लेबर कार्ड ( श्रमिक कार्ड ) कैसे बनवाएं?

2021 में लेबर कार्ड /श्रमिक कार्ड/मजदुर कार्ड कैसे बनाये

नमस्कार दोस्तो, वर्तमान समय मे अनेक सरकारी योजना निकल रही है, यदि आप कम पढ़े लिखे व काम की तलाश कर रहे है तब आप अपना लेबर कार्ड बनवाकर सरकारी योजना का लाभ ले सकते है व आपको कुछ घण्टे काम करने होंगे उसके हिसाब से आपको पैसा भी मिलेगा तो देर किस बात की। इस पोस्ट के माध्यम से हम लेबर कार्ड कैसे बनाये के बारे में बात करेंगे इसका प्रोसेस क्या है, कौन आवेदन कर सकता है, कितना रेजिस्ट्रेशन फीस होता है व कितने दिन में बनकर आता है आदि के बारे हम विस्तार से बात करेंगे, आप किसी भी राज्य में रहते है फिर भी आपका लेबर कार्ड आप जहाँ निवासरत है वहाँ पर आसानी से बन जायेगा, लेबर कार्ड का क्रियान्वयन मजदूर वर्ग के लिए हुआ है कि राज्य में कितने मजदूर है उसके हिसाब से उनको मजदूरी सरकार प्रोवाइड कर सके। मजदूर वर्ग जैसे ही लेबर कार्ड बनवाते है तब उसे बहुत सारे सरकारी योजनाओं का लाभ मिलता है, तो चलिए हम विस्तार से लेबर कार्ड के बारे में जानते है।

लेबर कार्ड क्या है?

लेबर कार्ड इस नाम से भी जानते है जैसे मजदूर कार्ड व श्रमिक कार्ड आदि से भी जानते हैं। लेबर कार्ड जिसके पास होता है उसे राज्य सरकार एक निश्चित समय तक काम कराती है व उसे भुगतान कराती है, सरकार के पास काम रहे या न रहे वह एक निश्चित दिन अलग अलग राज्य में अलग अलग दिन है छत्तीसगढ़ में मनरेगा के तहत मजदूरों को 110 दिन तक काम देने का नियम है उसी तरह सभी राज्य का अलग अलग है, लेबर कार्ड के अनेक फायदे है, इसकी जानकारी आप रोजगार कल्याण विभाग से ले सकते है।

लेबर कार्ड के लिए आवेदन कैसे करें :

आप यदि लेबर कार्ड के लिए आवेदन करने का विचार कर रहे है तब आप दो तरह से आवेदन कर सकते है पहला ऑनलाइन है व दूसरा ऑफलाइन माध्यम है आप दोनों मोड में से किसी मे भी आवेदन कर सकते है अपने सहूलियत के हिसाब से।

लेबर कार्ड के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें :

• यदि आपको ऑनलाइन आवेदन करना है तब सर्वप्रथम आपको लेबर कार्ड के लिए राज्य सरकार के आधिकारिक वेबसाइट रोजगार व ग्रामीण क्षेत्र विकास को सर्च करना होगा।

• जैसे ही आप सर्च करते है तब आप जिस राज्य में रहते है वहाँ के Labour Act Management System वेबसाइट का लिंक ओपन कर सकते है।

• ओपन करने पर आपको लॉगिन व न्यू रिजिस्टर का ऑप्शन दिखाई देगा, आपको न्यू रजिस्टर में क्लिक करना होगा।

• वेबसाइट में दिए गए निर्देष को ध्यान से पढ़े व जो आवश्यक दस्तावेज की जरूरत है उसे आपने पास रखे।

• अब फॉर्म को ध्यान से पढ़कर साफ साफ व क्लियर भरे। नाम, उम्र, शिक्षा, व निजी जानकारी ध्यान पूर्वक भरे।

• हस्ताक्षर, फ़ोटो व आवश्यक दस्तावेज को स्कैन करके अपलोड करें।

• फॉर्म भरने के बाद आपको फॉर्म सबमिट करना पड़ेगा, उसके बाद रेजिस्ट्रेशन फीस जमा करना होता है।

• जैसे ही आप रेजिस्ट्रेशन फीस जमा करते है फिर आपका फॉर्म सबमिट हो जाता है व रिव्यु के लिए चले जाता है।

• कुछ दिनों में आपका फॉर्म का वेरिफिकेशन होता है फिर लेबर कार्ड जारी हो जाता है।

लेबर कार्ड के लिए ऑफलाइन आवेदन कैसे करें :

• लेबर कार्ड के ऑफलाइन के आवेदन के लिए आपको सबसे पहले फॉर्म रोजगार कल्याण विभाग से लेकर आना होगा।

• फॉर्म को ध्यान से पढ़कर अपने बारे में ध्यान पूर्वक भरे।

• फॉर्म भरने के बाद हस्ताक्षर व पासपोर्ट साइज फ़ोटो चिपका देवें।

• फॉर्म के साथ आपको आवश्यक दस्तावेज अटेच करना होगा।

• आप रेजिस्ट्रेशन फीस डिमांड ड्राफ्ट या फिर नगद भुगतान कर सकते है।

• फॉर्म को जिला रोजगार कल्याण विभाग में जमा करना होगा, फिर फॉर्म का वेरिफिकेशन होता है, सभी चीजें सही होने पर लेबर कार्ड जारी हो जाता है।

• आपके बताये एड्रेस में लेबर कार्ड स्पीड पोस्ट के माध्यम से आवेदन वेरीफिकेशन करने के पश्चात मिल जाएगा।

लेबर कार्ड के लिए आवश्यक दस्तावेज

• जन्म प्रमाण पत्र व मतदाता परिचय पत्र का होना बहुत जरूरी है।

• आधार कार्ड व पैन कार्ड होने चाहिए।

• पासपोर्ट साइज फ़ोटो की आवश्यकता होती।

• अनोत्यदय कार्ड या फिर BPL कार्ड (Below Poverty Line card) का होना जरूरी है।

• किसी भी लीगल बैंक में एकाउंट होना जरूरी है।

लेबर कार्ड कितने दिन में बनकर आता है :

लेबर कार्ड को बनने में ज्यादा वक्त नही लगता है आप जैसे ही लेबर कार्ड के लिए आवदेन करते है, व आपकी सभी जानकारी सही होता है तब वेरिफिकेशन में टाइम नही लगता है तथा इस वजह से लेबर कार्ड 7 से 15 दिन के अंतर्गत बन जाता है, यदि आप ऑनलाइन आवेदन किये है तब स्पीड पोस्ट के माध्यम से आपके द्वारा फॉर्म में भरे गए एड्रेस में 28 दिनों के अंदर आ जाता है वही यदि आप ऑफलाइन आवेदन किये है तब आप एक हफ्ते के बाद जिला रोजगार कल्याण विभाग से प्राप्त कर सकते है।

श्रमिक लेबर कार्ड कौन बनवा सकता है :

श्रमिक लेबर कार्ड वैसे तो कोई भी बनवा सकता है जो बेरोजगार है लेकिन श्रमिक लेबर कार्ड बनाते समय श्रम अधिकारी मजदूर वर्ग, अनोत्यदय कार्डधारी व BPL card (Below Poverty Line Card) व अशिक्षित आदि वर्ग को पहले महत्व देता है ताकि रोजगार का लाभ उन लोगों को मिल सके साथ है इससे मिलने वाली सरकारी योजनाओं का लाभ श्रमिक वर्ग के लोग उठा सके। आप किसी भी राज्य में अपना लेबर कार्ड बनवा सकते है लेकिन आपको उस राज्य में निवासरत 10 वर्ष होना चाहिए तभी लेबर कार्ड बनेगा अन्यथा आवेदन निरस्त हो जाता है।

लेबर कार्ड में कितना पैसा मिलता है :

यदि आपने लेबर कार्ड के लिए आवेदन किया है व आपका लेबर कार्ड बन जाता है, ऐसे में आपको सरकारी योजनाओं में काम करना होगा, अलग अलग काम का अलग अलग पैसे मिलता है, आप रोड बन रहा है उसमें मजदूरी कर रहे, ग्राम सौंदर्यीकरण में काम कर रहे है या फिर तालाब खुदाई का काम कर रहे आदि में आपको अलग अलग राशि मजदूरी वेतन में मिलेगा। अलग अलग राज्य में लेबर को अलग रुपए रोजगार के रूप में मिलता है, छत्तीसगढ़ में करीब 250 मिलता है, वही उत्तरप्रदेश में मजदूरी करने वाले लेबर को एक दिन का 230 रुपये करीब मिलता है। साथ ही बेटा बेटी होने पर आपको आर्थिक सहायता राशि मिलेगा, वही बेटी होती है तब उसके पढ़ाई लिखाई से शादी तक का खर्च सरकार वहन करती है।

लेबर कार्ड के क्या फायदे है :

यदि आपके पास लेबर कार्ड है तब आप विभिन्न सरकारी योजनाओं का लाभ उठा सकते है, अलग अलग राज्य में लेबर कार्ड द्वारा मिलने वाली फायदे अलग है-

आपके पास यदि लेबर कार्ड है तब आपके बच्चे 12वी तक मुफ्त में शिक्षा ग्रहण करेंगे, एवं उच्च शिक्षा के लिए 50 हजार की राशि मिलता है।

गम्भीर बीमारी का इलाज का खर्च सरकार उठता है साथ ही आप आयुष्मान भारत योजना के लिए आवेदन कर 20 लाख तक इलाज मुफ्त में करा सकते है।

बेटी की शादी में करीब 50 – 55 हजार रुपये शादी के खर्च के रूप में मिलता है।

श्रम कार्ड से आप BPL card बनवा सकते है यदि आपके पास BPL Card नही है।

हर साल आपको मजदूर बोनस मिलेगा।

समय समय मे सरकारी योजनाओं में मजदूरी करने को मिलेगा।

बेटी होने पर आपको 25 हजार की राशि बेटी की पालन पोषण के रूप में सरकार द्वारा मिलती है वही यदि बेटा होता है तब 11 हजार रुपये बेटे के पालन पोषण के लिए मिलता है।

घर निर्माण के लिए बैंक से ऋण मिलता है।

कौशल उन्नयन के लिए सरकार के तरफ से वित्तीय सहायता मिलता है।

लेबर कार्ड होने पर दुर्घटना होने पर लाभ :

यदि आपके पास लेबर कार्ड है किसी कारणवश आपकी असमय मृत्यु हो जाती है तब आपके मृत्यु के पश्चात 30 हजार रुपए की राशि मिलती है। साथ ही आप आंशिक रूप से अपंग हो जाते है उस स्थिति में आपको 37500 रुपए मिलते है एवं पूर्ण रूप से अपंग हो जाने पर 75 हजार रुपये मिलेगा, यह सभी राशि मजदूर कार्ड के दुर्घटना बीमा के अंतर्गत मिलेगा साथ ही आपके बच्चे का बालिक होने पर आसानी से श्रम कार्ड बन जायेगा।

श्रमिक कार्ड का रिन्यूवल कैसे करें :

दोस्तो श्रमिक कार्ड स्थायी रूप से नही बनता है यह एक निश्चित समय के लिए बनता है जैसे 10 साल, 15 साल आदि इस तरह से श्रमिक कार्ड बनता है, उसके बाद आपको अपने श्रमिक कार्ड का तय सीमा के बाद रिन्यूवल करना होगा, इज़के लिए ज्यादा कुछ नही आपको मुख्य दस्तावेज की फ़ोटोकॉपी व रिन्यूवल फॉर्म भरकर जिला रोजगार कल्याण विभाग में जमा करना होगा, हफ्ते भर में आपका रिन्यूवल श्रमिक कार्ड बन जायेगा फिर आप अपने श्रमिक कार्ड का लाभ उठा सकते है। आप श्रमिक कार्ड के रिन्यूवल के लिए ऑनलाइन भी आवेदन कर सकते है।

लेबर कार्ड के लिए आयु कितना होना चाहिए :

यदि आप लेबर कार्ड के लिए आवेदन कर रहे है तब आपकी आयु 18 वर्ष से 50 वर्ष के भीतर होना चाहिए तभी आप लेबर कार्ड के लिए आवेदन कर सकते है अन्यथा आपका आवेदन निरस्त हो जायेगा। साथ ही आप जैसे ही 60 के होते है तब आपको 300 रुपये प्रति महीने जीवनभर आर्थिक सहायता के रूप में सरकार के तरफ से मिलेगा। 

अन्य पढ़े :

जानिए विदेश में नौकरी कैसे पाएं?

सरकारी नौकरी पाने के लिए क्या करें

जानिए रेलवे स्टेशन पर दुकान कैसे खोले

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: