जानिए कैसे बने वकील | How to Become an Advocate?

वकील कैसे बने | Advocate Kaise Bane | About LLB In Hindi

वकील एक ऐसा व्यक्ति होता है जो कानून के हिसाब से ओर न्यायपालिका व भारतीय दंड संहिता के हिसाब से न्यायपालिका मे अपना काम करता है और साथ ही लोगो को न्याय दिलाने के लिए कार्य करता है। क्या आप जानते है कि एक वकील इन कामो के अलावा और क्या – क्या करते है ? नही तो आप इस लेख को अत तक पढे ताकी आपको इससे सम्बंधित पुरी जानकारी मिल सके।

कौन होता है एक वकील

आपने अपने आस पास देखा होगा की एक व्यक्ति काला कोट पहन कर हाथ मे फाइलो का बैग लेकर कोर्ट जा रहा है। वकील सामान्यतः अधिवकता, एडवोकेट जनरल, लाॅयर, लोक इत्यादी नामो से जाने जाते है। वकील दूसरे लोगो के लिए न्यायालय मे कानून के हिसाब से किसी भी केस से सम्बंधित दलिले पेश करते है।

वकील की विशेषताएँ

एक वकील के कुछ निच्छित कार्य हैं जो उनकी विशेषताओं के नाम से जानी जाते है।

एक वकील देश की मुख्य इकाई न्यायपालिका का एक अंग होता हैं।
एक वकील दलीलों के आधार लोगो के लिए केस लड़ता हैं वही लोगो के साथ हुए अन्याय से मुक्ति दिलाकर उन्हें न्याय दिलाता हैं।
एक वकील न्यायपालिका के अनुसार एफिडेविट बनवा कर उन्हें सरकारी कामो में उपयोग में लेता हैं।
एक वकील कानून का रखवाला भी होता हैं।
एक वकील नित्य हित मे काम करता है।

कौन होता है वकील

देश के कानून और न्यायपालिका के अनुसार काम करने वाला वकील कोई भी बन सकता हैं परंतु इसके लिए कुछ शर्तें व नियम और योग्यताओ का भी होना जरूरी हैं। इसके लिए जरूरी शर्ते व नियमो के बारे में हम पढ़ेंगे।

1) एक वकील देश का नागरिक होता हैं, अगर हम विदेश की बात करे तो उसमें अलग अलग देशों में अलग – अलग वकील हो सकते है।

2) वकील बनने के लिए अभियार्थी का LLB YA MLB पास होना जरूरी होता है।

3) LLB का पूरा नाम , LLB को BACHELOR OF LOW भी कहा जाता हैं। यह एक स्नातक डिग्री होती हैं जो आप कक्षा 12/GRADUTION के बाद कर सकते हैं।

4) LLB करना हर उस विद्यार्थी के लिए अनिवार्य है जो वकील बनने की सोच रखता हैं या न्यायालय में जाकर case लड़ने या उस case में अपनी दलील पेश करने की इच्छा रखता हैं।

5) वकील बनने के लिए न्यूनतम उम्र 21 साल हैम ओर उसमे अधिकतम उम्र की कोई सीमा नही हैं।

6) एक वकील को कानून का ज्ञाता भी कहा जाता है।

7) वकील बनने के लिए आपको एक स्नातक का कोर्स करना पड़ता हैं जिसे LLB के नाम से जाना जाता हैं।

वकील बनने के लिए कोर्स

वकील बनने का सपना एक बार तो हर उस व्यक्ति ने देखा होगा जो स्नातक कर के कुछ नई चीज करने की सोच रहा होगा। वकील बनने के लिए आपको LLB करने की जरूरी होती हैं। LLB दो तरह से होती हैं।

कक्षा 12 के बाद LLB जो कि 5 साल की होती हैं।
स्नातक के बाद LLB जो 3 साल की होती हैं।

कक्षा 12 के बाद LLB

अगर आप कक्षा 12 के बाद LLB करने की सोच रहे हैं तो यह एक अच्छा विकल्प हैं जिसमे आप 5 साल की LLB कर सकते हैं। यह COURSE LLB+GRADUTE का कोर्स भी कर सकते हैं । इस कोर्स को आप किसी भी मान्यता प्राप्त कॉलेज या विश्वविद्यालय से कर सकते हैं।

स्नातक के बाद LLB

अगर आपने स्नानतक कर रखी है या करने की सोच रहे हैं तो इसके बाद भी आप LLB का कोर्स कर सकते हैं। स्नातक के बाद यह कोर्स 3 साल का होता हैं। इस कोर्स को LLB AFTER GRADUATE भी कहा जाता है।

क्या होता हैं ललब ( LLB )

अगर आप वकील बनने की सोच रहे है तो आपको कम से कम LLB तो करना ही होता हैं। LLB के बाद आप चाहै तो MLB भी कर सकते हैं।

LLB एक कोर्स होता हैं जो 3 साल ओर 5 साल का होता है। अगर आप कानून के क्षेत्र में अपना कैरियर बनाना तो आपको LLB का कोर्स करना होता हैं तो देखते हैं LLB के कोर्स के बारे में

1) यह एक स्नातक स्तर का कोर्स होता हैं।

2) इस 3 साल होता ओर 5 साल का भी होता है।

3) यह कोर्स आप किसी भी मान्यता प्राप्त कॉलेज या विश्वविद्यालय से कर सकते हैं।

4) इस कोर्स का संचालन विधि आयोग दुवारा मॉनिटर किया जाता हैं।

5) इस कोर्स को bachelor of low भी कहा जाता हैं।

6) अगर आप बाहरवी कक्षा के बाद यह करना चाहते तो कर सकते हैं या स्नातक के बाद करना चाहे तो भी कर सकते हैं।

7) LLB करने के बाद आप एक अच्छा कैरियर कानून में बना सकते हैं।

LLb करने कद बाद आपको वकालत की डिग्री मिलती हैं जिसके बाद आप कानून के रखवाले बन जाते है उसके बाद आपके पास यह अधिकार प्राप्त होता हैं की आप न्यायपालिका के अधीन अधिवक्ता का कार्य कर सकते हैं।

वकील (Advocate) के काम

वकील कानून से संबंधित सारे काम करते हैं जिनमे से कुछ निम्न हैं।

1) वकील एक सलाहकार के तौर पर भी काम करता हैं।

2) एक वकील दीवानी या फौजदारी से संबंधित मामले भी देख सकता हैं ओर इससे संबंधित काम कर सकते हैं।

3) एक वकील अपने clients के लिए कोर्ट में दलीलें पेश कर कोर्ट केस लड़ सकता हैं।

4) कानूनी मामलों से संबंधित कार्य देख सकता हैं।

5) किसी मामले में पुलिस दुवारा जारी की गई case file का विश्लेषण करना साथ ही यह देखना की कुछ गलत तो नही हैं।

6) एक वकीक आपराधिक ओर आम नागरिक दोनो के मामलो को देखता हैं।

7) एक वकील सरकार का प्रतिनिधित्व भी होता हैं और सरकार का विरोधी भी।

LLB के बाद कैरियर

अगर आपने LLB कर रखी है या करने की सोच रहे है या कर रखी हैं तो आप इन क्षेत्रों में अपना कैरियर बना सकते हैं। इस क्षेत्र में आपको काम के साथ कानूनी ज्ञान होना जरूरी होता हैं।

न्यायपालिका
न्यायालय
सरकारी विभाग
अधिवक्ता
डिफेंस सर्विसेज
शिक्षण क्षेत्र
मल्टीनेशनल कंपनी
बैंक

न्यायपालिका – अगर आप जज बनने की सोच रहे हैं तो LLB करने के बाद आप जज की परीक्षा भी दे सकते हैं। अगर आप परीक्षा पास कर देते है तो आप जज बन सकते हैं।

न्यायालय – LLB पास आप कॉलेज और विश्वविद्यालय कोर्ट में नौकरी भी कर सकते हैं जैसे
कनिष्ठ न्यायिक सहायक।
सहायक न्यायलय सचिव
सहायक अभिनियोजन
क्लर्क
ओर अन्य LOW के पदों पर।

सरकारी विभाग – LLB करने के बाद सरकारी विभागों में भी नौकरी कर सकते हैं बैंक इतियादी में
किसी भी बैंक में उप विविध प्रबंधन
मॉल जैसे नेटवर्क में कानूनी सलाहकार
कानून और न्यायिक मंत्रालयों में कानूनी सलाहकार
ओर किसी अन्य कंपनी में कानूनी सहायक

अधिवक्ता – अगर आप LLB करते हैं किसी भी कोर्ट या कंपनी में अधिवक्ता का कार्य भी कर सकते हैं।
किसी कोर्ट में अधिवक्ता कार्य
किसी कंपनी के लिए अधिवक्ता का कार्य

डिफेंस सर्विसेज – अगर आप भारतीय सेना में लॉ से संबंधित कार्य करना चाहते हैं तो इस सेवा में भी कार्य कर सकते हैं।
इंडियन आर्मी में भी कार्य के सकते है।
इंडियन नेवी में भी कार्य कर सकते हैं

शिक्षण क्षेत्र – आप LLB करने के बाद किसी भी प्राइवेट या सरकारी शिक्षण क्षेत्र में नौकरी कर सकते हैं। आप शिक्षा के क्षेत्र में प्रोफ़ेसर, शिक्षक, लेक्चरर इतियादी बन सकते हैं।

कंपनी – अगर आप किसी भी प्राइवेट कंपनी में काम करने की इच्छा रखते हैं तो कंपनी में भी low से संबंधित कार्य कर सकते हैं।

बैंक – अगर आप low के क्षेत्र में बैंकिंग के क्षेत्र में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं तो यह बैंकिंग क्षेत्र में भी कार्य कर सकते हैं।

वकील बनने के लाभ

वकील बनने के भी कुछ लाभ निम्न है।

एक स्वतंत्र कार्य – एक वकीन अपने हिसाब से एक स्वतंत्र कार्य कर सकता है।

कानून के ज्ञाता – एक वकील एक कानून का ज्ञाता होता है।

राजस्व सम्बंधित कार्य – एक वकील राजस्व सम्बंधित कार्य करता है जो की वकील की तरफ से काफी फायदेमंद होता है।

निष्कर्ष

इस लेख मे हमने वकील बनने से सम्बंधित जानकारी आपको प्रदान करने की कोशिश की है। इस लेख मे हमने वकील के सम्बंधित कार्य, इनकी विशेषताएँ, इनके लाभ, वकील के कार्य क्षेत्र इत्यादी के बारे मे आपको बताने की कोशिश की है।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: