कक्षा 10 के बाद छात्र क्या करे पूरी जानकारी करियर विकल्प

जानिए कक्षा 10 के बाद छात्र क्या करे, 10 के बाद कौन सा सब्जेक्ट ले? बेस्ट करियर-स्कोप

भारत मे जब कोई विद्यार्थी कक्षा 10 पास कर लेता है तो उसके सामने हजारों options खुल जाते है , फिर वह तय नही कर पाता कि वह करे तो क्या करे ?

कक्षा 10 के बाद उसके सामने सबसे बड़ी समस्या तो ये होती है कि वह कौनसा सब्जेक्ट चुने की उसकी लाइफ पूरी तरह से सुरक्षित हो जाये ।

बिना सब्जेक्ट चुने ऐसा कोनसा कोर्स कर की उसे एक अच्छी नौकरी मिल जाये।

बहुत से विद्यार्थियों के सामने ये भी एक बड़ा प्रश्न होता है कि अगर मैं कक्षा 10 के बाद अगर नही पढ़ना चाहूँ तो मैं ऐसा क्या करूँ की मुझे सरकारी नौकरी आसानी से मिल जाए ।

आज आपके सभी प्रश्नो के जवाब आपको इस आर्टिकल में मिलने वाले है अतः इस आर्टिकल को अंत तक पूरा ही पढ़ना ।

10 वी के बाद कौनसा सब्जेक्ट चुने –

कक्षा 10 पास करने के बाद विद्यार्थियों के सामने जो सबसे बड़ा प्रश्न खड़ा होता है , वह यह है कि मैं कौनसा विषय चुनु ? हर बार अधिकतर विद्यार्थी अपने साथियों या अपने रिश्तेदारों या परिवार के सदस्यों के कहे अनुसार विषय चुन लेते है और बाद में उन्हें उस विषय मे परेशानी का सामना करना पड़ता है ।

कौनसा विषय चुनना है ये आपको स्वयं को तय करना चाहिए कि आपको क्या बनना हैं और आपको कौनसा विषय ज्यादा अच्छा लगता है ?

आपकी सहायता करने के लिए यहां पर हर एक options के बारे में जानकारी दी जाएगी जिससे आपको कक्षा 10 के बाद क्या करना चाहिए इसकी बहुत ही अच्छे से आपको जानकारी मिल जाएगी ।

कक्षा 10 के बाद चुनने के लिए मुख्यतः तीन ही स्ट्रीम होती है । लेकिन एक और स्ट्रीम भी होती है जिसकी बहुत ही कम students को जानकारी होती है। इसलिए हम कह सकते है कि कक्षा 10 के बाद चुनने के लिए 4 स्ट्रीम्स होती है ।

1. Science ( विज्ञान )

2. Arts ( कला )

3. Commerce ( वाणिज्य )

4. Streem independent career option ( प्रोफेशनल कोर्स )

अब हम इन सभी स्ट्रीम्स के बारे में पूरी जैसे इन स्ट्रीम्स में कौन कौनसे कोर्स किये जा सकते है ? इनमें कैरियर बनाने के क्या विकल्प मौजूद है ।

1. Science स्ट्रीम्स –

हमारे देश मे सबसे ज्यादा विद्यार्थी अगर किसी स्ट्रीम में है , तो वह विज्ञान ही है । शायद इसका कारण यह है कि इसमे कैरियर बनाने के बहुत ही अच्छे विकल्प मौजूद है । जैसे – मेडिकल , इंजीनियर , आई टी , कंप्यूटर साइंटिस्ट ।

शायद विज्ञान विषय ज्यादा चुनने का एक कारण यह भी हो सकता है कि अगर किसी कारण से आप आगे विज्ञान नही पढ़ना चाहते है तो आप अगली क्लास में अपना स्ट्रीम बदल सकते है और आप कॉमर्स में या आर्ट्स में भी जा सकते है , लेकिन ऐसा आर्ट्स में और कॉमर्स में कर पाना सम्भव नही है । यानी कि आर्ट्स पढ़ने वाला विद्यार्थी अगली कक्षा में विज्ञान विषय नही ले सकता है। इसलिए सीधे शब्दों में कहे तो विज्ञान विषय लेने वाला किसी भी विषय को चुन सकता है और उसे इसे चुनने की पूरी आजादी होती है ।

हमारे देश के अधिकतर विद्यालयों में साइंस के नाम पर गणित , भौतिक विज्ञान , जीव विज्ञान , कृषि विज्ञान ही पढ़ाया जाता है लेकिन साइंस में तो बहुत ही ज्यादा कोर्स है जो विद्यार्थियों को अपने मन के अनुसार कोर्स चुनने का मौका देती है।

साइंस स्ट्रीम्स में कौन कौनसे विषय पढ़ने होते है –

साइंस स्ट्रीम में मुख्यत पढ़ाये जाने वाले विषय

1. फिजिक्स

2. केमिस्ट्री

3. मैथमेटिक्स

4. बायोलॉजी

5. एग्रीकल्चर

6. कंप्यूटर साइंस या इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी

7. बियोटेक्नॉलोजी

8. इंग्लिश

साइंस स्ट्रीम चुनने के बाद किस किस क्षेत्र में आप कैरियर बना सकते है –

साइंस स्ट्रीम में तो कैरियर बनाने वाले क्षेत्रों की तो समझो बाढ़ ही है । इन्हें तीन भागो में बांटा जा सकता है ।

 इंजीनियरिंग – इंजीनियरिंग के क्षेत्र में कैरियर बनाने के विकल्प

1. मैकेनिकल इंजीनियरिंग

2 . सिविल इंजीनियरिंग

3. कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग

4. कैमिकल इंजीनियरिंग

5. इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग

6. इंजीनियरिंग मैनेजमेंट

7. एरोस्पेस इंजीनियरिंग

8. इंडस्ट्रीयल इंजीनियरिंग

9. इंटीग्रेटेड इंजीनियरिंग

10. मिलिट्री इंजीनियरिंग

11. न्यूक्लियर इंजीनियरिंग

12. इलेट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग

13. इलेट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग

 मेडिकल साइंस – मेडिकल साइंस में कैरियर के बेस्ट ऑप्शन

1. बायोकेमिस्ट्री

2. बायोमैकेनिक्स

3. बायोस्टेटिस्टिक्स

4. बायोफिजिक्स

5. एनाटोमी

6. सीयटोलॉजी

7. डेंटल साइंस

8. एम्ब्रायोलॉजि

9. एपिडेमियोलॉजी

10. जेनेटिक्स

11. इम्मुनोलोगि

12. माइक्रोबायोलॉजी

13. पैथोलॉजी

14. फोटोबायोलॉजी

अन्य कोर्स – साइंस स्ट्रीम में इंजीनियरिंग और मेडिकल के अलावा भी कोर्स होते है जिनमे भी आप अच्छा कैरियर बना सकते है

1. जिओकेमिस्ट्री

2. प्लेनटोलॉजी

3. सिस्मोलॉजी

4. फोटोनिक्स

5. मीटरोलॉजी

6. फ़ूड टेक्नोलॉजी

7. एस्ट्रोनॉमी

8. एग्रोकेमिस्ट्री

9. टीचिंग

10 . पेपर इंडस्ट्री

11. प्लास्टिक इंडस्ट्री

12. सेरामिक इंडस्ट्रीज

13. फॉरेंसिक साइंस

14. सॉफ्टवेयर डिज़ाइन

15. फार्मास्युटिकल्स

कक्षा 10 के बाद साइंस लेने के क्या फायदे है –

ऊपर दी गई सूची को देखकर एक बात तो आपके सामने स्पष्ट हो गयी होगी कि विज्ञान विषय मे कैरियर बनाने के बहुत से विकल्प है । साइंस लेने के बाद आप अपने मन के अनुसार जो आपको अच्छा लगे उस क्षेत्र में जाकर अपना बहुत अच्छा कैरियर बना सकते है क्योकि यहां पर एक बहुत लंबी श्रृंखला है जिंसमे कोई ना कोई क्षेत्र ऐसा मिल ही जायेगा , जिंसमे आप अपना कैरियर बनाना चाहेंगे ।

2. आर्ट्स स्ट्रीम –

आर्ट्स एक ऐसा विषय है जो व्यक्ति को सच में आर्ट्स ही सिखाता है । हमारे देश मे एक बहुत ही नकारात्म सोच बनी हुई है कि आर्ट्स तो वही लेते है जिनके 10 वी में कम मार्क्स आते है , और ये स्ट्रीम तो कमजोर छात्रों के लिए है । लेकिन ऐसा नही है इस सोच को बदलना चाहिए क्योंकि जो बात आपको आर्ट्स सीखा सकती है कोई और स्ट्रीम आपको नही सीखा सकती है । आर्ट्स स्ट्रीम में प्रवेश लेने के बाद आप सीखते है कि जीवन को किस प्रकार जीना चाहिए , आप सीखते है कि किस प्रकार का व्यवहार हमे दुसरो से अलग बनाता है , आप सीखते है कि किस प्रकार का व्यवहार करके आप समाज मे अपनी प्रतिष्ठा बना सकते है , आप सीखते है क्यो हम मानव जानवरो से अलग है ।

दूसरे और सरल शब्दो मे कहूँ तो आर्ट्स हमे जीवन जीने की कला सिखाती है ।

आर्ट्स स्ट्रीम में मुख्यत पढ़े जाने वाले विषय –

1. इतिहास

2. भूगोल

3. राजनैतिक विज्ञान

4. इंग्लिश

5. अर्थशास्त्र

6. मनोविज्ञान

7. समाज शास्त्र

8. फाइन आर्ट्स

9. साहित्य

आर्ट्स स्ट्रीम में प्रवेश लेने वाले विद्यार्थी किन क्षेत्रों में अपना करियर बना सकते है ? –

आर्ट्स स्ट्रीम लेने वाले विद्यार्थी निम्न क्षेत्रो में अपना कैरियर बना सकते है –

1. आर्कियोलॉजी

2. एंथ्रोपोलॉजी

3. सिविल सर्विसेज

4. कार्टोग्राफी

5. इकोनॉमिस्ट

6. जियोग्राफी

7. हेरिटेज मैनेजमेंट

8. हिस्टोरियन

9. लाइब्रेरी मैनेजमेंट

10. पोलिटिकल

11. पापुलेशन साइंस

12. साइकोलॉजी

13. सोशियोलॉजी

14. सोशल सर्विस

15. टीचिंग

16. लिंग्विस्टिक्स

17. मास कॉम्युनिकेशन / मीडिया

18. फिलोसोफी

19. रिसर्च

20. राइटिंग

21. हॉस्पिटल इंडस्ट्रीज

22. फाइन आर्ट

23. परफोर्मिंग आर्ट

24. फैशन डिजाइनिंग

25. इंटीरियर डिजाइनिंग

26. ट्रेवल एंड टूरिज्म इंडस्ट्री

27. लॉ ( Law )

आर्ट्स स्ट्रीम में प्रवेश लेने के फायदे –

आर्ट्स स्ट्रीम लेने का सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि आप किसी भी सरकारी नौकरी की तैयारी आसानी से कर सकते है क्योकि अधिकतर कॉम्पिटिशन एग्जाम के सिलेबस में वही होता है जो आर्ट्स स्ट्रीम के विद्यार्थियों को पढ़ना पड़ता है इस तरह से आपको कोई ज्यादा तैयारी नही करनी पड़ती क्योकि आप तो पहले से वे सभी विषय पढ़ चुके है। आर्ट्स स्ट्रीम में प्रवेश लेने के बाद ras , ias जैसे एग्जाम दे सकते है और यदि आप इन्ही सर्विस में जाना चाहते है तो आपके लिए सबसे अच्छी स्ट्रीम आर्ट्स ही होगी ।

3. कॉमर्स स्ट्रीम –

नाम से ही पता चलता यह स्ट्रीम बिजनेस , अकाउंट, या फाइनेंस की दुनिया से सम्बन्ध रखती है । इसे वही छात्र चुनते है जिन्हें आगे जाकर इन्ही फील्ड में काम करना है। इसे करने के वाले छात्र आगे जाकर बिजनेस भी करते है । इस स्ट्रीम में जॉब बहुत ही सीमित होती है ।

कॉमर्स स्ट्रीम में मुख्यत पढ़ाये जाने वाले विषय

1. इकोनॉमिक्स

2. एकाउंटेंसी

3. बुसिनेस स्टडी / आर्गेनाईजेशन ऑफ कॉमर्स

4. मैथेमैटिक्स

5. इंग्लिश

6. इनफार्मेशन प्रैक्टिस

7. स्टेटिस्टिक्स

कॉमर्स स्ट्रीम में प्रवेश लेने वाले विद्यार्थी कौनसे कौनसे क्षेत्र में अपना कैरियर बना सकते है –

वैसे तो इस स्ट्रीम में बहुत कम जॉब स्कोप होता है लेकिन जो होता है वह बहुत ही दमदार होता है । कॉमर्स स्ट्रीम में जॉब के क्षेत्र निम्न है

1. CA

2. CS

3. बिज़नेस

4. Enterpreneurship

5. फोरेंसिक एकाउंट

6. कॉस्ट एंड वर्क एकाउंटेंसी

7. इन्वेस्टमेंट बैंकिंग

8. बैंकिंग

9. मार्केटिंग

10. मार्किट रिसर्च

11. कैपिटल मार्केटिंग

12. बिज़नेस एडमिनिस्ट्रेशन

13. एडमिनिस्ट्रेशन

14. ह्यूमन रिसोर्स मैनजमेंट

15. मैनजमेंट

16. Insurance

17. बिज़नेस लॉ

18. मीडिया / मास कम्युनिकेशन

19. फाइनेंसियल एनालिसिस

कॉमर्स स्ट्रीम में प्रवेश लेने का फायदा क्या है –

जिस प्रकार साइंस और आर्ट्स में करियर के बहुत से विकल्प उपलब्ध होते है उस तरह से कॉमर्स में इतने विकल्प उपलब्ध नही होते है इसलिए कॉमर्स स्ट्रीम में प्रवेश लेने वाला विद्यार्थी ये बात अच्छे से जानता है की उसे भविष्य में करना क्या है । वह सब कुछ सोच और समझकर ही कॉमर्स स्ट्रीम में प्रवेश करता है ।

Stream independent career options ( प्रोफेशनल कोर्स ) –

साइंस , आर्ट्स और कॉमर्स स्ट्रीम के बाद एक चौथा विकल्प भी होता है , जिसे प्रोफेशनल कोर्स कहते है ।

इन्हें स्वतंत्र कोर्स भी कहा जाता है क्योकि ये किसी विशेष स्ट्रीम से सम्बंध नही रखते है । इन कोर्स को कोई भी छात्र कर सकता है । ये अनेक क्षेत्रों में अच्छी जॉब दिलाने में भी बहुत सहायक होते है । इन कोर्स की महत्वपूर्ण बात यह है कि ट्रेंनिंग बेस कोर्स होते है । इन कोर्स को करने के बाद आपको स्किल सर्टिफिकेट या एसोसिएट डिग्री मिलती है । इन्हें वोकेशनल कोर्स भी कहते है । इस स्ट्रीम के कुछ कोर्स निम्न है जिनकी सहायता से आप अपना स्वयं का भी बिजनेस शुरू कर सकते है या फिर किसी कंपनी में एक अच्छी जॉब प्राप्त कर सकते है ।

1. इंटीरियर डिजाइनिंग

2. फायर एंड सेफ्टी

3. साइबर लॉज़

4. ज्वैलरी डिजाइनिंग

5. फैशन डिजाइनिंग

 पॉलीटेक्निक कोर्स करे 10 वी करने के बाद –

यह एक प्रकार का डिप्लोमा कोर्स है जिसे आप सीधे 10 वी करने के बाद भी कर सकते है । यह एक टेकनिकल कोर्स है । इस कोर्स का सबसे अच्छा फायदा यह है कि यह एक ट्रेंनिंग बेस कोर्स है जिंसमे स्टूडेंट्स की स्किल को प्रैक्टिकल के द्वारा निखारा जाता है । यह कोर्स मुख्यत 3 साल का होता है । यह कोर्स इंजीनियरिंग के समकक्ष का ही कोर्स है । इस कोर्स को विद्यार्थी सरकारों कॉलेज से या निजी कॉलेज से भी कर सकते है ।

इस कोर्स का एक फायदा यह भी है कि अगर किसी विद्यार्थी ने पॉलीटेक्निक डिप्लोमा कोर्स किया है अगर वह डिग्री कोर्स करना चाहता है तो उसे डिग्री कोर्स में सीधे दूसरे वर्ष में प्रवेश मिल जाता है।

पॉलीटेक्निक कोर्स में इंजीनियरिंग कोर्स और नॉन इंजीनियरिंग कोर्स शामिल होते है ।

किन विषय मे पॉलीटेक्निक डिप्लोमा कोर्स किया जा सकता है ? –

पॉलीटेक्निक के निम्न कोर्स उपलब्ध है जिनमे आप डिप्लोमा प्राप्त कर सकते है ।

1. सिविल इंजीनियरिंग

2. इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग

3. इंस्ट्रूमेंट्स & कंट्रोल

4. मेकैनिकल इंजीनियरिंग

5. इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी

6. फार्मेसी

7. मास कम्युनिकेशन

8. मटेरियल मैनजमेंट

9. होम साइंस

10. लाइब्रेरी एंड इनफार्मेशन साइंस

11. मॉडर्न आफिस मैनेजमेंट एंड सेक्रेटेरियल प्रैक्टिस

12. एवियोनिक्स

13. एयर क्राफ्ट मेंटिनेंस

14. होटल मैनेजमेंट एंड कैटरिंग सर्विस

15. टेक्सटाइल डिज़ाइन

16. प्लासिटक एंड माउल्ड टेक्नोलॉजी

17. पेंट टेक्नोलॉजी

18. फैशन डिजाइनिंग एंड गारमेंट टेक्नोलॉजी

19. एग्रीकल्चर इंजीनियरिंग

20. इंटीरियर डेकोरेटिव एंड डिज़ाइन

21. लेदर टेक्नोलॉजी

22. प्रिंटिंग टेक्नोलॉजी

23. ग्लास एंड सिरेमिक इंजीनियरिंग

24. डेरी इंजीनियरिंग

25. केमिकल इंजीनियरिंग

26. कंप्यूटर साइंस एंड टेक्नोलॉजी

27. टेक्सटाइल केमिस्ट्री

 ITI करे कक्षा 10 वी के बाद –

कक्षा 10 के बाद जिन्हें कम पैसों में अपनी पढ़ाई पूरी करनी है तथा नौकरी प्राप्त करनी है ऐसे छात्रों के लिए iti सबसे बेहतर विकल्प है ।

इसे आप कक्षा 8 वी के बाद और कक्षा 10 वी के बाद भी कर सकते है । इसका सीधा यह फायदा होता है कि जब आपकी iti की पढ़ाई पूरी हो जाती गई तब आपको साइंस स्ट्रीम से 12 पास मान लिया जाता है और आपको बाकायदा इसका सर्टिफिकेट भी मिलता है कि आपने कक्षा 12 वी पास कर ली है ।

ITI की फुल फॉर्म होती है – industrial training institute । iti के सरकारी और प्राइवेट दोनों ही प्रकार के कॉलेज होते है जिनमे प्रवेश लेकर iti कोर्स किया जा सकता है । यह कोर्स भी पूरी तरह से ट्रेनिंग बेस कोर्स है । इसमे करवाये जाने वाले कोर्स को ट्रेड कहते है।

ITI के कोर्स निम्न है –

1. रेडियोलोजी

2. रेडियो एंड टी वी मैकेनिक

3. मैकेनिक रेफ्रिजरेटर एंड एयर कंडीशन

4. मोटर वेहिकल मैकेनिक

5. इंस्ट्रूमेंट मैकेनिक

6. Draughtsman civil

7. इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी एंड इलेट्रॉनिक्स सिस्टम मेंटेनेंस

8. इलेक्ट्रिसियन

9. इलेक्ट्रॉनिक मैकेनिक

6. डिप्लोमा कोर्स करे कक्षा 10 के बाद –

अगर जो विद्यार्थी कक्षा 10 के बाद अपनी स्कूल की पढ़ाई जारी नही रखना चाहते है उनके लिए डिप्लोमा कोर्स सबसे अच्छा विकल्प है । यह एक ऐसा क्षेत्र है जिंसमे कम पैसों में ही अपनी पढ़ाई पूरी करके एक अच्छी नौकरी प्राप्त की जा सकती है ।

डिप्लोमा कोर्स में उपलब्ध कोर्स – डिप्लोमा कोर्स में आप अपनी मन इच्छा के अनुसार कोर्स का चयन करके डिप्लोमा कर सकते है ।

डिप्लोमा कोर्स निम्न विषयो में किया जा सकता है

1. डिप्लोमा इन फाइन आर्ट्स

2. डिप्लोमा इन इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग

3. डिप्लोमा इन इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग

4. डिप्लोमा इन इलेक्ट्रिकल एंड टेलीकम्युनिकेशन इंजीनियरिंग

5. डिप्लोमा इन इनफॉरमेशन टेक्नोलॉजी

6. डिप्लोमा इन एयरोनॉटिकल इंजीनियरिंग

7. डिप्लोमा इन सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग

8. डिप्लोमा इन कंप्यूटर साइंस

9. डिप्लोमा इन केमिकल इंजीनियरिंग

10. डिप्लोमा इन सिविल इंजीनियरिंग

11. डिप्लोमा इन मैकेनिकल इंजीनियरिंग

12. डिप्लोमा इन सिविल इंजीनियरिंग

13. डिप्लोमा इन बायोमेडिकल इंजीनियरिंग

14. डिप्लोमा इन गारमेंट टेक्नोलॉजी

15. डिप्लोमा इन प्रिंटिंग टेक्नोलॉजी

16. डिप्लोमा इन लेदर टेक्नोलॉजी

17. डिप्लोमा इन इंस्ट्रूमेंटेशन टेक्नोलॉजी

18. डिप्लोमा इन मरीन इंजीनियरिंग

19. डिप्लोमा इन प्रोडक्शन

20. डिप्लोमा इन पेट्रोलियम इंजीनियरिंग

21. डिप्लोमा इन माइनिंग इंजीनियरिंग

22. डिप्लोमा इन टेक्सटाइल टेक्नोलॉजी

23. डिप्लोमा इन प्लास्टिक टेक्नोलॉजी

24. डिप्लोमा इन बायोटेक्नोलॉजी

25. डिप्लोमा इन ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग

26. डिप्लोमा इन एनवॉयरमेंटल इंजीनियरिंग

27. डिप्लोमा इन फायर इंजीनियरिंग

28. डिप्लोमा इन ब्यूटी कल्चर

29. डिप्लोमा इन आर्किटेक्चर

30. डिप्लोमा इन एग्रीकल्चरल इंजीनियरिंग

31. डिप्लोमा इन फैशन डिजाइन

32. डिप्लोमा इन अपेरल डिजाइन

33. डिप्लोमा इन साइबर सिक्योरिटी

34. डिप्लोमा इन बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन

35. डिप्लोमा इन मेडिकल लैब

36. डिप्लोमा इन लाइब्रेरी एंड इनफॉरमेशन साइंस

डिप्लोमा कोर्स 3 साल का होता है । इसे अगर आप कक्षा 10 के बाद करते है तो यह 3 साल में पूरा हो जाता है और अगर आप इसे 12 के बाद करते है तो इसे पूरा करने के लिए आपको 4 साल का समय लगेगा ।

 कक्षा 10 के बाद करे सीधे नौकरी –

बहुत से विद्यार्थियों के सामने एक बहुत बड़ी समस्या ये होती है कि उनकी पढ़ाई किसी कारण से कक्षा 10 के बाद छूट जाती है । फिर उन्हें लगता है कि वे कुछ नही कर सकते है । उन्हें लगता है कि वे किसी भी प्रकार की सरकारी नौकरी भी नही कर सकते क्योकि वे सिर्फ कक्षा 10 वी पास है । लेकिन ऐसे विद्यार्थी भी सरकारी नौकरी प्राप्त कर सकते है । हो सकता है कि उन्हें इसमे बाकियों से कम पैसा मिले लेकिन आपकी योग्यता के अनुसार तो आपको अच्छी नौकरी मिल ही जारी है । मैं आपको ऐसे क्षेत्रों के बारे में जानकारी दूंगा जिंसमे आप कक्षा 10 के बाद सरकारी नौकरी के लिए आवेदन कर सकते है ।

कक्षा 10 के बाद सरकारी नौकरी के क्षेत्र –

1. पुलिस कांस्टेबल –

अगर आपको राज्य की सुरक्षा करने की इच्छा हो तो आप कक्षा 10 के बाद पुलिस विभाग में भर्ती होकर पुलिस कांस्टेबल के पद पर नियुक्त हो सकते है ।

2. इंडियन रेलवे – भारतीय रेलवे में नौकरी करना बहुत से छात्रों का ड्रीम जॉब होता है । इसलिए आप कक्षा 10 के बाद भी भारतीय रेल में नौकरी प्राप्त कर सकते है । यहां पर आप ग्रुप डी में शामिल हो सकते है । आपको यहां आपकी योग्यता के अनुसार निम्न क्षेत्रो में काम मिल सकता है – गैंग मैन , ioco pilot , असिस्टेंट loco pailot ।

3. ITBFF – INDO – TIBETAN BORDER POLICE FORCE

कक्षा 10 के बाद itbp में जॉब के लिए अप्लाई कर सकते है । यहां पर जॉब के आयु सीमा निर्धारित है । अतः आवेदन करने वाले उम्मीदवार की आयु 18 से 23 साल तक होनी चाहिए। इसमे आपको सबसे पहले एक लिखित परीक्षा पास करनी होती है और उसके बाद आपको शारीरिक परीक्षा पास करनी होती है लेकिन ध्यान रहे इसमे आप सिर्फ कॉन्स्टेबल के पद के लिए आवेदन कर सकते है ।

4. इंडियन आर्मी – अगर आपको अपने देश से प्यार है तो इसकी 100 प्रतिशत सम्भावना है कि इंडियन आर्मी आपको जरूर आकर्षित करती होगी ।

अगर आप कक्षा 10 के बाद आर्मी में जाना चाहते है तो इसके लिए आपको शारीरिक रूप से एकदम मजबूत बनना होगा क्योकि आर्मी की जो शारीरिक परीक्षा होती है उसे पास करना हर किसी के बस की बात नही होती है ।

5. आंगनबाड़ी में नौकरी – आप 10 वी पास करके आंगनबाड़ी में सरकारी नौकरी प्राप्त कर सकते है । यहां पर आप अलग अलग प्रकार के काम के लिए आवेदन कर सकते है जैसे – हेल्पर, वर्कर , शिक्षक आदि ।

6. पोस्टल डिपार्टमेंट – डाक विभाग में भी आप 10 वी पास करने के बाद सरकारी नौकरी प्राप्त कर सकते है । डाकघर में समय समय पर अलग अलग पदों के लिए वैकेंसी आती रहती है । जैसे – क्लर्क , पोस्टमैन

यहां पर आपको पोस्टमैन तक कि ही नौकरी मिल सकती है 10 वी पास करने के बाद लेकिन आपको डाकघर में और ऊंचे पद पर जाना है या प्रोमोशन लेना है तो आपको और ज्यादा पढ़ाई करनी पड़ेगी ।

7. ऑर्डन्स फैक्ट्री – सरकार की हथियार बनाने वाली फैक्ट्री में भी समय समय पर अलग अलग पदों के लिए वैकेंसी आती रहती है इसलिए आप ऑर्डन्स फैक्ट्री में भी जॉब के लिए अप्लाई कर सकते है ।

8. फारेस्ट डिपार्टमेंट – 10 वी पास के लिए सबसे विशाल और सबसे ज्यादा पोस्ट का जो डिपार्टमेंट है वह फारेस्ट डिपार्टमेंट ही है ।इसमे भी समय समय पर अलग अलग पदों के लिए सूचनाएं जारी होती रहती है जिन्हें आप इंटरनेट पर या रोजना आने वाले अखबार से भी प्राप्त कर सकते है ।

इस डिपार्टमेंट में नौकरी पाने के लिए अलग अलग पद के लिए अलग प्रकार की परीक्षाओं का आयोजन किया जाता है । किसी पद के लिए शारीरिक परीक्षा का आयोजन किया जाता है तो किसी पद के लिए सिर्फ लिखित परीक्षा का आयोजन किया जाता है । लेकिन आप यहां पर कक्षा 10 के बाद एक अच्छी सरकारी नौकरी प्राप्त कर सकते है ।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: