डांस क्लास बिजनेस कैसे शुरू करें | Dance Class Business Ideas in Hindi

नृत्य हमारी संस्कृति है, प्राचीनकाल से नृत्य को हमारे देश में उच्च दर्जा प्राप्त है। आज नृत्य का रूप बदल सा गया है फिर भी इसका महत्व कम नहीं हुआ है। हर खुशी के मौके पर, कार्यक्रम में नृत्य आज भी अभिन्न अंग बना हुआ है। शादी हो, पार्टी या फिर कोई अन्य आयोजन नृत्य करना हमारे लिए आम बात है, लेकिन आजकल महिला संगीत के कार्यक्रम, टीवी शोज, स्टेज परफॉरमेंस आदि के लिए नृत्य का प्रशिक्षण लेना जरूरी हो गया है। लोग नृत्य सीखने के लिए आज मुँहमाँगा पैसा देने को तत्पर रहते है, इसलिए आप भी अपनी खुद की डांसिंग स्टूडियो (क्लास) शुरू कर आसानी से अच्छी कमाई कर सकते है। तो आइये जानते है एक अच्छा डांसिंग स्टूडियो (क्लास) बिज़नेस शुरू करने के लिए किन-किन बातों का ध्यान रखना आवश्यक होता है :

डांस क्लास बिजनेस क्यों शुरू करें?

आज डांस की मांग बढ़ सी गयी है, इसलिए लोगों को डांस सिखाने वाले व्यक्तियों की आवश्यकता हमेशा रहती है। छोटे बच्चे हो बड़े या फिर महिला-पुरुष ही क्यों ना हो आज सभी को किसी ना किसी कार्यक्रम में नृत्य करना रहता है, और इसी लिए वे डांस सिखाने वाले यानि कोरियोग्राफर को नियुक्त करते है।

डांस क्लास शुरू करने में किस चीज की जरूरत होती है?

1) एक अच्छी डांस क्लास शुरू करने के लिए सबसे पहले आपको नृत्य में रुचि होना चाहिए, जिससे आप इसे अपने विद्यार्थियों को अच्छे से सीखा सके। जिस चीज में आपकी रुचि होती है वो आप दूसरों को भी रुचि के साथ सिखाते है साथ ही आपको अपने विद्यार्थियों के प्रति भी जिम्मेदार और अनुशासित होना जरूरी है, जिससे वे अपने आपको खास महसूस करेंगे और आपसे अच्छे से नृत्य सिख पाएंगे।

2) इसके साथ ही आपको अपने बिजनेस का फ्यूचर प्लान और मार्केटिंग रणनीति को भी बनाना होगा जैसे आप अपने बिजनेस को आगे कैसे विस्तृत करना चाहेंगे साथ ही लोगों तक आप के बिजनेस की जानकारी कैसे पहुंचाएंगे।

3) आपको ये तय करना होगा की आप किस नृत्य कला को अपनी क्लास में सिखाना चाहते है साथ ही आपको अपने हुनर और मेहनत की कितनी फीस लेनी है।

इन सब बातों की जानकारी के लिए आप किसी अच्छे डांसिंग स्टूडियो में बतौर इंस्ट्रक्टर कुछ समय के लिए काम भी कर सकते है, जिससे आपको बिजनेस की मूलभूत जानकारी प्राप्त हो सके।

डांस क्लास बिजनेस का भविष्य :

ये बिजनेस पिछले 10-12 सालों से तरक्की की सारी हद पार कर रहा है, इसका मुख्य कारण टीवी रियलिटी शोज, ज़ुम्बा और एरोबिक्स जैसी एक्सरसाइज थीम, फिल्मों में अच्छे और अनोखे नृत्य की जरूरत और शादियों में महिला संगीत है। आज कितने ही कोरियोग्राफर ने इस क्षेत्र में अच्छी शोहरत और दौलत कमाई है, जिनके नाम से आप रूबरू होंगे ही।

ये डांस आप घर से शुरू कर बड़े से डांसिंग स्टूडियो तक बढ़ा सकते है, साथ ही आप अपने साथ अन्य लोगों को जोड़ कर अपनी खुद की academy भी शुरू कर सकते है।

डांस क्लास बिजनेस की लागत :

ये बिजनेस अगर आप अपने घर से शुरू करते है तो इसकी लागत ना के बराबर ही रहेगी, लेकिन अगर आप इसे बड़े पैमाने पर शुरू करना चाहते है तो आपको इसके लिए जगह लेना होगी (किराये या खरीद कर) जहाँ आप प्रशिक्षण दे सके। साथ ही आपको फर्नीचर, म्यूज़िक सिस्टम और लैपटॉप की जरूरत होगी। इन सभी चीजों को मिला कर कुल लागत करीब 1 लाख से 1.5 लाख तक आ सकती है। आप इसके लिए बैंक लोन ले सकते है या फिर अपने बिजनेस को स्पांसर करवा सकते है।

डांस क्लास बिजनेस से कमाई :

इस बिजनेस से कमाई आप आसानी से कर सकते है लेकिन ये कुछ बातों पर निर्भर करता है जैसे कि :

1) आप अपनी कला में कितने परिपक्व है और दूसरों को आसानी से कैसे प्रशिक्षण दे सकते है।

2) आपने अपने विद्यार्थियों से कैसे व्यवहार बनाये है और वे दूसरे लोगों को आपके बारे में क्या राय देते है।

3) आपने अपनी फीस कितनी और किस पैमाने पर रखी है।

4) आपने अपनी क्लास की मार्केटिंग कितनी सटीक और विस्तृत की है, जिससे लोग ज्यादा से ज्यादा आप तक पहुँच पाएं।

बिजनेस शुरू करने से पहले करें मार्केट रिसर्च :

अपने क्लाइंट को पहचाने

डांस सिखाने के बिजनेस को शुरू करने से पहले ये जानना आवश्यक है कि आपके क्लाइंट्स यानि विद्यार्थी कौन हो सकते है जैसे बच्चे, युवा पुरुष-महिला, दूल्हा-दुल्हन, और डांस के प्रति रुचि रखने वाले व्यक्ति। तो आपको इनके हिसाब से ही अपने नृत्य के प्रकार को चुनना चाहिए।

सही डांस के प्रकार को चुने :

आजकल मार्केट में जो नृत्य के प्रकार प्रचलित है उनमें आप महारत हासिल करे, और अगर आपको अलग-अलग डांस फॉर्म के लिए अन्य व्यक्ति को नियुक्त करना हो तो वो भी आप कर सकते है। आजकल एरोबिक्स, हिपहॉप, ब्रेकडांस, ट्रेडिशनल डांस (भरतनाट्यम,कत्थक), बॉलीवुड थीम डांस, सालसा आदि चलन में है, आप इनमें महारत हासिल कर अच्छी कमाई कर सकते है।

फीस को सही और सटीक रखे :

पैसा एक ऐसी चीज है जिसे हर कोई सोच समझ कर खर्च करना चाहता है,इसलिए अपनी फीस को सही और सटीक रखे। अपनी मेहनत का सही मूल्य आंकना ना भूले और मार्केट में अपने प्रतिस्पर्धी पर भी नज़र रखे।

डांसिंग क्लास बिजनेस का दायरा :

इस बिजनेस को पहले आप अपने घर से पार्ट टाइम शुरू कर सकते है, बाद में इसे आप अपने फुल टाइम व्यवसाय में तब्दील कर सकते है। अगर आप अच्छे डांसर है तो आप विभिन्न विख्यात व्यक्तियों को भी नृत्य का प्रशिक्षण दे सकते है। साथ ही टीवी शोज में रियल गुरु बन कर भी आप प्रतिभागियों को डांस सीखा सकते है। आप अनेक देश में अपने कॉन्सर्ट के द्वारा भी अच्छी कमाई कर सकते है।

खुद का बिजनेस या फ्रेंचाइजी?

इस बिजनेस के लिए भी आजकल फ्रेंचाइजी लेने का चलन बढ़ सा गया है, अब ये आपको सोचना होगा कि आप धीरे-धीरे अपने बल पर आगे बढ़ना चाहते है या फिर फ्रेंचाइजी लेकर आप शुरू दिन से ही कामना चाहते है। इन दोनों ही तरीकों का नुकसान और फायदा है, जैसे खुद के बिजनेस में आप स्वयं के मालिक होंगे और मुनाफा हो या हानि सभी आपको ही होगा। फ्रेंचाइजी लेने पर आपको कम्पनी के अनुसार चलना होगा और अपने मुनाफ़े का कुछ हिस्सा कंपनी को भी देना होगा।

खुद के बिजनेस में आपको अपना क्लाइंट बेस बनाना होगा लेकिन फ्रेंचाइजी लेने पर कम्पनी की गुडविल पर आपको क्लाइंट मिल जायेंगे।

डांस क्लास बिजनेस की चुनौतियों :

1) सबसे खास चुनौती अच्छे क्लाइंट्स ढूंढ़ने की होती है, इसके लिए आपको अच्छे से बिजनेस मार्केटिंग करनी होगी।

2) इसके बाद अगर आप अपनी क्लास में कुछ स्टॉफ रखना चाहते है तो दूसरी चुनौती यही होगी के कैसे अच्छा स्टॉफ को चुने, इसके लिए आप अच्छे इंस्टिट्यूट और कॉलेज के डांस टीचर्स से बात कर सकते है।

3) तीसरी चुनौती आपके क्लाइंट के साथ व्यवहार को लेकर हो सकती है,कई बार कुछ माता-पिता आपकी नीतियों और अनुशासन को ठीक नहीं मानते है और उसका विरोध करते है ऐसे में आपको उनको ठीक से संभालना होगा।

4) नए शुरू किये गए बिजनेस के आगे पहले से स्थापित बिजनेस भी एक चुनौती ही होते है, इसके लिए आपको समय-समय पर नए-नए तरीकों को अपना (डिस्काउंट, फ्री ट्रायल आदि) क्लाइंट को अपनी ओर आकर्षित करना होगा।

कानूनी लाइसेंस :

डांस क्लास बिजनेस अगर छोटा हो और घर से ही किया जा रहा हो तो इसके लिए मुख्यतः कोई लाइसेंस की आवश्यकता नहीं होती है, लेकिन अगर आप अपने बिजनेस को एक ब्रांड के रूप में स्थापित करना चाहते है, तो आपको इसका नाम और लोगो को रजिस्टर कराना होगा। साथ ही आपको जीएसटी नंबर और शॉप एक्ट के अंतर्गत रजिस्टर भी कराना होगा। आप आपने बिजनेस को सोल प्रोप्रिएटोरशिप, लिमिटेड लायबिलिटी कम्पनी (LLC) या फिर पार्टनरशिप में भी रजिस्टर करा सकते है।

डांस क्लास बिजनेस का नाम :

आपके बिजनेस का अच्छा सा नाम आपके क्लाइंट्स को आकर्षित करने का एक जरिया हो सकता है, इसलिए अपने बिजनेस का एक अच्छा और सरल नाम जरूर रखिये, जिससे लोगों का आपकी डांसिंग क्लास में रुचि बड़े।

बिजनेस शुरू करने की सही जगह:

अगर आप अपने बिजनेस को घर से शुरू नहीं कर रहे है तो आपको इसके लिए ऐसी जगह ढूंढ़ना होगी जहाँ स्थानीय लोगों की आबादी ज्यादा हो। आपको ये भी ध्यान रखना होगा की आपके प्रतिस्पर्धी की आपके सेंटर से दूरी कितनी है। बिज़नेस उस क्षेत्र में शुरू करना चाहिए जहाँ यातायात की सुविधा, शहर से दूरी आदि सही हो।

सर्टिफिकेशन :

आप डांस में चाहे कितने ही अच्छे हो लेकिन अगर आप कोई सर्टिफिकेशन कोर्स कर लेते है तो आपके डांस में निखार और आपके आत्मविश्वास में बढ़ोतरी होगी। आज कितने ही कॉलेज और इंस्टिट्यूट डांसिंग में सर्टिफिकेशन कोर्स करवा रहे है, आप भी वह कोर्स कर अपने आप को और स्थिर और आत्मविश्वासी बना सकते है। ये कोर्स करना आपकी आर्थिक स्थिति पर भी निर्भर करेगा, अगर आप अभी इसे नहीं कर सकते है तो आगे चल इन कोर्सेज को करने की जरूर सोचियेगा।

मार्केटिंग :

1) आप अपने डांसिंग बिजनेस की मार्केटिंग अपने सोशल मीडिया हैंडल से तो कर ही सकते है, साथ ही आप अपनी यूट्यूब चैनल शुरू कर डांसिंग वीडियो डाल लोगों को अपने बिजनेस के बारे में बता सकते है। आप अलग-अलग जगह जा अपने शो कर सकते है (कॉलेज, स्कूल, कैफ़े आदि) जिसे देख आपके क्लाइंट की संख्या बढ़ सकती है।

2) आप अपने बिजनेस के पंपलेट बंटवा सकते है साथ ही होर्डिंग भी लगवा सकते है।

3) आप अपने बिजनेस को गूगल बिजनेस पर रजिस्टर भी करवा सकते है, जिससे लोग आपके बिजनेस को आसानी से ढूंढ सके।

तो ये थे घर से डांसिंग क्लास खोल आगे जा अपने बिजनेस को बढ़ाने के लिए कुछ महत्वपूर्ण जानकारी, आशा है ये आपको आपके बिजनेस शुरू करने में सहयोगी होगी। तो देर किस बात की जल्दी से सोच समझ कर योजना बनाइये और अपने हुनर को बिजनेस में तब्दील कर दीजिए।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: