागत लगानी पड़ती है कम से कम 2 लाख से 10 लाख तक की लागत लगेगी

 मैन्युफैक्चरिंग बिजनेस से कितनी कमाई हो सकती है?

Ans: यदि आप मैन्युफैक्चरिंग बिजनेस से कमाई की बात करें तो यह बिजनेस के ऊपर निर्भर करता है की आप कौन सा बिजनेस करने वाले हो और कितने बड़े पैमाने में करोगे फिर भी आप शुरुआती समय में भी 30 हज़ार से लेकर 1 लाख रुपए तक कमा सकेंगे

 मैन्युफैक्चरिंग का बिजनेस कौन शुरू कर सकता है?

Ans: यह बिजनेस कोई भी व्यक्ति शुरू कर सकता है अगर आपके अंदर अच्छी रणनीतियाँ और मेहनत करने की काबिलियत है तो आप मैन्युफैक्चरिंग का बिजनेस शुरू कर सकते है

 मैन्युफैक्चरिंग बिजनेस के लिए कौन कौन से लाइसेंस लेनी होती है?

Ans: मैन्युफैक्चरिंग बिजनेस शुरू करने के लिए सबसे पहले आपको मैन्युफैक्चरिंग लाइसेंस मैन्युफैक्चरिंग विभाग से जाकर लेना होगा लाइसेंस प्राप्त करने के बाद आप आसानी से मैन्युफैक्चरिंग का बिजनेस शुरू कर सकते है 

यह भी पढ़े :

बारह महीने कमाई वाला बिजनेस आइडियाज

महिलाओं के लिए घर बैठे बिजनेस आइडियाज 

42 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published.

error: