जानिए घर बैठे Data Entry की जॉब कैसे करें?

घर बैठे Data Entry Job के माध्यम से आप कमा सकते हैं ₹15000 से ₹35000 तक हर महीने

आप हाउसवाइफ हो? स्टूडेंट हो ? या तुरंत पैसे कमाने की तलाश में हो? और ऐसे सोर्सेस की तलाश कर रहे हो जो की विश्वसनीय हो??या बहुत सारी जगह पर जॉब के लिए अप्लाई करने के बाद भी आपको किसी तरफ से कोई उत्तर नहीं मिल रहा है ?और कोरोना काल में अगर आप भी अपनी नौकरी गवा बैठे हैं ?तो आज की जानकारी आपके लिए बहुत ही उपयुक्त और फायदेमंद है!

जिनको घर से बाहर काम के लिए जाना असंभव या मुश्किल होता है, या फिर घर में बच्चे छोटे होने के कारण जिन महिलाओं को घर पर ही रुकना पड़ता है ,क्वालिफिकेशन है,इच्छा है और स्किल भी है, कुछ करने की मन में उम्मीद भी है और अगर घर बैठे कोई जॉब मिल सके जिससे घर के खर्चों मे हाथ बटाँ सका जाये?

तो आप की तलाश यहा खत्म हो जायेगी,आज हम जिस जॉब के बारे में बताने जा रहे है,उसके लिये आपको कही भी जाने की जरुरत नहीं है,आपके पास सिर्फ अपना स्मार्ट फोन लॅपटॉप या डेस्कटॊप भी है तो भी आप घर बैठे डाटा एंट्री जॉब करके अच्छा खासा महीने का इनकम कमा सकते हो!

क्या होती है डाटा एंट्री की जॉब?

डाटा एंट्री की जॉब का सीधा मतलब है डाटा को एंटर करना। क्लायेंट के दिये गये काम मे डाटा एंटर करना,समय समय पर डाटा अपडेट करना और डाटा मेंन्टेन करना यह डाटा एंट्री जॉब का वर्किंग टास्क होता है!

डाटा एंट्री की जॉब में क्या क्या शामिल होता है?

अगर आपको इस जॉब के बारे में कुछ भी पता नहीं है, तो कोई बात नहीं हम आपको बताएंगे डाटा एंट्री जॉब के बारे में पूरी जानकारी। आमतौर पर आपने देखा होगा स्कूलों में, कॉलेजों में, यूनिवर्सिटी में विद्यार्थियों के संबंध में जानकारी कंप्यूटर की एक क्लिक पर आपको सामने दिख जाती है। जब आप कभी एडमिशन लेने जाते हो? तो वहां क्लेरिकल स्टाफ आपके सामने कम्प्युटर पें जानकारी डालते हुये आपने कई बार देखा होगा। यह जानकारी कैसे आ जाती है कंप्यूटर पर?

जब आप नौकरी ढूंढने के लिए किसी वेबसाइट पर सर्च करते हो तो आपको उस साइट पर बहुत सारे ऑप्शन आ जाते हैं, साथ में ही कामों की डिटेल्स लिस्ट सामने इंटरफेस पर आ जाती है ,वह भी जानकारी डाटा एंट्री के माध्यम से ही कंप्यूटर में अपलोड की जाती है।

आरटीओ ऑफिस में जब हम कभी किसी काम के लिये जाते है,तब हमारे गाड़ी नंबर डालनेपर से मात्र सारी जानकारी कम्प्युटर स्क्रिन पर दिखाई देती है! ये सारी डिटेल्स हमारे नाम के साथ आरटीओ ऑफिस में रिकॉर्ड हो जाती है वह रिकॉर्ड करने का काम भी डाटा एंट्री के द्वारा ही किया जाता है!

जो लोग जॉब करते हैं ,उनके जॉब डिटेल्स और उनकी सैलरी के बारे में जानकारी का डाटा भी कंप्यूटर में फिट किया जाता है ।वो काम भी डाटा एंट्री के द्वारा ही किया जाता है, इससे आपको समझ में आ गया होगा कि डाटा एंट्री वर्क क्या होता है?

डाटा एंट्री की जॉब कौन कर सकता है ?

डाटा एंट्री की जॉब कोई भी कर सकता है मगर आपको बेसिक कंप्यूटर का नॉलेज होना इसमें बहुत जरूरी होता है। अगर आप एमएस एक्सेस , एमएस वर्ड में काम करना जानते हैं और आपका अच्छा खासा टाइपिंग स्पीड है तो आप यह डाटा एंट्री का जॉब कर सकते हो।

डाटा एंट्री की जॉब किस प्रकार होती है?

डाटा एंट्री की जॉब आपको दो प्रकार में अवेलेबल होती है एक तो ऑफलाइन डाटा एंट्री जॉब और दूसरा ऑनलाइन डाटा एंट्री जॉब!

ऑफलाइन डाटा एंट्री जॉब – इसमें आपको इंटरनेट की जरूरत नहीं पड़ेगी। आपको घर बैठे काम मिल सकता है।किसी एजेंसी द्वारा आपको काम के डिटेल्स घर पर पोस्ट या कुरिअर से पहुंचाए जाते हैं। उसके बाद आपको डेडलाइन यानि दिए गए समाये में वह काम पूरा करके वापस उन्हें कुरीअर या पोस्ट से भेज देना पड़ता है।

ऑनलाइन डाटा एंट्री जॉब – इसमें आपको ऑनलाइन ही काम करना पड़ता है ,जिसमें आपको एक अच्छा सा इंटरनेट कनेक्शन चाहिए होता है ।आपके पास लैपटॉप या डेस्कटॉप होना बहुत जरूरी होता है,आपको टाइपिंग का स्पीड 40 से 60 वर्ड पर मिनट का है तो आपके लिए यह जॉब पर्फेक्ट है ।

डाटा एंट्री जॉब कहां से मिलेगी?

आपको बहुत सारे वेबसाइट मिलेंगे जहा से डाटा एंट्री जॉब को पाना बहुत आसान है। आपको उन वेबसाइट पर अपना नाम रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। ऐसी वेबसाइटों पर रजिस्ट्रेशन के कोई चार्जेस नहीं देने होते हैं ,मगर आजकल कुछ वेबसाइट रजिस्ट्रेशन के चार्जेस भी लेते हैं। मगर वो नाममात्र फी होती है। यह वेबसाइट पर डिपेंड होता है। एक बार आपने अपना नाम ऐसी वेबसाइट पर रजिस्टर्ड कर दिया तो उसके बाद आपको उस वेबसाइट्स के द्वारा आपके नॉलेज और स्किल के अनुसार जॉब उपलब्ध हो जाएंगे।

ऐसी वेबसाइटों में freelancer.com , upwork.com, fiverr.com ऐसी अनेक वेबसाइट है। इन वेबसाइट्सपर आपको बहुत काम मिल जाएगा।

ऐसी वेबसाइट पर नये नये जॉब के रिक्वायरमेंट और काम के बारे में जानकारी दी जाती है और आपको आपके स्किल के अनुसार सिलेक्ट किया जाता है। जिसमें यह वेबसाइट एक मेडिएटर का रोल अदा करती है, जो क्लाइंट को आप से कनेक्ट करते है। आप को काम दिलवाने की कमीशन को माइनस करके यह वेबसाइट आपको आपके काम की पेमेंट कराती है। जिससे लाखो लोग जोड़कर ये वेबसाइट्स अपना काम चलाती है।

आज हजारों लोग ऐसी वेबसाइटों से लाखों रुपए कमा रहे हैं! आपको केवल ऐसी वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन करके अपना खुद का एक प्रोफाइल बनाना पड़ता है जिस प्रोफाइल के जरिए क्लाइंट आपके बारे में जानकारी लेते हैं और आपको आसानी से काम दिया जाता है।

अगर आप अपना काम अच्छे से ईमानदारी से और डेडलाइन के पहले सबमिट करते हो ,तो आपको क्लायेंट से फाइव स्टार में से स्टार दिए जाते हैं। जिसके जरिए जिससे आपको नये क्लायेंट भी अप्रोच करते है। जिससे आपको दिन-ब-दिन कामों में रेकमेंड किया जाता है। जिससे आपके क्लाइंट भी बढ़ जाएंगे और आपको समय-समय पर नया काम भी मिलता जाएगा। बस आपको काम ईमानदारी से और मेहनत से करना होगा !

डाटा एंट्री की जॉब में क्या-क्या काम करने पड़ते हैं?

वैसे डाटा एंट्री का जॉब बहुत ही बड़ा है। इसमें बहुत सारे क्षेत्र शामिल है। स्कूलों, यूनिवर्सिटी ,कॉलेजों के स्टूडेंट्स का डाटा अपडेट करना, मेंटेन करना, सेंड करना यह ऑफलाइन डाटा के एंट्री के काम है। आरटीओ ऑफिस के लिए काम करना, EXCEL शीट में काम करना,सैलरी स्लिप बनाना, बैंक के लिये काम करना ऐसे अनेक ऑफलाइन काम भी आपको मिल जाते हैं जिसमें आपको पीडीएफ को कन्वर्ट करना होता है। कुछ क्लाइंट ऑडियो वीडियो रिकॉर्डिंग फाइल देकर उसमे रेकॉर्डेड बाते टाईप करने का काम देते है, उसे लिखवाने का काम भी आप से करवा लेते हैं।

डाटा एंट्री जॉब के प्रमुख वर्क-

ट्रांसलेशन जॉब, कॉपी पेस्ट जॉब ,एक्सपोर्ट फाइल इन डिफरेंट फॉर्मेट, वेब रिसर्च, डाटा स्क्रेपिंग, डाटा कन्वर्जन, इमेज टू टेक्स्ट, प्लेन टेक्स्ट टाइपिंग, रिफॉर्मेटिंग एंड कॉरिलेशन ,मेडिकल ट्रांसक्रिप्शन, कंटेंट राइटिंग, ट्रांसलेशन जॉब, कॉपी पेस्ट वर्क ,ऐसे बहुत सारे काम डाटा एंट्री में आते हैं।

साथ साथ ही जिन व्यवसाय में लोगों की डिटेल्स की एंट्री करनी पड़ती है ,जिसमें मैरेज ब्युरो,जॉब ब्युरो ऐसे मैट्रिमोनियल साइट हो या नौकरियों की साइट्स और उसके डाटा मे लोगों के नाम एंटर करना,मेन्टेन करना ,अपडेट करना, इसके हेतु हमेशा डाटा एंट्री ऑपरेटर की जरूरत होती है । इसमें आपको जॉब भी बड़ी आसानी से मिल सकता है ।क्योंकि ऐसी वेबसाइट चालक हमेशा ऐसे कैंडिडेट को ढूंढते रहते है, जो उनका वेबसाइट मेंटेन करते रहे !

कब कैसे और कहां से करें स्टार्ट?

अगर आप मेहनती हो और आप काम करने के लिए तैयार हो तो आप अभी से ही अपने नॉलेज और स्किल को खुद की मेहनत से पैसा कमाने में लगा सकते हो, ना कि 9 से 5 जॉब करके अपना दिमाग दूसरे के लिए यूज करने में व्यस्त करने की कोई जरुरत है। आपको केवल चाहिए लैपटॉप या डेक्सटॉप और अच्छा सा इंटरनेट कनेक्शन ! कंप्यूटर का बेसिक नॉलेज और अच्छी टाइपिंग स्पीड!

डाटा एंट्री जॉब से कितना पैसा कमाया जा सकता है?

इसमें कोई लिमिटेशन नहीं है। आप जितना चाहे अपने क्लाइंट बना सकते हो और जितना चाहे आप काम कर सकते हो। आपकी मेहनत और लगन से आप अपने काम कर सकते हो और इसमें उत्पन्न हो या इन्कम कमाने की कोई भी एक लिमिट नहीं है! आप चाहे तो बहुत कुछ कमा सकते हो! आपको सिर्फ खुद को अपडेट रखना पड़ेगा और साथ-साथ में आपको अपना नॉलेज भी मेंटेन रखना पड़ेगा! रिसर्च करते रहना होगा जो आप हमेशा पढ़ते रहने में उपयोगी होगा। आजकल आसपास क्या चल रहा है,चौकन्ना रहना होगा क्योंकि बहुत सारे डाटा एंट्री जॉब में रिसर्च पर बहुत ज्यादा फोकस किया जाता है। जिसकी वजह से आपको नॉलेज के साथ अपडेट रहना भी बहुत जरूरी है ।साथ में उस नॉलेज को मेंटेन भी करना बहुत जरूरी है। अगर आप को कुछ अच्छा करना है ,खुद के लिए करना है तो आप घर बैठे भी डाटा एंट्री के जॉब के द्वारा बहुत पैसे कमा सकते हो!

डाटा एंट्री जॉब में कोई रिस्क है??

वैसे डाटा एंट्री जॉब में कोई भी रिस्क नहीं है ,मगर आजकल बहुत सारी फेक वेबसाइट्स आ रही है जो कैंडिडेट से काम देने के लिये पैसे मांग रही है। जिसके जरिए वह झूठा प्रचार करते हैं कि आप इतने पैसे भरो और हम आपको काम देंगे! तो आपको पहले खुद से ध्यान रखना पड़ेगा और अलर्ट होना पड़ेगा कि वह वेबसाइट प्रॉपर वेबसाइट है या फेक है? क्योंकि आपको वेबसाइट के रिव्हिव्यु में पता चल जाता है कि उस वेबसाइट से लोगों ने पैसे कमाये भी या सच में काम करके आपको पैसा भी देती है ??क्योंकि कुछ फेक वेबसाइट लोगों से पूरा महीना भर काम करवाती है और पेमेंट देने के टाइम पर रिस्पॉन्स देना बंद कर देते है! इसलिए आपको खुद अपनी सोच समझ से जाँच कर इन वेबसाइट पर ध्यान देना होगा और फिर ही अपने काम को शुरू करना होगा ।

डाटा एंट्री जॉब कहां से शुरू करें?

अगर आप इस क्षेत्र में नए है या पहले आपने कभी डाटा एंट्री का काम नहीं किया है, तो पहले आपको छोटे-छोटे टास्क सीखने पड़ेंगे। जिसके बाद आपको नॉलेज और स्किल डेवलप होता जाएगा और आपको कॉन्फिडेंस भी आ जाएगा, कि आप आगे क्या कर सकते हो? इसलिए जिस बारे में आपको पूरी तरह जानकारी है, या फिर बेसिक नॉलेज है,तब उसी टास्क को काम करने के लिए आप क्लाइंट से हाँ करें !अगर आपको किसी टास्क के बारे में कोई जानकारी नहीं है तो क्लाइंट से आप बोल सकते हैं कि मैं फ्रेशर हूँ और मुझे इस काम के बारे में इतना कुछ पता नहीं है । क्लाइंट आप पर विश्वास रखेंगे और आपको पूरी जानकारी भी प्रदान करेंगे। आपको काम के बारे में कोई परेशानियां भी इसमें झेलने नहीं पड़ती है, बस आपको ओपनली अपने क्वेरीज क्लायेंट्स से बोलने पडेंगे ,जिसके कारण आपके प्रति क्लायेंट का विश्वास भी बढ़ेगा और आपके इमानदार बरताव सें फ्यूचर में कोई परेशानियां नहीं आयेंगी और आप को काम में बढ़ौतरी भी मिल जायेगी।

यह भी पढ़े :

घर बैठे पैकिंग का काम कैसे करें

महिलाओं के लिए घर बैठे बिजनेस आइडियाज

घर बैठे ऑनलाइन बिजनेस कैसे करें

6 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: