Sweet and Snacks शॉप बिजनेस कैसे शुरू करें पूरी जानकारी

Sweet and Snacks शॉप बिजनेस कैसे शुरू करें पूरी जानकारी – भारत देश कई चीज़ों के लिए दुनियाँ में मशहूर है, जिनमे से एक है, यहा के खान पान में विविधिता यहां पूर्व से लेकर पश्चिम तक तो उत्तर से लेकर दक्षिण तक खान पान के ढंग अलग ही हैं जब बात खान पान की रही हो, और हम मिठाई के भूल जाये यह कैसे हो सकता है आप देश की किसी भी क्षेत्र में चले जाएं, मिठाई एक ऐसा भोज्य पदार्थ है, जो सभी जगह पसंद किया जाता है हाँ यह बात जरूर है कि हर क्षेत्र के साथ इसके स्वरूप और नाम के परिवर्तन आ सकता है, लेकिन स्वाद और लोगो को इसे खाने की ललक एक सी रहती है लोगों की जरूरत जितनी बड़ी होगी, उस क्षेत्र में बिजनेस की संभावना भी उतनी ही ज्यादा होती है इसलिए यदि कोई Sweets और Snacks से जुड़ा हुआ कोई बिजनेस शुरू करना चाहता है तो यह एक अच्छा आइडिया है आज के वक़्त में Sweets के साथ ही sSnacks का भी बहुत प्रचलन बढ़ रहा है लोग ऐसे भोज्य पदार्थों को ज्यादा पसंद कर रहे है जो कम समय मे बन कर तैयार हो जाये साथ ही वह भोजन स्वाद में भी अच्छा हो Snacks एक ऐसा ही भोज्य पदार्थ है यह बहुत जल्दी ही बनकर तैयार भी हो जाता है, साथ ही इसका स्वाद भी लोगो के द्वारा बहुत पसंद किया जाता है तो आइए जानते है कि Sweet and Snacks का बिजनेस कैसे शुरू करें

क्या Sweet and Snacks शॉप बिजनेस की मांग है?

कोई भी बिजनेस शुरू करने से पहले इस बात का अनुमान लगाना अभूत जरूरी है कि क्या आप जो बिजनेस शुरू करने की योजना के बना रहे है उस बिजनेस की मांग कितनी है? इसी आधार पर आप अपने बिजनेस की आगे की योजनाएं तय कर सकते हैं यदि Sweet and Snacks के बिजनेस की बात की जाए तो इस बिजनेस का बहुत बड़ा बाजार है जैसा कि हम जानते है कि भारत के त्यौहारों का देश है यहाँ साल भर कोई न कोई त्यौहार आता ही रहता है कभी होली तो कभी दीवाली, कभी ईद आदि साथ ही हमारे समाज मे परंपरा है कि त्यौहार में मिठाई तो होना ही चाहिए इसे शुभता का प्रतीक भी माना जाता है इसलिए यह कह सकते है कि मिठाई का बिजनेस एक अच्छा बिजनेस साबित हो सकता है मिठाई के साथ ही यदि आप Snacks का भी बिजनेस शुरू कर देते है तो इसमे भी कोई घाटा नही है क्योंकि आज Snacks भी लोगो को बहुत पसंद आ रही है यह उनकी रोजमर्रा की जीवन का एक अहम हिस्सा बन चुका है इसलिये यदि कुल मिलाकर कर देखें तो समझ आता है कि Sweet and Snacks का बिजनेस एक फायदेमंद बिजनेस साबित हो सकता है

Sweet and Snacks बिजनेस से जुड़ी कुछ जरूरी बातों का ध्यान रखें

जब भी Sweet and Snacks से जुड़ा हुआ बिजनेस आप शुरू करें, उसके पहले आप कुछ जरूरी बातों का ध्यान अवश्य रखें जैसे

आपके शॉप की लोकेशन क्या है? 

Sweet and Snacks के बिजनेस में इस बात का बहुत अधिक फर्क दृढ़ता है कि आपके शॉप की लोकेशन क्या है क्यों कि जब भी कोई व्यक्ति भूखा होगा और उसे Snacks खाने की जरूरत महसूस होगी तो वह उसी शॉप में जाएगा, जो उसे सामने दिख रही होगी इसलिए यह बहुत महत्वपूर्ण है कि आपके शॉप की लोकेशन ऐसी जगह पर होनी चाहिए जहां अधिक लोगो का आवागमन होता हो अन्यथा आप भले ही कितना भी बढ़िया Snacks और मिठाई देने में सक्षम हो, यदि वह लोगो की पहुँच से दूर है तो आपको उतना फायदा नही मिल पायेगा जितने फायदे के आप हकदार हैं इसलिए लोकेशन का ध्यान रखें

अपने Sweet and Snacks शॉप की मार्केटिंग कैसे करे

आज जमाना मार्केटिंग का हैं आज हर चीज़ की मार्केटिंग की जाती है, ताकि वह ज्यादा से ज्यादा लोगो के बीच अपनी पहचान बना सके इसलिए आपके नए बिजनेस में मार्केटिंग एक अहम रोल निभा सकता है माकेटिंग के भी कई तरीके हैं वही डिजिटल मार्केटिंग भी कर सकते है डिजिटल मार्केटिंग के तहत अपने अपने शॉप से जुड़ी हुई कोई एक वेबसाइट या ब्लॉग बना कर उसके बारे में सारी जानकारियां डाल सकते है इसके अलावा आप चाहे तो शहर के समाचार पत्रों में अपने शॉप की Ad निकलवा सकते है आप अपने शॉप के नाम की छोटे छोटे बैग्स छपवा सकते है यह सब मार्केटिंग के तहत ही आता है आपका बस एक उद्देश्य होना चाहिए कि आखिर किन किन माध्यमों से आप अपने बिजनेस को लोगो तक पहुंचा सकते हैं

अपने Sweet and Snacks शॉप के लिए जरूरी लाइसेंस ले

यदि आप आधिकारिक तौर पर एक बड़ी Sweet and Snacks से संबंधित शॉप खोलने की योजना कर रहे है तो आपको इसके लिए कुछ जरूरी लाइसेंस लेने पड़ेंगे ताकि आपको भविष्य में किसी भी प्रकार की दिक्कत का सामना करना न पड़े

इसके लिए आपको इन सब लाइसेंस की जरूरत पड़ेगी

1) फ़ूड लाइसेंस – यह लाइसेंस किसी भी खाद्य आधारित बिज़नेस के लिए बहुत जरूरी होता है इस लाइसेंस को प्राप्त करने के दो तरीके होते है पहला तो यह कि आप ऑनलाइन जाकर इसमे अपना रजिस्ट्रेशन कर सकते है इसके लिए आपको www.Fssai.gov.in वेबसाइट पर जाना पड़ेगा यहां पर आपको आवश्यक फॉर्म भरना पड़ेगा जिसके बाद आपकी रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी पर यदि आप ऑनलाइन नही कर सकते हैं तो इसके लिए कई ऐजेंसी भी हैं, जो आपसे करीब 5000 रु लेकर आपका रजिस्ट्रेशन करवा देंगे इसमे पेपरवर्क के साथ ही रजिस्ट्रेशन की फीस भी सम्मलित है आपको यह लाइसेंस प्रति वर्ष रिन्यूअल कराना पड़ेगा यदि आप प्रतिवर्ष इस प्रक्रिया से बचना चाहते है तो आप 5 वर्ष के लिए भी रजिस्ट्रेशन करा सकते है

2) GST रजिस्ट्रेशन – GST लागू होने के बाद यह रजिस्ट्रेशन भी अनिवार्य हो गया है आप किसी भी चार्टेड अकाउंटेंट की मदद से यह रजिस्ट्रेशन करवा सकते है

3) हेल्थ लाइसेंस – यह लाइसेंस आपको अपने शहर से ही हासिल करना होता है इसके लिए आपको म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन से संपर्क स्थापित करना पड़ेगा म्युनिसिपल इंस्पेक्टर पहले आपकी शॉप का निरीक्षण करेंगे, उसके बाद आपको म्युनिसिपल कारपोरेशन हेल्थ लाइसेंस हासिल होगा इस पूरी प्रक्रिया में करीब 3000 रु का खर्च आएगा

4) फायर लाइसेंस – यह लाइसेंस आपको तब दिया जाता है जब यह सुनिश्चित जो जाए कि आपकी शॉप पूरी तरह से आग से सुरक्षित है

Sweet and Snacks बिजनेस शुरू करने के लिए किन चीज़ों की आवश्यकता पड़ेगी

Sweet and Snacks का बिजनेस एक ऐसा बिज़नेस है, जिसमे आपको शुरू से ही एक कुशल टीम की जरूरत पड़ेगी एक ऐसी टीम जो इन खाद्य पदार्थों का उत्पादन करने के साथ ही शॉप सी जुड़ी हुई जिम्मेदारी को संभाल सके इसके बाद यदि सामानों की बात करें तो इसके लिए आपको इन चीज़ों की जरूरत पड़ सकती है

कई बड़े बड़े कड़ाहे
गैस
एक बड़ा सा चूल्हा
कुछ बर्तन जिन पर मिठाई रख सके.
एक बड़ा सा फ्रीजर
एक कमरा
लोगो के बैठने के लिए टेबल और कुर्सियां
पानी के लिए एक टंकी
कुछ हलवाई
कारखाने से मिठाई शॉप तक ले जाने के लिए कोई साधन
ये कुछ ऐसी जरूरत की चीज़ें है, जिनके बिना यह बिज़नेस नही शुरू हो सकता है

Sweet and Snacks शॉप बिजनेस में कितना इन्वेस्टमेंट करना पड़ेगा

शुरुआत में इस बिजनेस मर जो मुख्य रूप से इन्वेस्टमेंट होगा वह कमरे और उसके फर्नीचर पर होगा इसके बाद मिठाई बनाने की सामग्री में होगा यदि एक अनुमान लगाएं तो प्रारंभिक लागत करीब 1 lakh से 1,50 lakh तक पड़ेगी

Sweet and Snacks शॉप बिजनेस से कितना मुनाफा जो सकता है

यदि मिठाई के बिजनेस से मुनाफे का अनुमान लगाना जो तो यह देखना जरूरी है कि मिठाई के बिजनेस में मुख्य रूप से खर्च दूध और शक्कर, खोवा का होता है यदि आज सबसे सस्ती मिठाई की भी बात करें तो वह भी 200 रु प्रति किलो से कम की तो नही ही मिलती है अब एक अनुमान लगाते है कि एक किलो मिठाई की कीमत है 200 रु जिसमे करीब आधा किलो शक्कर लग जाये यदि तो उसकी कीमत 23 रु हुई दूध भी यदि 2 किलो लग जाये तो उसकी कीमत 80 रु हुई इस प्रकार 1 किलो मिठाई में मोटे तौर पर 100 रु का फायदा होता है इस प्रकार आप इसे आधार मानकर यह अनुमान लगा सकते है कि बड़े पैमाने पर जब आप मिठाईयां बनाएंगे तो प्रति किलो पर होने वाला खर्च भी घट जाएगा, जिससे आपका फायदा और ज्यादा बढ़ सकता है

इस प्रकार यह कह सकते हैं कि यह बिजनेस फायदा देने वाला है यह एक ऐसा बिज़नेस है जो हर महीने चलता है, तो यदि कोई यह बिजनेस करना चाहता है, तो बिल्कुल शुरू कर सकता हैं

8 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: