Computer training Institute कैसे खोले सम्पूर्ण जानकारी

Computer Institute Kaise Khole? How To Open Computer Coaching Center/Institute Full Information In Hindi 

Computer Training Center Business Plan in Hindi – आज के आधुनिक और तकनीकी युग में, तेजी से कंप्यूटर टेक्नोलॉजी में हो रहे विकास के चलते, कंप्यूटर सीखना हर किसी की जरूरत बन चुका है । क्योंकि आज के समय में न सिर्फ कुछ मल्टीनेशनल कंपनी और बड़ी कंपनियों का काम ही कंप्यूटर पर ही आधारित हो गया है, बल्कि आज कंप्यूटर पर प्राइवेट, गर्वनेंट और बिजनेस सेक्टर सभी की निर्भरता बढ़ गई है । क्योंकि कंप्यूटर ने हर काम को बेहद आसान बना दिया है और इसमें किसी भी काम का रिकॉर्ड रखना बेहद आसान हो गया है ।

वहीं इस मॉडर्न और टेक्नोलॉजी के युग में कंप्यूटर की शिक्षा देने वाले कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट की डिमांड भी काफी बढ़ गई है, हालांकि अब स्कूलों में कंप्यूटर को एक अनिवार्य विषय के रुप में पढ़ाया जाने लगा है , लेकिन स्कूलों में छात्र सिर्फ कंप्यूटर की बेसिक जानकारी ही ले सकते हैं, कंप्यूटर से संबंधित अन्य जानकारी छात्र Computer training Institute के माध्यम से ही प्राप्त कर सकते हैं ।

Table of Contents

कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट क्या है 

जहां बच्चों को कंप्यूटर ऑपरेट करने के बारे में सिखाया जाता है और सीखने के बाद सर्टिफिकेट देकर प्रमाणित भी किया जाता है कंप्यूटर इंस्टीट्यूट कहलाता है या साधारणतः ये भी कहा जा सकता है कि यह एक कंप्यूटर का स्कूल । यदि आपको कंप्यूटर का थोड़ा ज्ञान है तो आप कंप्यूटर इंस्टीट्यूट खोल सकते हैं जिससे आपकी अच्छी कमाई हो जाएगी।

लेकिन इसके लिए अच्छे खासे पैसे की आवश्यकता पड़ती है जिससे आप सिस्टम और बाकी जरूरतों को पूर्ण करेंगे और अंत में बात आती है सरकारी परमिशन की जो सबसे जरूरी और सबसे कठिन काम है इसके लिए पैसे भी खर्च करने पड़ते हैं और भागदौड भी करनी पड़ सकती हैं। 

यह भी पढ़े : Coaching Center कैसे खोले?

मार्केट की रिसर्च करें – Analyze the Computer Training Center/Institute Market In Hindi

अगर आपको इस बिजनेस में अपनी पकड़ बनानी है और लम्बे समय तक अच्छी कमाई करनी है तो Computer Training Center खोलने से पहले आपने आस – पास की मार्केट का अच्छे से विश्लेष्ण कर लें अपने प्रतिद्वंदीयों को analyze करें और देखें की वह किस प्रकार की सुविधाएं प्रदान कर रहे हैं, इसके अलावा इस बात पर भी ध्यान दें की वह किस प्रकार की सुविधाओॆ को देने में असफल हो रहे हैं ।

अगर आप यह पता करने में सफल हो जाते हैं तो आप इन Points पर काम कर के आसानी से नये कस्टूमरों को अपनी ओर आकर्षित कर पाएगे आपको सावधानी से बाजार का विश्लेषण करते हुए देखना है की आप किन Hardware और Software के टॉपिक को सबसे अच्छे तरीके से पढ़ा सकते हैं आप बेसिक टॉपिक और एडवांस टॉपिक के लिए अलग – अलग टिचरों को रख सकते हैं अक्सर देखने में आता है की बडे शहरों में Professional courses की माँग ज्यादा होती है ।

सबसे पहले अपना बिजनेस का प्लान बनाएं – Business plan for Computer Training Center/Institute In hindi

बिजनेस को शुरू करने से पहले यदि आप अपने बिजनेस का डिटेल प्लान बना लें तो ज्यादा अच्छा रहेगा, इस प्लान में आपको डिटेल में Clear होना चाहिये की आपका लक्ष्य क्या है, Ownership pattern कैसा रहेगा, कुल कितनी लागत आ सकती है, आपको किन संसाधनों को जुटाना पड सकता है वगहरा – वगहरा

कंप्यूटर कोचिंग सेंटर या ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट के लिए सही जगह का चुनाव करें

अगर आपने कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट खोलने का निश्चय कर लिया है तो इसकी शुरुआत करने के लिए सबसे पहले आपको इसके लिए सही जगह का निर्धारण करना होगा । आपको इसे खोलने के लिए शहर में किसी ऐसी जगह का चुनाव करना होगा, जहां पर छात्र आसानी से पुहंच सकें ।

वहीं अगर आप शहर के किसी सेंटर प्लेस पर इसे खोलते हैं तो बेहद अच्छा है, लेकिन अगर आपको अपना ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट खोलने के लिए इस तरह की लोकेशन नहीं मिल रही है तो, आप इसे स्कूल, कॉलेज अथवा ITI, कोचिंग सेंटर के पास भी खोल सकते हैं । जिससे ज्यादा से ज्यादा छात्र आपकी कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट के बारे में जान सकेंगे और इसमें एडमिशन ले सकें ।

कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट के लिए जगह का निर्धारण करने से पहले यह भी ध्यान रखना चाहिए कि यह आपके शहर से दूर नहीं हो, क्योंकि ऐसी जगह पर ट्रांसपोर्ट के साधनों की पहुंच नहीं होने से आने-जाने में बहुत परेशानी होती है, साथ ही ज्यादा दूरी पर समय भी बर्बाद होता है, जिससे छात्र ऐसी जगह से कोर्सेस करना पसंद नहीं करते ।

जगह का चुनाव करते समय ध्यान रखने योग्य Points :-

1. ऐसी जगह का चुनाव करें जहां पहुंचने में कम से कम असुविधा हो

2. लड़किया भी उस जगह तक बिना किसी दिक्कत के पहुंच सकें ।

3. अगर आपकी सर्विस ज्यादा महंगी है तो ऐसी जगह को चुनें जहाँ लोग उन्हे खरीदने में सक्षम हों ।

4. आस – पास साफ सफाई का भी अच्छा वातावरण होना चाहिए।

कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट खोलने के लिए इंफ्रास्ट्रक्चर पर दें पूरा ध्यान

कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट खोलने के लिए जगह का चुनाव करने के बाद आपको इसके इंफ्रास्ट्रक्चर पर भी ध्यान देना होगा । वहीं अगर आपके पास कंप्यूटर ट्रेनिंग सेंटर खोलने के लिए खुद की पर्याप्त जगह या फिर बिल्डिंग नही हैं तो, आप इसके लिए सस्ती बिल्डिंग किराए पर ले सकते हैं

कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट/सेंटर खोलने के लिए आपको कम से कम 100 से 200 sq फीट जगह की जरूरत होगी । तभी आप उसमें छात्रों के लिए पर्याप्त कंप्यूटर रख सकेंगे, साथ ही एक अच्छी कंप्यूटर लैब बना सकेंगे और छात्रों की जरुरत के मुताबिक सभी आवश्यक चीजों को रख सकेंगे । वहीं कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट में छात्रों की बैठने की भी उचित व्यवस्था होनी चाहिए, ताकि कंप्यूटर ट्रेनिंग सेंटर के अच्छे इंफ्रास्ट्रक्चर से आर्कषित होकर छात्र आपके ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट में एडमिशन लें ।

कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट खोलने के लिए फर्नीचर की जरूरत

इसके बाद अब आपको अपने कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट/सेंटर के लिए फर्नीचर को खरीदने की जरूरत होगी । अपने कंप्यूटर कोचिंग सेंटर के लिए आपको करीब 20 कुर्सियों की जरुरत होगी, जिसमें से आप अपनी जरूरत के मुताबिक इन कुर्सियों को कंप्यूटर थ्योरी रुम, कंप्यूटर ट्रेनिंग लैब रुम और सेंटर के डायरेक्टर के केबिन में रख सकते हैं ।

वहीं अगर आपका बजट ज्यादा है तो आप इसे अपने अनुसार बढ़ा सकते हैं । इसके अलावा आपको अपने कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट के लिए आपको कंप्यूटर रखने के लिए 2-3 बड़ी-बड़ी मेज खरीदने की भी जरूरत होगी , इसे आप अपने कंप्यूटर रुम लैब के एरिया के मुताबिक खरीद सकते हैं ।

कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट के लिए, हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर खरीदने की जरूरत

कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट की शुरुआत करने के लिए आपको कम से कम 10 पर्सनल कंप्यूटर सिस्टम की जरूरत होगी । वहीं कंप्यूटर की संख्या आपके बजट पर और आपके ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट में उपलब्ध जगह की क्षमता पर भी निर्भर करती है ।

कंप्यूटर खरीदने के अलावा आपके पास आपकी कोचिंग के तय किए गए कोर्सेस और सिलेबस के मुताबिक जरूरी सॉफ्टवेयर भी होना चाहिए । आपके कम्प्यूटर सेंटर में MS Office, Tally, Java, Catia, Typing Tutors, Oracle, Visual Basic, Flash, Auto Card, Page Maker, Corel Draw जैसे कई ऐसे सॉफ्टवेयर होने चाहिए जो कि छात्र आपके इंस्टिट्यूट में सीखने के लिए आएंगे ।

इसके साथ ही कंप्यूटर लेटेस्ट प्रोसेसर्स और ऑपरेटिंग सिस्टम से अपडेट करना चाहिए । वहीं ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट के कंप्यूटर में सॉफ्टवेयर डाउनलोड करने के लिए आपको उस व्यक्ति से संपर्क करना होगा , जहां से आपने अपने कंप्यूटर इंस्टिट्यूट के लिए कंप्यूटर सिस्टम खरीदें हैं 

इसके साथ ही किसी भी तरह की कानूनी परेशानियों से बचने और एक सफल व्यापारी के तौर पर अपने प्रतिष्ठा और सम्मान को बरकरार रखने के लिए आपको अपने कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट में सिर्फ वास्तविक और लाइसेंस प्राप्त सॉफ्टवेयर का ही इस्तेमाल करना चाहिए । वहीं आापको पायरेटेड प्रोग्राम्स ( pirated programmes ) के इस्तेमाल से बचना चाहिए , भले ही वो खरीदने में सस्ते और आसान क्यों ना हो ।

कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट का नाम रखने में दें विशेष ध्यान

आपको अपने कंप्यूटर ट्रेनिंग सेंटर के पहले नाम के आगे कुछ इस तरह के शब्दों का इस्तेमाल करना चाहिए जैसे कि – इंस्टिट्यूट ऑफ कंप्यूटर ट्रेनिंग, कंप्यूटर एजुकेशन, इनर्फोमेशन टेक्नोलॉजी, आदि । वहीं उदाहरण के लिए कुछ कंप्यूटर सेंटर के नाम इस प्राकर हैं –WebTech Computer Education, Basic Computer Skills Learning Center, SoftTech Computer Education Training center आदि

अपने कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट का नाम रखते वक्त आपको यह ध्यान रखना चाहिए कि आपके कंप्यूटर कोचिंग सेंटर का नाम किसी अन्य रजिस्टर्ड ट्रेडमार्क से मैच नहीं हो, क्योंकि किसी अन्य संस्था के मालिकों की अनुमति के बिना उनके रजिस्टर्ड ट्रेडमार्क का इस्तेमाल करना ट्रेड मार्क और कॉपी राइट लॉ के मुताबिक कानूनी तौर पर अवैध और अपराधिक माना जाता है ।

कंप्यूटर की ट्रेनिंग के लिए सक्षम और योग्य टीचर्स की करें नियुक्ति

कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट की शुरुआत करने के लिए सबसे महत्वपूर्ण यह है कि आप एक योग्य और सक्षम कंप्यूटर टीचर्स की नियुक्ति करें, क्योंकि अगर आपके इंस्टिट्यूट में योग्य टीचर होंगे तो वे बच्चों को अच्छी तरह से कंप्यूटर से संबंधित गुणवत्तापूर्ण जानकारी उपलब्ध करवा पाएंगे और विद्यार्थियों को बारीकी से समझा पाएंगे । इसके साथ ही हर तरह के स्टूडेंट्स को अच्छी तरह हैंडल कर सकेंगे ।

कंप्यूटर कोचिंग इंस्टिट्यूट में टीचर्स की नियुक्ति आपके कंप्यूटर इंस्टिट्यूट में उपलब्ध सिलेबस और कोर्सेस के आधार पर भी की जाती है । वहीं आप किसी कंप्यूटर टीचर की पढ़ाने की वास्तविक क्षमता और योग्यता का अंदाजा डेमो क्लास लेकर लगा सकते हैं । इसके साथ ही टीचर किसी भी कंप्यूटर इंस्टिट्यूट का मुख्य आधार होता है , इसलिए टीचर्स की नियुक्ति काफी समझदारी से करें , वहीं अगर आपको कंप्यूटर की अच्छी जानकारी है तो यह आपके ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट के लिए और भी अधिक अच्छा होगा ।

मान्यता प्राप्त कंप्यूटर कोर्सेस का करें चुनाव

अपने कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट के लिए कोर्सेस का चयन आपके संस्थान की इंफ्रास्ट्रक्चर, सिस्टम, मशीन और टीचर्स पर काफी निर्भर करता है । वहीं आपको अपने कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट के लिए मान्यता प्राप्त कंप्यूटर एजुकेशन ट्रेनिंग कोर्सेस का ही चयन करना चाहिए । आईटी कंप्यूटर कोर्सेस और बेसिक कंप्यूटर एजुकेशन कोर्सेस जैसे कि – (Internet, paint, MS Office, DFA, DCA, ADCA आदि

जबकि कंप्यूटर टाइपिंग कोर्सेस जैसे कि हिन्दी टाइपिंग, इंग्लिश टाइपिंग, आदि और कंप्यूटर प्रोगामिंग कोर्सेस जैसे कि C++, Java, oracle, आदि इसके अलावा DTP कोर्सेस, वेबसाइट डिजाइनिंग लैंग्वेज कोर्सेस, कम्प्यूटर साक्षरता अभियान ट्रेनिंग कोर्सेस, कंप्यूटर हार्डवेयर और नेटर्वकिंग कोर्सेस समेत नॉन आईटी कोर्सेस का भी आप चयन कर सकते हैं ।

यह भी पढ़े : School Kaise Khole?

कंप्यूटर इंस्टीट्यूट रजिस्ट्रेशन की जरूरी बातें-

  • कंप्यूटर इंस्टीट्यूट खोलने के लिए सबसे पहले तो आपके पास एक अच्छा हॉल होना चाहिए जहां सिस्टम लगाया जा सके।
  • कंप्यूटर इंस्टीट्यूट के लिए 3-10 कंप्यूटर तो होने ही चाहिए पूरे सिस्टम सहित।
  • कंप्यूटर इंस्टीट्यूट खोलने के लिए आपके पास स्वंम कंप्यूटर रिलेटेड जानकारी और सर्टिफिकेट होंना चाहिए।
  • कंप्यूटर इंस्टीट्यूट के लिए हॉल अच्छे एरिया में होना चाहिए और शोर – शराबा वाले एरिया से काफी दूर।
  • इंस्टीट्यूट किसी समूह अथबा सोसायटी से जुड़ा होना चाहिए।

कंप्यूटर इंस्टीट्यूट रजिस्ट्रेशन के प्रकार

आपको किस तरह से कंप्यूटर इंस्टीट्यूट ये आप पर निर्भर करता है क्योंकि कंप्यूटर इंस्टीट्यूट के रजिस्ट्रेशन दो तरह से होते हैं जैसे-

1- फ्रैंचाइजी के द्वारा

ये तरीका भी काफी प्रचलित है जिसके द्वारा आपको किसी बड़े इंस्टीट्यूट अथबा किसी कंपनी कि फ्रेंचाइजी खरीदनी होगी जिसके बाद उनके कुछ प्रोसेस कंप्लीट होने के बाद आप उनकी कंपनी की शाखा के रूप में अपना इंस्टीट्यूट चला पाएंगे और यदि ऐसे में आपको किसी भी तरह की लीगल प्रॉब्लम आ रही है तो मैंन ब्रांच अर्थात कंपनी ही उसकी जिम्मेदारी लेगा जिससे आपको ज्यादा कुछ करने की जरूरत नही होगी हां इस फ्रेंचाइजी की एक वेलिडेशन डेट होती है जिसके बाद आप को पुनः फ्रेंचाइजी खरीदनी होगी और फिर उसी तरह काम कर सकते हैं,ऐसे में सर्टिफिकेट और बाकी व्यवस्थाओं को कम्पनी स्वमं पूरा करेगी।

लेकिन इसके लिए वो कंपनी आपसे मनमानी फीस बसूल कर सकती है और हो सकता है कि सर्टिफिकेट और कागज देने में समय भी लगाए ,कोई भी कंपनी आपसे लगभग 10000 रुपए -100000 रुपए तक ले सकती है और जो आपको दुबारा भी खरीदनी होती है ।

2- सोसाइटी संचालित और उधोग आधार रजिस्ट्रेशन द्वारा

ये रजिस्ट्रेशन आपका पूर्णता वैलिड माना जाता है क्योंकि इस तरीके से आप बिना किसी कंपनी की शाखा बने सीधे एक इंस्टीट्यूट के रूप में सरकारी आंकड़ों में रजिस्टर हो जाते हैं,इसके लिए आपको सबसे पहले एक सोसाइटी या ट्रस्ट बनाना होगा,इसके बाद उस ट्रस्ट को एक कंपनी के रूप में उधोग आधार में रजिस्टर करना होगा और फिर ISO 9001-2008 प्रमाणित कराना होगा ,इसके बाद आपका इंस्टीट्यूट स्तर सरकारी रजिस्टर हो जाएगा।

1- सोसायटी

जिसमें आप 7 ,15 या फिर अधिक व्यक्तियों को जोड़ सकते हैं,सोसायटी बनाने के लिए आप किसी लॉयर से भी सम्पर्क कर सकते हैं या सीधे किसी सरकारी चिट-फंड रजिस्ट्रार कार्यालय में जाकर रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं,बैसे सोसायटी पैसों और कोचिंग इंस्टीट्यूटस के लिए अधिकतर बनाई जाती है।

  • सोसायटी आप उसी नाम से बनाए जिस नाम से कंप्यूटर इंस्टीट्यूट खोलना चाहते हैं।
  • आप को सारे मेम्बर्स को साथ ले जाना होगा।
  • सारे मेम्बर आधार कार्ड और एक और पते का प्रमाण हो।
  • आप बकील से हलफनामा और बाकी कागज तैयार करा लें। 
  • सोसायटी रजिस्ट्रेशन की फीस 2000 रुपये पड़ती है और रिनोवल कि 1000 रुपए।
  • सोसायटी रजिस्ट्रेशन सिर्फ 5 वर्षो के लिए ही वैलिड है इसके बाद आपको रिनोवल कराना होगा।

2- उधोग आधार रजिस्ट्रेशन-

आवश्यक डाकुमेंट – आपकी सोसाइटी के पता ,नाम और उद्देश्य के डॉक्यूमेंट,आपके आधार ,पैन कार्ड बैंक डिटेल्स भी देने होंगे।

उद्योग आधार एक उद्योग के रजिस्ट्रेशन की साइट है जहाँ किसी भी व्यपार को रजिस्टर किया जा सकता है और उस व्यापार के लिए प्रमाणन सर्टिफिकेट भी आसानी से मिल जाएगा बिना किसी चार्ज के।

  • आप चाहे तो ये फार्म आप किसी भी जन सेवा केंद्र से भरा सकते हैं ।
  • स्वमं फार्म भरने के लिए आपको सबसे पहले https://msme.gov.in वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने एक पेज खुल जाएगा जो उधम रजिस्ट्रेशन का सरकारी पेज होगा।
  • यहां पर आपको नीचे कुछ ऑप्शन बॉक्स की तरह दिए गए होंगे ।
  • वही एक ऑप्शन होगा Udyam Registration (Online Registration for MSME) 
  • जिस पर क्लिक करके आपके सामने एक फार्म खुलेगा।
  • नये रजिस्ट्रेशन के लिए ऊपर वाले ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • उसके बाद नए पेज में आपको अपना आधार कार्ड नंबर और आधार कार्ड पर लिखा नाम भरना होगा ।
  • उसके बाद टर्म को टिक करके OTP जनरेट पर क्लिक करें।
  • याद रहे कि आपका आधार कार्ड मोबाइल नंबर से रजिस्ट्रर होना चाहिए।
  • OTP डालने के बाद नया पेज खुलेगा जहां पर आपको  ऑर्गनाइजर का प्रकार चुनना है जहां आप सोसायटी चुन सकते हैं,फिर अपना पैन कार्ड देना है।
  • आपको यहां पर एक एक करके सारे कालम भरने हैं
  • यहां आपको अपनी सोसायटी के सारे मेंबर की जानकारी भी भरनी होगी।
  • आपको यहां पर बैंक सम्बन्धी जानकारी भी देनी होगी।
  • आपको अपनी सोसायटी का उद्देश्य भी बताना होगा।
  • यदि आपका सालाना टार्न ओवर 20 लाख से अधिक है तो आपको GST नंबर भी लेना पड़ेगा और रिटर्न्स भी समय-समय पर भरने होंगे।
  • आपको इस जानकारी के आधार पर एल प्रमाणपत्र जारी कर दिया जाएगा।

3- ISO सर्टिफिकेट

अब बात आती है ISO सर्टिफिकेट की जिसके लिए आपको कुछ फीस भी देनी होगी, चूंकि फीस में बदलाव होते रहते हैं और ISO सर्टिफिकेट प्रमाणन के लिए समय भी अधिक लगता है चूंकि ये एक लंबा प्रोसेस है इसके लिए आप जन सेवा केंद्र से ऑनलाइन अप्लाई भी कर सकते हैं ।

ISO सर्टिफिकेशन से लाभ

  • कंप्यूटर इंस्टीट्यूट के लिए आपको NON IAF ISO प्रमाणन लेना होगा।
  • ISO के द्वारा आप बच्चो को बता सकते है कि आपका इंस्टीट्यूट ISO प्रमाणित है जिससे अच्छ इम्प्रेशन पड़ता है।
  • आपको आपके इंस्टीट्यूट के लिए एक सरकारी सर्टिफिकेट मिल जाता है।
  • ये आप किसी दलाल या जानकार के माध्यम से ऑफलाइन भी करा सकते हैं।

इन तीनो सर्टिफिकेट को लेने के बाद आपका इंस्टीट्यूट एक सरकारी लेबल पर प्रमाणित इंस्टिट्यूट हो जाता है, जहां आपको किसी भी तरह के कोई प्रॉब्लम का डर नही रहता और आप अपने खुद के इंस्टीट्यूट के नाम पर सर्टिफिकेट जारी कर सकते हैं।

यह भी पढ़े : नौकरी पाने के लिए बेस्ट कंप्यूटर कोर्स?

कंप्यूटर ट्रेनिंक सेंटर का सरकारी सबंध – government affiliation for computer institute in Hindi

क्या आपका कंप्यूटर ट्रेनिंग सेंटर AICSM ( all india computer saksharta mission ) के अंतगर्त Apply करने के योग्य है? अगर हाँ तो आपको इसके लिए जरूर अप्लाई करना चाहिये क्योकि इससे ना केवल आपको बल्कि आपके छात्रों को भी फायदा होगा इससे साथ – साथ आप अपनी ब्रांड बनाएं और कोर्स पुरा होने के पश्चात अपने Students को Certificate भी प्रदान करें ।

कंप्यूटर कोचिंग सेंटर खोलने के लिए लोन – Loan for Computer Training Center in hindi

किसी भी बिजनेस की शुरुआत के लिए आपको धन की जरूरत अवश्य पडती है ताकि आप आधारभूत सामान को खरीद कर अपने बिजनेस को Run कर सकें इसके अलावा दूसरे संसाधनों को जुटाने के लिए भी आपके पास पर्याप्त धन की व्यवस्था होना चाहिये । अगर अभी आपके पास आवश्यक धन नहीं है तो आप Bank से लोन लेकर भी धन की पूर्ति कर सकते हैं आज कल सरकार भी कई कार्यक्रमों और योजनाओं के तहत व्यापार शुरू करने के लिए लोन प्रदान करती हैं ।

Computer Training Center खोलने में इन्वेस्टमेंट कितनी लगती है

अगर बात करें इन्वेस्टमेंट की तो कंप्यूटर सेंटर खोलने में ज्यादा इन्वेस्टमेंट नहीं लगता है। आपका इनवेस्टमेंट बस तभी लगता है जब आप कोई फ्रेंचाइजी लेते हैं और उनको जो आपने पेमेंट करनी होती है। तो इसके अलावा आपके कंप्यूटर लैब को मेंटेन करने में, कंप्यूटर रखने में इन्हीं सब चीजों में इन्वेस्टमेंट लगता है। अगर आपको काम पैसे में कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट खोलना है तो आप गोवेरमेंट की फ्रेंचाइजी लेकर सिर्फ 50 से 60 हजार रुपये में अपना कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट खोल सकते है

Computer Training Institute से प्रॉफिट कितना हो सकता है

किसी भी बिजनेस को शुरू करने का मुख्य कारण अधिक से अधिक लाभ कमाना होता है और जैसा की आप जानते होंगे, कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट Service sector के अंतगर्त आता है सर्विस सेक्ट के अंतगर्त सफल होने के लिए आपको अच्छी से अच्छी सेवा को, सही समय पर, सही जगह और सही व्यक्ति को उपलब्ध करानी होती है तभी आपको इसका पूरा लाभ मिल सकता है अगर आप यह सब करने में सफल रहते हैं तो आपकी महीने की कमाई लाखों में हो सकती है ।

वही हम Computer Training Institute से रिटर्न की बात करेंगे तो अगर आपका कंप्यूटर सेंटर चल पड़ा तो आपको बहुत सारे प्रॉफिट मिलेंगे। क्योंकि कंप्यूटर सीखने का तो कोई सीजन होता नहीं है जब भी लोगों को टाइम मिलता है तभी लोग सीखने चले जाते हैं। चाहे स्टूडेंट हो या किसी गवर्नमेंट सेक्टर में जॉब करने वाले प्राइवेट सेक्टर में जॉब करने वाले। सब जगह कंप्यूटर की नॉलेज अनिवार्य कर दी गई है इसलिए इस बिजनेस में आपको बहुत प्रॉफिट मिल सकता है।

यह भी पढ़े : कंप्यूटर और लैपटॉप रिपेयरिंग बिजनेस कैसे शुरू करें?

कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट की मार्केटिंग और एडवरटाइजमेंट पर दें विशेष ध्यान

अगर आप नए कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट की शुरुआत करते हैं, तो आपको इसके लिए मजबूत मार्केटिंग करने की जरूरत है । आप अपने कंप्यूटर इंस्टिट्यूट का विज्ञापन न्यूज पेपर, न्यूज चैनल, लोकल कैबल टीवी , रेडियो समेत बड़़ी ऑनलाइन वेबसाइट पर दे सकते हैं । इसके साथ ही आप सोशल मीडिया साइट्स के माध्यम से भी अपने कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट की मार्केटिंग कर सकते हैं 

जहाँ तक कंप्यूटर ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट की बात है तो आप इसका सफलतापूर्वक Online प्रचार कर सकते हैं इसका सबसे बड़ा फायदा यह होगा कि आपको टारगेट कस्टमर मिलेगे, ज्यादा पैसा खर्च नहीं होगा और आपको ज्यादा चीजों को भी मैनेज नही करना पडेगा आप खुद अच्छी नॉलेज लेकर अपने बिजनेस का Online प्रचार कर सकते हैं या फिर किसी Agency को भी हायर कर सकते हैं जो आपके लिए Social media platforms पर अच्छे से मार्केटिंग करेंगी

FAQ :

कंप्यूटर सेंटर खोलने के लिए क्या करें?

अगर आपको खुद का कंप्यूटर एजुकेशन सेंटर खोलना है तो इसके लिए सबसे पहले आपको मार्केट रिसर्च करना होगा उसके बाद अपना बिजनेस प्लान बनाना होगा, एक अच्छी सी स्थान का चयन करना होगा, आपको कुछ फर्नीचर की जरूरत होगी, कंप्यूटर की ट्रेनिंग के लिए सक्षम और योग्य टीचर्स को नियुक्ति करना होगा, कंप्यूटर इंस्टीट्यूट रजिस्ट्रेशन कराना होगा यह सब प्रोसेस से गुजरने के बाद आप अपना कंप्यूटर सेंटर आसानी से खोल सकते है

क्या कंप्यूटर प्रशिक्षण संस्थान लाभदायक है?

जी हाँ कंप्यूटर प्रशिक्षण संस्थान बहुत ही लाभदायक व्यवसाय में से एक माना जाता है

कंप्यूटर सेंटर क्या है?

Computer Coaching Center/Institute वह स्थान होता है जहां पर बच्चों को कंप्यूटर ऑपरेट करना और कंप्यूटर सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर के बारे में सही जानकारी दी जाती है जैसे MS Office, Tally, Java, Catia, Typing Tutors, Oracle, Visual Basic, Flash, Auto Card, Page Maker, Corel Draw इत्यादि

कंप्यूटर में सबसे अच्छा कोर्स कौन सा होता है?

कंप्यूटर में सबसे अच्छा कोर्स की बात करें तो वो यह है Basic Computer Course (BCC), DCA Course, DCP कोर्स, PGDCA कोर्स, Web डिजाइनिंग, Graphic डिज़ाइन, Microsoft ऑफिस,Tally.

निष्कर्ष

अगर आप ऊपर लिखी गई बातों को ध्यान में रखकर Computer training institute की शुरुआत करेंगे तो निश्चय ही आपको अपनी संस्थान को इस कॉम्प्टीशन के दौरान खुद को स्थापित करने में आसानी होगी धन्यवाद |

अन्य पढ़े :

Medical Store कैसे खोले 

घर बैठे ऑनलाइन बिजनेस कैसे करें

Internet Cyber Cafe बिजनेस कैसे शुरू करें

59 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published.

error: