मधुमक्खी पालन व्यवसाय की जानकारी Honey Bee Farming Business in Hindi

मधुमक्खी पालन व्यवसाय कैसे शुरू करें ? खाद्य पदार्थों के उद्योग अच्छे मुकाम पर है। कई खाद्य पदार्थ हमें जीवों से भी प्राप्त होते हैं जिनकी मांग हमेशा ही बनी रहती है। जैसे मधुमक्खी से प्राप्त शहद। आप भी अच्छे से जानते हैं कि हमारे शहद क्या-क्या काम आता है। शहद से कई दवाएं तैयार की जाती है। इसके अलावा सेहत को सुधारने के लिए भी शहद का उपयोग लगभग सभी घरों में किया जाता है। इतना ही नहीं कई जने तो शहद के स्वाद के दिवाने होते हैं। इस उत्पाद की मार्केट में अच्छी खासी मांग है। ऐसे में आप शहद का प्रोडक्शन करके अपना एक बिजनेस शुरू कर सकते हैं। इसके लिए आपको मधुमक्खी पालन करना होगा। हम आपको इसकी सम्पूर्ण प्रक्रिया बताने जा रहे हैं

मधुमक्खी पालन व्यवसाय के लिए क्या-क्या चाहिए 

सबसे पहले आपके किसी खूले स्थान का चयन करना होगा जहां आप मधुमक्खियों को सुरक्षित रख सकें। जमीन आपको आपकी मधुमक्खियों के अनुसार लेनी होगी। 150 से दो सौ मधुमक्खियों की पेटी रखने के लिए आपको कम से कम दो से ढाई हजार square फिट की जमीन लेनी होगी।इसके बाद आपको ऐसी विदेशी मधुमक्खियां खरीदनी होगी जिनसे अच्छे खासे शहद का प्रोडक्शन हो सके। ये मधुमक्खियां आपको पेटी के हिसाब से मिलती है। अच्छे शहद के प्रोडक्शन के लिए आप एपिस मेलीफेरा, एपिस फ्लोरिया, एपिस इंडिका और एपिस डोरसाला आदि प्रजाति की मधुमक्खियां खरीद सकते हैं, क्योंकि इनसे आप अच्छी मात्रा में शहद प्राप्त कर पाएंगे।

मधुमक्खियां आपको प्रति पेटी चार हजार रुपये तक मिलेगी, जिनमें तीन सौ के आस-पास मधुमक्खियां होगी। अब आपको कुछ संसाधन भी जुटाने होंगे जिनमें चाकू, ड्रम, रिमूविंग मशीन, और हाथों में सुरक्षा के लिए दस्ताने आदि की व्यवस्था करनी होगी। आपको शहद निकालने की मशीन 25 हजार तक मिल जाएगी। इसके बाद कुछ सामान्य संसाधन और जुटाने होंगे जिनके बारें में आप स्वयं भी जानते ही हैं।

मधुमक्खी पालन के लिए किस प्रजाति की मधुमक्खी का चुनाव करें

हमारे देश में मधुमक्खियों की कई प्रजातियां मौजूद है लेकिन मधुमक्खी पालन के लिए कुछ प्रजाति की मधुमक्खियां ही पालन के लिए इस्तेमाल में लाई जाती है एपिस मेलीफेरा मधुमक्खी उनमे से एक है इन्हें आप आसानी से पाल सकते है और सब से अच्छी बात तो यह है की एपिस मेलीफेरा मधुमक्खी एक बॉक्स से साल भर में 70 से 80 किलो शहद दे सकती हैं अपने मधुमक्खी फार्म में इस प्रजाति की मधुमक्खी पालन करे क्यकि की यह मधुमक्खियां सबसे ज्यादा सहद और अंडे देने वाली प्रजाति है इस प्रजाति की पालन करके आपको सब से ज्यादा लाभ हो सकता है

मधुमक्खी पालन करने के लिए सही समय

मधुमक्खी पालन करने के लिए सब से अच्छी समय नवंबर से जनुअरी के बिच होती है इससे पहले ही आप अपने मधुमक्खी फार्म में सभी चीजों की व्यवस्था करले और सही समय आने पर मधुमक्खी पालन करना शुरू कर दे इसके अलावा आप यह भी ध्यान रखे की मधुमक्खी पालन आप उस जगह में करे जहां आस पास अच्छी खासी हरियाली और फूले हो क्युकी मधुमक्खियां को शहद बनाने के लिए फूलों की अवयस्कता होती वो जितना फूल का रस पीयेगी उतना ही अधिक शहद हमें प्राप्त होगा

मधुमक्खी पालन कैसे सीखें- How to learn Beekeeping Farming

मधुमक्खी पालन सीखने का सबसे अच्छा तरीका तो ये है कि अगर आपके किसी जान पहचान वाले के या आपके नजदीक कोई मधुमक्खी पालन का व्यवसाय हो, तो वहां जाकर सीख लें। यदि आपके पास ऐसी व्यवस्था नहीं है, तो आप सरकारी प्रशिक्षण ले सकते हैं। मधुमक्खी पालन के बिजनेस को सरकार भी प्रोत्साहन देती है। इसके लिए आपको लोन तो मिलता ही है और आप चार से पांच हजार के शुल्क में आराम से मधुमक्खी पालन की ट्रेनिंग कर सकते हैं। ऐसा करने के बाद आपके लिए मधुमक्खी पालन करना काफी सरल हो जाएगा।

शहद निकालने की प्रक्रिया-How did honey be removed

दोस्तों जब मधुमक्खी के छत्ते शहद से पूरी तरह भर जाएं तो आप समझ जाएं कि आपके शहद निकालने का वक्त आ गया है। कई जने हाथों से भी शहद निकालते हैं लेकिन हमने आपको शहद निकालने की मशीन के बारें में बताया जिनसे आप शहद निकाल सकते हो। उसके माध्यम से ही निकालना है, क्योंकि आपको पूरी सुरक्षा का ध्यान रखना है।

जब मधुमक्खियां पेटी में ना हो तब आपको शहद के छत्तों को चाकू से सावधानी पूर्वक निकालना होगा। उसके बाद में बहुत ही सरल प्रक्रिया है। आपको मशीन में कुछ खांचें नजर आएंगे आप उन खांचों में अच्छी तरह इन छत्तों को जमाना है, जिनमें शहद भरा हुआ है। ऐसा करने के बाद आपको मशीन ओन करनी है, बड़ी आसानी से शहद निकल जाएगा और उसे आप अपने पात्र में ले लें।

कितना मुनाफा होगा- Business profit

आपके पास कुल दो सौ के आस-पास पेटियां होगी, तब आप एक पेटी से 2.5 kg के आस-पास शहद प्राप्त कर पाएंगे यानि कि दो सौ पेटियों से 500 से 550 kg के आस-पास शहद। मार्केट से शहद की रेट 100 से 150 रुपये kg होती है। आप आसानी से 500 kg शहद पर 50 से 75 हज़ार रुपये तक कमा सकते हैं। इतना ही नहीं 15 दिन के भीतर आपके फिर शहद तैयार हो जाएगा। आप फिर से इसका प्रोडक्शन करके इसे सेल करें।

उत्पाद को कहां बेचना होगा-Where to sell Honey

जब आप अपने शहद को अच्छी तरह से तैयार कर देते हैं, उसके बाद आपको उसे बेचना होता है। आजकल शहरों में शुद्ध शहद की कमी है, यदि आप चाहें तो अपने शहद को अच्छी पैकिंग करके शहरों में ज्यादातर बेच सकते हो। इसके अलावा आप जो भी हाॅस्पिटल होते हैं उनके मेडिकल आदि पर अपने प्रोडक्ट के लिए बात कर सकते हैं, क्योंकि मेडिकल पर भी शहद दवा के रूप में सेल होता है।

इसके अलावा आप ओनलाइन मार्केट में अपनी कम्पनी का एक स्टोर बनाकर ओनलाइन मार्केटिंग के द्वारा अपने प्रोडक्ट को कई मात्रा में बेच सकते हो। आप अपने जान पहचान वाले लोगों से सम्पर्क करके उन्हें सीधे ही शहद बेच सकते हैं। इसके साथ ही यदि कोई चाहता है कि वो आपके प्रोडक्ट को खरीदके अपनी एक कम्पनी बनाकर बेचे तो आप उससे डील कर सकते हैं। ऐसा करने से आपके उत्पाद का एक पर्मानेंट ग्राहक बन

मधुमक्खी पालन में कुछ धयान देने वाली बाते 

मधुमक्खी पालन में सफल होने के लिए मधुमक्खी पालक भाई कुछ बताओ का पूरा ख्याल रखे

1) मधुमक्खी पालन करने के लिए सही समाये का निर्णय करे आप कब करे मधुमक्खी पालन की शुरुवात यह सब कुछ सोच समझ के करे

2) मधुमक्खी पालन के लिए सही प्रजाति का चुनाव करना जरूरी होता है इसका ध्यान रखे

3) मधुमक्खी के छत्ते से शहद निकलने के लिए सब से सटीक समाये का चयन करे अक्सर इसी में लोग न समझी कर बैठते है और जल्दी बजी दिखाते है शहद निकलने में और इसी करण उन्हें व्यापार में ज्यादा लाभ नहीं हो पाता

4) शहद निकालने से पहले यह बात जरूर ध्यान में रखे की मधुमक्खी के छत्ते में मधुमक्खी यह उनके अंडे नहीं हो तभी आप शहद निकाले

5) मधुमक्खी के छत्ते से बहुत ही सावधानी के साथ ही शहद निकाले अगर आपको शहद निकालने की जानकारी नहीं हैं तो आप मधुमक्खी पालक की मदद से शहद निकलवा सकते है

6) जिस जगह आप मधुमक्खी पालन कर रहे है वो जगह साफ़ और स्वच्छ होना जरूरी है क्युकी कई तरह के कीड़े मकोड़े से मधुमक्खियों को अधिक नुकसान हो सकता है

7) मधुमक्खियों को रोग से बचाने के लिए आप पानी में शक्कर मिलाकर दे इनसे मधुमक्खियों की रोग प्रतिरोधक क्षमता अच्छी रहती है

मधुमक्खी पालन व्यवसाय को बढ़ावा देने के लिए सरकार दुवारा वेबसाइट जारी किया गया है इस वेबसाइट के ज़रिया आप मधुमक्खी प्रशिक्षण केन्द्र का address हासिल कर सकते है और मधुमक्खी पालन training यहाँ से ले सकते हैं   www.kvic.org.in/

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: