कपड़े का बिजनेस – रेडीमेड गारमेंट व्यवसाय कैसे शुरू करे | Readymade Garments Business Plan in Hindi

कपडे का बिजनेस कैसे शुरू करे | जानिए कपडे का बिजनेस स्टार्ट करने का प्रोसेस तथा किस मार्किट में कपडे सस्ते मिलते है?

कपड़े का बिजनेस एक ऐसा बिजनेस है जो आज के समय में सबसे ज्यादा चल रहा है, क्योंकि आज के समय में हर व्यक्ति कुछ खास दिखने की सोचता है, जिसके लिए वह अलग-अलग तरह के कपड़े भी पहनता है और इसी के साथ-साथ आज के समय में कपड़े भी इतने ज्यादा सस्ते हो गए हैं, कि हर कोई व्यक्ति अलग-अलग तरह के कपड़े आसानी से पहन सकता है और खास तौर पर अगर हम बात करें। महिलाओं के कपड़ों की तो आज के समय में ज्यादातर लोग सिर्फ महिलाओं के कपड़े बेचने का ही काम शुरू करते हैं क्योंकि पुरुष तो कपड़े काफी कम ही खरीदते हैं, परंतु महिलाएं अक्सर महीने में तीन से चार बार कपड़े खरीद लेती हैं, यदि आप भी सोच रहे हैं कि Kapde Ki Dukan Kaise Khole तथा Kapde Ka Business Karne Ka idea तो आप हमारी इस पोस्ट को आखिर तक पढ़ते रहिएगा। आखिर तक आपको जानने को मिलेगा की Kapde Ka Business Kaise Karna Chaiye तथा Kapde Ka Business Kaise Kare In Hindi

कैसे करें कपड़े के बिजनेस की शुरुआत?

यदि आप कपड़े का बिजनेस करना चाहते हैं तो कपड़े का बिजनेस करने से पहले आपको बहुत सी चीजें ध्यान में रखनी होती हैं और कपड़े का बिजनेस एक ऐसा बिजनेस है जिसे करने से पहले आपको उसके बारे में पूरी जानकारी होनी चाहिए मतलब की कपड़ा लाना कहां से है और कपड़ा बेचना कैसे है कपड़े ले तो आप आसानी से आएंगे परंतु सबसे मुश्किल होता है उनको बेचना यदि आपको कपड़े बेचने आती हैं तो आप आसानी से कपड़े का बिजनेस कर सकते हैं अब हम आपको नीचे कुछ पॉइंट्स बता देते हैं जिनसे आपको अच्छे से पता लग जाएगा कि कपडे का बिजनेस कैसे शुरू करे

1. बातचीत करने का तरीका

यदि आप कपड़े का बिजनेस शुरू कर रहे हैं, तो इससे पहले हम आपको यह बता दें कि आपको ठीक ढंग से बातचीत करना आना चाहिए क्योंकि कपड़े का बिजनेस एक ऐसा बिजनेस है जो कि सिर्फ बातचीत से ही चलता है, यदि आपका व्यवहार ग्राहक के साथ अच्छा होगा तो आप आसानी से यह बिजनेस कर पाएंगे क्योंकि कपड़े के बिजनेस में सब कुछ हमारी बातचीत पर ही निर्भर करता है हमें कस्टमर को अच्छे से कंवेंस (Convence) करना होता है, आपने अक्सर बाजार में देखा होगा कि जब हम कपड़े लेने जाते हैं तो कपड़े बेचने वाले दुकानदार बहुत ही मीठे मीठे शब्दों में बात करते हैं, और कभी कभी तो हमें उन कपड़ों की कीमत ज्यादा लगती है परंतु फिर भी हम उन कपड़ों को खरीद लेते हैं, और हम कपड़ों को सिर्फ इसलिए खरीदते हैं क्योंकि दुकानदार का बातचीत करने का तरीका हमें पसंद आता है, इसीलिए यदि आप कपड़े का बिजनेस शुरू कर रहे हैं तो बातचीत का तरीका आपको सीखना होगा।

2. कपड़ों के बारे में पूरी जानकारी

अगर आप कपड़े का बिजनेस करके उसमें कामयाब होना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको कपड़ों से संबंधित पूरी जानकारी भी लेनी होती है क्योंकि कपड़े में भी बहुत तरह की क्वालिटी आती हैं, आपको यदि कपड़े के बारे में सब कुछ ज्ञान होगा तो आप कस्टमर के सवालों का जवाब भी दे पाएंगे आपने अक्सर देखा होगा, कि आप जब भी बाजार में कहीं कपड़े खरीदने जाते हैं तो वहां पर बहुत से ऐसे लोग आते हैं, जो कपड़ों के बारे में बहुत से सवाल जवाब भी करते हैं, या फिर आप भी दुकानदार से बहुत से सवाल पूछते होंगे कि यह कौन सा कपड़ा है, यह कपड़ा धोने के बाद सिकुड़ता है या नहीं, और भी बहुत से प्रश्न है जो कि पूछे जाते हैं, और आपको उन सभी के बारे में पता होना चाहिए। इसलिए आप कपड़े के बारे में अधिक जानकारी लेने के लिए शुरुआत में थोड़े दिन किसी कपड़े की दुकान पर भी काम कर सकते हैं ताकि आपको बेहतर जानकारी हो जाए।

कपड़े का बिजनेस शुरू करने के लिए बहुत ही अच्छी चीजें हैं, जिनका आपको ध्यान रखना होता है जैसे कि :-

कपड़े की दुकान का लोकेशन

कपड़े की दुकान खोलने से पहले आपको सबसे पहले एक ऐसा एरिया देखना होता है, जहां पर आप की दुकान ज्यादा चले मतलब कि आपको एक ऐसी जगह पर दुकान देखनी है, जहां पर आप की दुकान पर ज्यादा ग्राहक आ सके जैसे कि आप कपड़े की मार्केट के अंदर भी दुकान खोल सकते हैं, इसके अतिरिक्त यदि आपका इतना बजट नहीं है तो आप किसी ऐसी जगह पर भी कपड़े की दुकान खोल सकते हैं। जहां पर आसपास में लोगों के घर ज्यादा हो और जहां पर आसपास में पार्क हो और जब लोग पार्क में घूमने जाएं तो आपकी दुकान को भी देखें,

इसके अतिरिक्त आप कपड़े की दुकान खोलने के लिए एक ऐसी जगह भी देख सकते हैं जहां पर स्कूल-कॉलेज हो, और खास तौर पर दो स्कूल कॉलेज के पास यदि आप दुकान खोलते हैं तो वहां पर आपकी दुकान बहुत ज्यादा चलती है, क्योंकि स्कूल कॉलेज में जो भी बच्चे आते हैं मैं आपकी दुकान को देखते हैं और फिर वह आपकी दुकान पर जरूर आते हैं, इसीलिए दुकान खोलने से पहले एक अच्छी लोकेशन डिसाइड करें ताकि आपकी दुकान अच्छी चल सके।

कपड़े की दुकान का इंटीरियर

कपड़े की दुकान के लिए जब आप एक अच्छी जगह का चयन कर लेते हैं, तो उसके पश्चात आपको अपनी दुकान को अच्छे से सजाना भी होता है, मतलब की दुकान के अंदर का इंटीरियर काफी आकर्षक होना चाहिए। ताकि लोग आपकी दुकान पर आना पसंद करें जब ग्राहक आपकी दुकान पर आता है, तो सबसे पहले उसकी नजर आपकी दुकान के इंटीरियर पर भी पड़ती है, इसीलिए आपको अपनी दुकान में अच्छा इंटीरियर लगाना चाहिए और इसी के साथ साथ आपको अपनी दुकान की सजावट भी अच्छे ढंग से करनी चाहिए।

जैसा कि आपने अक्सर देखा हुआ कि जब भी आप किसी कपड़े की दुकान पर जाते हैं तो वहां पर बहुत से पुतले लगे होते हैं, जिन्हें कपड़े पहने होते हैं आप भी अपनी दुकान पर इस प्रकार के पुतले रखी है ताकि लोग उन कपड़ों को देखकर आकर्षित हो, और खास तौर पर आप अपनी दुकान के सामने का हिस्सा शीशे से बनाइए, ताकि लोग दूर से आपकी दुकान के अंदर रखे हुए आकर्षक कपड़ों को देख सकें।

सबसे सस्ते कपड़े कहां मिलते हैं

जब आप कपड़े की दुकान खोलने की सोचते हैं तो सबसे पहले आपके मन में यही खयाल आता है की सस्ते कपडे कहा से मिलते है तो दोस्तों हम आपको बता दें कि ऐसी बहुत सी जगह है जहां से आप बहुत कम दामों में कपड़े खरीद सकते हैं जैसे कि :-

आप लुधियाना ( Ludhiana ) से भी अपनी दुकान के लिए कपड़े खरीद सकते हैं, लुधियाना पंजाब (Punjab) का एक शहर है और यह शहर कपड़ों की फैक्ट्रियों के कारण पूरे भारत में प्रसिद्ध है, यहां पर बहुत सी ऐसी कपड़ों की फैक्ट्रियां हैं जहां से आप अपनी मनपसंद कपड़े भी बनवा सकते हैं, और इसके अतिरिक्त यदि आप बने बनाए कपड़े खरीदना चाहते हैं, तो यह सुविधा भी यहां पर उपलब्ध रहती है इसीलिए यदि आप सस्ते दामों में अपनी दुकान के लिए कपड़े खरीदना चाहते हैं, तो आप लुधियाना से भी खरीद सकते हैं।

यदि लुधियाना शहर आप से काफी ज्यादा दूरी पर पड़ता है, तो आप दिल्ली चांदनी चौक ( Delhi Chandini Chawk ) से भी कपड़े खरीद सकते हैं, दिल्ली का चांदनी चौक कपड़ों की दुकानदारी के लिए पूरे भारत में जाना जाता है, और यहां पर कपड़ों की बहुत अधिक फैक्ट्रियां स्थित है जहां पर आपको अपनी मनपसंद कपड़े काफी कम दामों में मिल जाते हैं, जिन्हें अपनी दुकान पर बेचकर आप अच्छा खासा पैसा कमा सकते हैं, शुरुआत में जब आप दुकान खोल रहे होते हैं तो उस समय आपको कपड़े खरीदने की थोड़ी सी समस्या रहती है, परंतु धीरे-धीरे आपको अनुभव हो जाता है, मगर हम तो आपको यही कहेंगे की अपनी दुकान के लिए कपड़े खरीदने से पहले आप कम से कम 10 जगह पर पता कीजिए, और उसके बाद किसी एक जगह से कपड़े खरीदने जहां से आपको कपड़े खरीदने पर ज्यादा प्रॉफिट हो

लेडीज कपडे का बिजनेस शुरू करने के लिए यहाँ से पढ़े

कपड़े के बिजनेस की शुरुआत करने में आने वाले लागत

कपड़े के बिजनेस एक तरफ व्यक्ति को लाभ तो मिलता है परंतु शुरुआती तौर पर इस बिजनेस में लागत के तौर पर काफी खर्च उठाना पड़ जाता है। यदि आप रेडीमेड कपड़े का बिजनेस करने की सोच रहे हैं तो सबसे पहले आपके पास अपनी खुद की दुकान होनी चाहिए नहीं तो आपको दुकान किराए पर लेना होगा जिसका किराया तकरीबन 7 से 8 हजार आपको वहन करना होगा। इसके आगे की प्रक्रिया में आपको फर्नीचर और रखरखाव के सामान आदि का इंतजाम करना होगा। अब बात आती है रेडीमेड कपड़ों की यानी माल की जो कि आपको एडवांस तौर पर भुगतान करना होता है जिसकी लागत 3 लाख से लेकर 5 लाख के बीच आती है 

कपड़े के बिजनेस का पंजीकरण (रजिस्ट्रेशन) कैसे होता है

कपड़ो का बिजनेस करना इतना सहज नहीं है इसके लिए आपको पंजीकृत होना होता है।

TIN नंबर

जब भी आप कपड़े व्यवसाय की शुरुआत करते हैं तो इसके लिए आपको TIN नंबर की जरूरत पड़ती है इसकी आवश्यकता इसलिए होती है क्योंकि आपको इसी दिए गए नंबर के आधार पर आपके खरीदे गए समान पर टैक्स कटता है। इसी को आधार मानकर इनकम टैक्स की और से आपके द्वारा बेचे गए कपड़ों की जांच के लिए पेश किए जाते हैं।

यदि आपके पास TIN नंबर नही है तो आपको अपना पैन नंबर, एक पहचान पत्र, एड्रेस प्रूफ, समान खरीदने का बिल, बिज़नेस का नाम, और अपने प्रोडक्ट की जानकारी अपने हस्ताक्षर के साथ आपको जमा करना पड़ेगा आपके द्वारा दी गई जानकारी के प्रमाणित हो जाने पर कमर्शियल टैक्स डिपार्टमेंट की ओर से 11अंकों का TIN नंबर प्राप्त होता है। कपड़े का व्यवसाय यदि दो लाख की सीमा तक माल खरीदना है तो उसे छूट प्रदान की जाती है। TIN नंबर को आधार मानकर आपको डिस्ट्रीब्यूटर से माल प्राप्त होगा आपके माल की पूरी बिक्री हो जाने के बाद ही आप डिस्ट्रीब्यूटर को पैसा जमा कर सकते हो

फॉर्म 32

यह एक ऐसा फॉर्म होता है जिसके मदद से डिस्ट्रीब्यूटर आपको माल देगा क्या आपको पता है कि एक फॉर्म के बदले आपको माल प्राप्त होता है। इस फॉर्म 32 की मौजूदगी में आपको टैक्स देने से संबंधित समस्या का सामना नहीं करना पड़ता है जैसे ही आपका फॉर्म 32 पूरा हो जाए उसके बाद से ही आपका माल दूसरे शहर से आपके शहर में आना शुरू हो जाएगा और अब आप अपने माल को किसी अन्य शहर में भी ले जाकर बेच सकते हैं।

कपडे का बिजनेस शुरू करने के लिए कुछ जरूरी टिप्स :

1) कपड़े का बिजनेस एक ऐसा बिजनेस होता है जहाँ कुछ वक्त के बाद एक नया ही फैशन आ जाता है इसलिए कभी भी बहुत ज्यादा समान अपने पास न रखें, नही तो आप घाटे में जा सकते हैं

2) कस्टमर से हमेशा अच्छे से व्यवहार करें कस्टमर के ऊपर आपके द्वारा किये गए व्यवहार का बहुत अधिक असर पड़ता है यदि आपकी बोली और भाषा अच्छी है, तो आप ग्राहक को अपने दामों पर भी समान बेच सकते हैं यह सिर्फ अच्छे व्यवहार के कारण संभव हो सकता है

3) कपड़े का बिजनेस में कभी भी कीमत को लेकर ज्यादा मोलभाव करने से ग्राहक के दिमाग मे यह बात आ जाती है की इनके यहाँ हमेशा कीमत कम रहती है इसकी वजह से कस्टमर हमेशा आपसे काफी कम कीमत पर समान लेने की अपेक्षा करने लगेंगे

4) हर बिजनेस का कभी अच्छा वक्त आता है कभी बुरा वक्त आता है इसलिए यह बहुत जरूरी है कि जब आपके बिज़नेस का अच्छा वक्त चल रहा हो और पैसे आ रहे हों उस वक्त आप ज्यादा से ज्यादा बचत करने की कोशिश करे यह कि गई बचत आपको उस वक़्त बहुत मदद करेगी जब आपका बिज़नेस बुरे दौर से गुजर रहा होगा

कपड़े के व्यवसाय कितना फायदेमंद होता है?

जैसा कि आप जानते होंगे कि यदि आप कपड़े थोक में खरीदते हैं तो आपको कम दाम पर कपड़े उपलब्ध हो जाते हैं जिसे आप अधिक रेट पर बेच सकते हैं

अगर आप जिंस वगेरा खरीदते हैं तो आपको थोक में ये एक जिंस 250 या 300 रुपये में मिल जाती है। इसके बाद आप इस जिंस को 700 से 800 तक में बेचते हैं तो आपको एक जिंस पर 350 से 450 रुपये तक का मुनाफा होता है। इसी तरह यदि आप साड़िया, सूट थोक में खरीदते हैं तो आपको प्रति साड़ी 250 से 300 रुपये तक पड़ती है आप उस साड़ी को मार्केट में 500 से 600 रुपये तक बेच सकते हो, तो आपको एक साड़ी,सूट पे कम से कम 200 से 300 रुपये मिल सकते हैं 

यानि अगर आप एक दिन में सात से आठ जिंस सेल करते हो तो आप 2500 से 3 हजार रुपये प्रतिदिन यानि महिने के 80 से 90 हजार रुपये आसानी से कमा सकते हो। इसके अलावा एक दिन में यदि आप आठ से दस साड़ियां, सूट बेचते हो, तो भी आप 2500 से 2800 प्रतिदिन यानि महिने के कम से कम 70 से 75 हजार रुपये कमा सकते हो। इसके बाद आप अच्छी सेलिंग करते हैं या ग्राहकों को अपनी ओर खींचने में सफल होते हैं, तो आपका मुनाफा वैसे ही बढ़ जाएगा। 

कपड़े का सौदा आपके लिए पूरी तरह फायदेमंद होता है फिर चाहे वह थोक कपड़े का हो जिसमें व्यापारी को 100 फ़ीसदी लाभ पहुंचता है। जब बात आती है ब्रांडेड कपड़े की तो इसमें पहले से ही व्यापारी का कमीशन रखा होता है जो कि तकरीबन 25 फ़ीसदी होता है।

कपड़े का बिजनेस में मुख्य चुनौतियां क्या हैं?

कपड़े का बिजनेस एक फायदेमंद व्यापारों की श्रेणी में आता है यह स्थिति आज नही बनी है यह काफी पुराने वक़्त से ही एक पसंदीदा बिजनेस रहा है इस वजह से इस बिजनेस में बहुत ही ज्यादा प्रतिस्पर्धा है जब भी कोई नया बिजनेस मैन इस बिजनेस में प्रवेश करता है तो कुछ प्रमुख चुनौतियों का सामना करना पड़ता है

जैसे सबसे बड़ी चुनौती यह होती है कि इस क्षेत्र में कई पुराने और माहिर व्यापारियों का पहले ही दबदबा बना होता है ग्राहक भी उसी ओर अधिकतर जाते है जो पुरानी दुकान हो, क्यों कि उन्हें ऐसा लगता है कि नए दुकान में उनसे ज्यादा पैसे वसूले जा सकते है बस बात भरोसे की होती है इसलिए ग्राहकों को अपनी ओर आकर्षित करना के चुनौती होती है 

दूसरी जो एक बड़ी चुनौती होती है वह यह कि कपड़ो का व्यापार मौसम के प्रति बहुत संवेदनशील होता है मौसम के हिसाब से कपड़े बदलते रहते हैं इसलिए यदि आपने किसी भी मौसम से जुड़े ज्यादा कपड़ो का स्टॉक अपने पास जमा कर लिया तो आपको घाटा भी हो सकता है यदि सीजन निकल गया तो उन कपड़ो को बेचना काफी मुश्किल हल जाता है, क्योंकि अगले सीजन में नए डिज़ाइन के कपड़े आ जाते है फिर पुराने कपड़ो को बेचना काफी मुश्किल हो जाता है 

एक और चुनौती सामने आती है वो कपड़े की क्वालिटी की है कपड़ो की क़्वालिटी जांचने में आपको अच्छी महारत हासिल होना चाहिए ताकि आप कभी भी धोखा न खा सकें जैसा कि कस्टमर कि सोच होती है कि वह उम्दा क्वालिटी की कपड़े की खरीदारी करेंगे। कभी-कभी जिस दुकान से वह खरीद जारी कर रहे होते हैं। उन्हें उन कपड़ों में क्वालिटी की कमी दिखाई देती है जिससे कि वह खरीदारी करने से मुकर जाते हैं

यह भी पढ़े :

घर बैठे पैकिंग का काम कैसे करे

घर बैठे ऑनलाइन पैसे कैसे कमाए

कॉस्मेटिक आइटम का बिजनेस कैसे करे

117 Comments

Leave a Reply to vinay tiwari Cancel reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: