सैनिटरी पैड नैपकिन मेकिंग बिज़नेस कैसे शुरू करें Sanitary Pad Manufacturing Business in Hindi

सैनिटरी पैड नैपकिन मेकिंग बिज़नेस कैसे शुरू करें – आज हम आपको बताने वाले है एक ऐसे व्यापार के बारे में जो की न केवल आपको लाभ देगा बल्कि समाज में आपकी इज्जत को बढ़ाएगा जी हाँ आज हम बात करने वाले है सैनिटरी पैड के व्यापर की जिसकी चर्चा आज लगभग पुरे भारत में हो रही है आइये सबसे पहले जानते है की यह सैनिटरी पैड आखिर होता क्या है …….???
किसी भी लड़की के किशोरावस्था में कदम रखते ही उसके शरीर में अनेक प्रकार के बदलाव होते है ,जिनमे से एक बदलाव जो की हर किसी लड़की के शरीर में होता है वह है माहवारी या पीरियड्स का आना जो की एक प्राकृतिक प्रक्रिया इसमें महिलाओं की योनी से खून का स्त्राव होता है और तरल पदार्थ निकलता है ,ओ की 4 से 5 दिन तक स्त्रावित होता है , जिससे की कई तरह के इन्फेक्शन हो सकते है और कपड़ो में भी इसके दाग लग जाते हैं |
इस समस्या को दूर करने के लिए अनेक महिलाओं के द्वारा गंदे कपड़ों का प्रयोग किया जाता है जिससे की अनेक रोगों के उत्पन्न होने की सम्भावना होती है और वह गन्दा कपडा कभी कभी अनेक बड़ी बीमारियों का भी कारन बन सकता है ,और एसी ही समस्याओं को दूर करने के लिए सैनिटरी पैड बनाये गये है जो की बिलकुल ही स्वच्छ होते है इनका प्रयोग करना बेहद आसान होता है और ये पूरी तरह से सुरक्षित भी होते है ,और वर्तमान में जागरूकता के साथ इसका चलन भी बढ़ रहा है ऐसे में सैनिटरी पैड का व्यापार आपके लिए बेहद लाभदायक सिध्ह हो सकता है आइये जानते है इस व्यापार के बारे में

सैनिटरी पैड नैपकिन मेकिंग बिज़नेस का भविष्य :- किसी भी व्यापार को करने के पहले उसके भविष्य और भावी नीति का होना बेहद ही आवश्यक होता है जो की हमारे द्वारा लगाई जान वाली पूंजी की और लाभ की सुरक्षा को तय करता है सैनिटरी पैड का व्यापार इस समय भारत में किये जाने वाले सबसे अच्छे व्यापारों में से एक है जो की बिना किसी रिस्क के किया जा सकता है और जिसके असफल होने की कोई भी संभावना नहीं है और कम पूंजी में भी इसकी शुरुआत हो सकती है ,और आज लगभग हर लड़की और महिला इस सैनिटरी पैड को उपयोग करती है और करना भी चाहती है क्योकि यह सुविधाजनक और स्वच्छ है और सरकार भी इस विषय में लोगों को जागरुक कर रही है ,महिलाओं को माहवारी के दौरान अनेक कष्टों से गुजरना पड़ता है और कपडे के खिसक जाने का दर भी हमेशा बना रहता है ,ऐसे में एक ऐसी वस्तु का व्यापार जो की सभी की समस्याओं को हल करदे और समाज में स्वछता और स्वास्थ को बढ़ावा दे तो इससे बेहतर और क्या हो सकता है और इस बारे में और जागरूकता ला कर के भी आप अपने व्यापार को बढ़ा सकते हैं |

आइये जानते है की सैनिटरी पैड नैपकिन मेकिंग बिज़नेस को शुरू करने के पहले आपको क्या करना होगा

पहले से उपस्थित उत्पादों की जानकारी :- किसी भी व्यापार में प्रवेश से पहले उस से संबंधित सभी पहलुओं को जान लेना बेहद जरुरी है आपको ये पता लगाना होगा की आखिर वर्तमान में कोन कोन उत्पादक बाजार में है और उनका उत्पाद बाजार में किस मूल्य पर उपलब्ध है, साथ ही आपको यह भी पता लगाना होगा की आखिर उन उत्पादों की क्या क्या खासियत है और उनमे क्या एसा है जो ग्राहक उसे पसंद करते है साथ ही उस उत्पाद की कमजोरियों को भी आपको समझना होगा ताकि आप एक बहुत ही बेहतर उत्पाद को बाजार में प्रस्तुत कर सकें | इसके लिये आप कुछ महिलाओं की हेल्प ले सकते है जो की आपकी कर्मचारी भी हो सकती जो की बाहर की महिलाओं से भी वर्तमान में बिक रहे उत्पादों के बारे में फीडबेक ले सकती है |

प्रशिक्षण – किसी भी व्यापार को शुरू करने के पहले उसकी जानकारी होना बेहद जरूरी है खासकर जबकि आप एक उत्पादक इकाई लाने वाले है इसे में किसी बेहतर संसथान में या वर्तमान में चल रही किसी इकाई में जाकर प्रशिक्षण अवश्य लें वहां आप कार्य में आने वाले व्यावहारिक ज्ञान और समस्याओं से रूबरू हो जाएँगे जो आपके व्यापार के लिए बहुत ही लाभप्रद होगा

व्यापारिक नीतियाँ :- अब आपको अपने व्यापार की नीतियाँ तय करनी होंगी की आखिर आपका बजट कितना है और आप कहाँ से व्यापर की शुरुआत करना चाहेगे और किस तरह से आपकी बाजारू निति होगी आदि सभी चीजों का एक व्यवस्थित प्लान बना लीजिये उसके बाद आगे कदम बढाइये और इन बातों का भी ध्यान रखिये आपकी व्यापारिक इकाई से मुख्य बाजार तक संचार के साधन अवश्य उपलब्ध हों अलग अलग प्रकार के माल जैसे की कच्चे माल ,तैयार माल, पैकेजिंग आदि के लिए अलग अलग व्यवस्था हो स्टोर रूम अलग हो और आपका ऑफिस भी नियत स्थान पर हो पानी और बिजली की उपलब्धता का जरुर ध्यान रखें क्योंकि बिना पानी और बिजली के किसीभी व्यापर का होना मुश्किल है श्रमिकों की आपूर्ति को भी ध्यान में रखते हुए है अपने व्यपार का स्थान तय करें कच्चेमाल और आवश्यक अन्य वस्तुओं के बारे में भी एक बार पता लगाने के बाद ही निर्णय लें

कम्पनी का पंजीयन :- अगर आप अपनी कम्पनी को एक पहचान देना चाहते है तो उसका पंजीयन जरुर कराएँ और साथ अन्य टैक्स समबन्धित पंजीयन भी करा लें जो की आपको अनावश्यक समस्याओं से दूर रखेंगे |

उत्पाद लाइसेंस :- उत्पाद लाइसेंस को प्राप्त करने के लिए आपको व्यापार शुरू करने के पहले अपने उत्पाद के कुछ नमूने यानि सैनिटरी पैड की सेम्पल देने होते है जिन पर सरकारी विभाग की स्वीक्रति के बाद आप व्यापार शुरू कर सकते है अगर आपका सेम्पल फेल हो जाता है तो आप उसमे सुधार करके दोबारा से उसे भेज सकते हैं |

सैनिटरी पैड नैपकिन मेकिंग बिज़नेस शुरू करने के लिए आवश्यक सामग्री और उसकी कीमत

कच्चा माल – कच्चे माल में आपको आवश्यकता होगी सेलुलोज पल्प की जो की बाजार में 50 से 60 रूपये किलो तक में आपको मिल जाएगा ,अब्सोर्मेंट पोलिमर जो की तरल पदार्थ और खून को सोखने का काम करता है यह आपको इसकी गुणवत्ता के हिसाब से सस्ता और महंगा मिल जाएगा ,नॉन वोवन फेब्रिक यह आपको 60 से 70 रूपये मीटर पर आसानी से मिल जाएगा,पोलीप्रोपलीन शीट का भी प्रयोग सैनिटरी पैड बनाने में होता है और यह आपको 350 से 400 रूपये किलो के दाम पर मिल जाएगी, सिलिकोन पेपर यह आपको बाजार में आसानी से मिल जाएगा जो की 50 रूपये किलो से शुरू होता है, हॉट मल्ट सील जो की सैनिटरी पैड को अंतिम चरण में पहुँचाने में काम आती है आपको बाजार में या ऑनलाइन मार्केट में मिल जाएगी

सैनिटरी पैड मशीन और उसकी कीमत :- सैनिटरी पैड बनाने के लिए दो तरह की मशीन आती है एक हाफ ऑटोमेटिक जो की आपको 2 से 3 लाख रूपये में मिलेगी और दूसरी फुल ऑटोमेटिक मशीन जो आपको 6 से 7 लाख रूपये में मिल जाएगी

आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी केसी लगी हमे जरुर बताइए धन्यवाद

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: